2 months ago
COVID-19 : बाहर सँ लानलौ तरकारी व समान के उपयोग के सुरक्षित तरीका की छेकै ?
3 months ago
अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ शामिल करबाबै ल मुख्यमंत्री, विधि मंत्री सँ माँग
3 months ago
जनगणना मँ अपनौ नामौ सथें मातृभाषा के कॉलम मँ अंगिका जरूर दर्ज करैइयै : अंगिका निवेदन पत्र, नेपाली गीत गोष्ठी
3 months ago
अंगिका क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै आरू बिहार केरौ दोसरौ राजभाषा के रूपौ मँ मान्यता दिलाबै तलक जारी रहतै संघर्ष – प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ
3 months ago
अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली नेपाली गीत-गोष्ठी आयोजित करतै कार्यक्रम

Post Tagged with: "Dr. Ambdekar"

सब क मताधिकार दिलाबै के लम्बा लड़ाई असकल्ले लड़लौ रहै डॉ. आम्बेडकर ।

सब क मताधिकार दिलाबै के लम्बा लड़ाई असकल्ले लड़लौ रहै डॉ. आम्बेडकर ।

सब क मताधिकार दिलाबै के लम्बा लड़ाई असकल्ले लड़लै रहै डॉ. आम्बेडकर । । डॉ. आम्बेडकर कहलकै कि जों कोनो सरकार, जनता लेली क़ानून बनाबै छै आरू ई चाहै छै कि जनता ओकरौ पालन करै त ऐसनौ सरकार के चयन मँ जनता के भागीदारी होना बहुत ज़रूरी छै ।   27 जनवरी 1919 क आम्बेडकर नँ साउथ बोरो कमेटी के सामने वयस्क मताधिकार के बात कहलै छेलै । 1928 मँ भारत ऐलौ साइमन कमीशन के समक्ष बाबा साहब आम्बेडकर नँ हर वयस्क नागरिक क मताधिकार के प्रतिवेदन देलै रहै । साल 1931, 1932 आरू 1933 मँ होलौ पहलौ, दोसरौ आरू तेसरौ गोलमेज सम्मलेन मँ भी लगातार इ बात पर ज़ोर देलकै कि हर वयस्क नागरिक क मताधिकार मिलै ।   वयस्क सिनी क मताधिकार पर भारत मँ भी नेता सिनी मँ मतभेद रहै । जबै गोलमेज सम्मेलनौ मँ आम्बेडकर सब लेली मताधिकार के बात करै रहै त भारत के ही आरू नेता एकरा चरणबद्ध तरीका… Read More

error: Content is protected !!