3 months ago
उधाडीह गाँव मँ मनैलौ गेलै शौर्य चक्रधारी अंग गौरव शहीद निलेश कुमार नयन केरौ शहादत दिवस | New in Angika
3 months ago
गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड मँ जग्घौ बनाबै लेली आय 122 भाषा के गाना कार्यक्रम मँ अंगिका मँ भी गैतै पुणे केरौ मंजुश्री ओक | News in Angika
4 months ago
अंगिका भाषा क आठमौ अनुसूची मँ दर्ज कराबै लेली दिसम्बर मँ दिल्ली मँ होय वाला आन्‍दोलन क सफल बनाबै के करलौ गेलै आह्वान | News in Angika
4 months ago
अंगिका आरू हिन्दी केरौ वरिष्ठ कवि व गीतकार, कविरत्न महेन्द्र प्र.”निशाकर” “दिनकर सम्मान” सँ सम्मानित  | News in Angika Angika
4 months ago
चाँद पर विक्रम लैंडर के ठेकानौ के लगलै पता, पर अखनी नै हुअय सकलौ छै संपर्क | ISRO found Vikram on surface of moon, yet to communicate | Chandrayaan 2 | News in Angika

Post Tagged with: "bihar"

बाल विवाह आरू दहेज प्रथा के खिलाफ एकजुट होय क॑ मेटाबै के नीतिश कुमार के आहवान

बाल विवाह आरू दहेज प्रथा के खिलाफ एकजुट होय क॑ मेटाबै के नीतिश कुमार के आहवान

पटना । आय बिहार केरऽ मुख्य मंत्री केरऽ हाथ स॑ बाल-विवाह आरू दहेज प्रथा के खिलाफ सशक्त राज्यव्यापी महाअभियान के आगाज होलै । गाँधी जयंती प॑ ई अभियान क॑ शुभारंभ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना स्थित सम्राट अशोक कन्वेंशन सेंटर केरऽ बापू सभागार म॑ करलकै । बिहार केरऽ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार न॑ आय गांधी जयंती केरऽ अवसर प॑ कहलकै कि जेना बिहार न॑ शराबबंदी लेली शपथ ल॑ करी क॑ एकरा सफल बनैलकै, वेन्हैं बाल विवाह आरू दहेज प्रथा के खिलाफ भी एकजुट होय क॑ ई सब कुरीति क॑ समाज स॑ मेटाना छै । हुनी कहलकै कि अब॑ बिहार म॑ नै त॑ कोय बेटी जलतै आरू नै ही बाल विवाह होतै । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार न॑ कहलकै कि २१ जनवरी क॑ बाल विवाह, दहेज प्रथा आरू शराब सेवन के खिलाफ मानव श्रृंखला बनैलऽ जैतै । ई मौका प॑ मुख्यमंत्री बाल-विवाह आरू दहेज उन्मूलन लेली जागरूकता रथ आरू कला जत्था क॑ झंडी दिखैलकै । ई दूनू जत्था पूरा… Read More

क्या आज प्रधानमंत्री अंगिका को अष्टम अनुसूची में शामिल करने की घोषणा करेंगें?

क्या आज प्रधानमंत्री अंगिका को अष्टम अनुसूची में शामिल करने की घोषणा करेंगें? —  कुंदन अमिताभ — यह एक अनबूझ पहेली सी ही है कि बिहार, झारखंड, पं. बंगाल के लगभग छह करोड़ भारतीयों द्वारा बोली जाने वाली भाषा अंगिका को अब तक भारतीय संविधान की अष्टम अनुसूची में शामिल नहीं किया गया है. जबकि वास्तविकता यह है कि विश्व के प्राचीनतम भाषाओं में से एक अंगिका भारत के अलावा नेपाल, कंबोडिया, वियतनाम, लाओस आदि देशों में बोली जाने वाली एक अंतर्राष्ट्रीय भाषा है. यह एक अत्यंत गंभीर और विचारणीय विषय है कि आजादी के इतने बरसों के बाद भी एक विशाल जनसमुदाय की भाषा अंगिका अपने वाजिब हक से वंचित क्यों है. पर्याप्त पात्रता और ठोस आधार होने के बावजूद अंगिका को अष्टम अनुसूची में शामिल करने में भारत सरकार द्वारा किया जा रहा अप्रत्याशित विलंब समझ से परे है. क्या आज भागलपुर में आयोजित होने वाली परिवर्तन रैली में माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र… Read More

जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान न॑ बिहार अंगिका अकादमी मं॑ सेवा प्रदान करै वास्तें अनुशंसा करलकै 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम

जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान न॑ बिहार अंगिका अकादमी मं॑ सेवा प्रदान करै वास्तें अनुशंसा करलकै 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम

पटना :  जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान , पटना न॑ नवगठित बिहार अंगिका अकादमी मं॑ सेवा प्रदान करै वास्तें उम्र केरऽ वरीयता केरऽ आधार पर 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम अनुशंसित करी क॑ बिहार सरकार कं॑ भेजन॑ छै. जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान  केरऽ महासचिव, अंगिका केरऽ वरिष्ठ साहित्यकार आरू पिछला 46 साल सं॑ लगातार प्रकाशित होय रहलऽ अंगिका भाषा के पत्रिका “अंग माधुरी” केरऽ सम्पादक डा. नरेश पांडेय चकोर न॑ फोन करी क॑ इ सूचना अंगिका.कॉम क॑ आज देलकै. डा. चकोर न॑ बतैलकै कि दू बरस पूर्व  प्रकाशित “अंगिका साहित्य – अब तक” पुस्तक केरऽ आधार पर उपरोक्त अनुशंसा करलऽ गेलऽ छै. पिछला 56 साल सं॑ लगातार अंगिका भाषा साहित्य सृजन मं॑ जुटलऽ डा. नरेश पांडेय चकोर न॑ बतैलकै कि 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम अनुशंसित करी क॑ बिहार सरकार कं॑  इ लेली भेजलऽ गेलऽ छै जेकरा सं॑  बिहार अंगिका अकादमी केरऽ गठन के सिलसिला मं॑ ऐकरऽ कार्यकारिणी समिति आरू साधारण समिति केरऽ सदस्य केरऽ सूची बनाबै मं॑ सरकार क॑ सुविधा हुए॑ सक॑. साथैं-साथ  बिहार अंगिका अकादमी… Read More

नरेंद्र मोदी कॆ फिर सॆं बधाई दॆतॆं नीतीश नॆ मांग करलकै बिहार लेली स्‍पेशल पैकेज के

नरेंद्र मोदी कॆ फिर सॆं बधाई दॆतॆं नीतीश नॆ मांग करलकै बिहार लेली स्‍पेशल पैकेज के

पटना: नरेंद्र मोदी आज भारत केरॊ प्रधानमंत्री पद के शपथ लयलॆ जाय रहलॊ छै. इ अवसर पर नरेंद्र मोदी कॆ फिर सॆं बधाई दॆतॆं नीतीश नॆ बिहार लेली  स्‍पेशल पैकेज के मांग करनॆ छै. नीतीश कुमार नॆ उम्‍मीद जाहिर करनॆ छै कि नया सरकार बिहार केरॊ मसला पर संजीदा होय करी कॆ विचार करतै. हुनी कहलकै  कि बिहार कॆ विशेष राज्‍य केरॊ दर्जा आरू विशेष पैकेज दै पर विचार करलॊ जाना चाहियॊ. नीतीश नॆ फेसबुक पर मुख्यमंत्री पद छोड़ै के कारण भी बतैनै छै. हुनी लिखने छै, ‘मुझे आम चुनावों के नतीजों में मेरी मेहनत की मजदूरी नहीं मिली। मैंने सोचा कि मुझे एक बार फिर आपका विश्वास जीतने की जरूरत है और मैंने नैतिक आधार पर इस्तीफा दे दिया.’ नीतीश केरॊ मुताबिक, ‘मैंने कुर्सी छोड़ी है लेकिन बिहार के लिए अपनी जिम्मेदारी नहीं छोड़ी. मैं एक बार फिर आपका विश्वास और मजबूत तथा समृद्ध बिहार एवं जीवंत भारत बनाने के लिए आपका समर्थन जीतूंगा.’ नीतीश नॆ कहनॆ छै… Read More

error: Content is protected !!