Post Tagged with: "angika department"

अंगिका विभाग मँ अंगिका के आदि कवि ‘सरहपा’ केरौ जयंती समारोहपूर्वक मनैलौ गेलै | Birth Anniversary of legendary Angika Poet Sarahpa was celebrated in Angika Department of Tilkamanjhi Bhagalpur University

अंगिका विभाग मँ अंगिका के आदि कवि ‘सरहपा’ केरौ जयंती समारोहपूर्वक मनैलौ गेलै | Birth Anniversary of legendary Angika Poet Sarahpa was celebrated in Angika Department of Tilkamanjhi Bhagalpur University

तिलकामाँझी भागलपुर विश्वविद्यालय केरौ अंगिका विभाग मँ अंगिका के आदि कवि ‘सरहपा’ केरौ जयंती समारोहपूर्वक मनैलौ गेलै ।| Birth Anniversary of legendary Angika Poet Sarahpa was celebrated in Angika Department of Tilkamanjhi Bhagalpur University. भागलपुर, २८ जुलाई, २०१९ । काल २७ जुलाय क तिलकामाँझी भागलपुर विश्वविद्यालय केरौ  स्नातकोत्तर अंगिका विभाग मँ अंगिका के आदि कवि ‘सरहपा’ केरौ जयंती समारोहपूर्वक मनैलौ गेलै । तिलकामाँझी भागलपुर विश्वविद्यालय केरौ  स्नातकोत्तर अंगिका विभाग व अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच केरौ संयुक्त तत्वाधान मँ आयोजित ई कार्यक्रम के अध्यक्षता अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. मधूसूदन झा नँ करलकै । कार्यक्रम केरौ उद्घाटन मुख्य अतिथि अनिरूद्ध प्रभास , प्रेम प्रभाकर, डॉ. आमोद कुमार मिश्र आरू मंच के महामंत्री हीरा प्रसाद हरेंद्र नँ सामूहिक रूप सँ दीप प्रज्वलित करी क करलकै । मंच संचालन गीतकार राजकुमार नँ करलकै । समारोह क संबोधित करै वाला मँ डॉ. मधूसूदन झा, हीरा प्रसाद हरेंद्र, अनिरूद्ध प्रभास, डॉ. अमरेंद्र, सुधीर प्रोग्रामर, डॉ. आमोद… Read More

सरकार केरऽ अनुमति के बगैर ही चली रहलऽ छै तिलकामाँझी भागलपुर विश्वविद्यालय केरऽ अंगिका विभाग !

सरकार केरऽ अनुमति के बगैर ही चली रहलऽ छै तिलकामाँझी भागलपुर विश्वविद्यालय केरऽ अंगिका विभाग !

Read this News in English /  इस समाचार को हिंदी में पढ़ें  / ई समाचार क॑ अंगिका म॑ पढ़ऽ भागलपुर । बिहार सरकार केरऽ अनुमति के बगैर ही तिलकामाँझी भागलपुर केरऽ अंगिका विभाग चली रहलऽ छै ! ई कहना छेकै बिहार अंगिका अकादमी केरऽ अध्यक्ष, डॉ. (प्रो.) लखनलाल सिंह आरोही केरऽ । डॉ. आरोही न॑ अपनऽ फेसबुक https://www.facebook.com/drlakhanlall.arohi पर लिखल॑ छै कि पी. जी. अंगिका विभाग, भागलपुर केरऽ बंद होय के संभावना के खबर सें अंगिकाभाषी चिंतित होय उठलऽ छै । हुनी अंगिका विभाग केरऽ विभागाध्यक्ष व समन्वयक प्रो. मधुसूदन झा क॑ अंगिका विभाग केरऽ ई नियति केरऽ वजह बतलैल॑ छै । बिहार अंगिका अकादमी केरऽ अध्यक्ष के अनुसार सरकार सें अंगिका विभाग क॑ चलाबै के अनुमति, विभाग लेली प्रोफेसर व कर्मचारी लेली सृजित पदऽ के स्वीकृति आरू कोर्स के स्वीकृति प्राप्त नै होलऽ छै । उनकऽ अनुसार कुलाधिपति सें खाली कोर्स केरऽ स्वीकृति प्राप्त छै । बिहार अंगिका अकादमी के अध्यक्ष  न॑ आरोप लगैतें हुअ॑… Read More

error: Content is protected !!