Post Tagged with: "ang"

सर्वसम्मति स॑ आठ महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित करी क॑ अंगिका के विकास लेली  तय करलऽ गेलै आगू के रणनीति

सर्वसम्मति स॑ आठ महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित करी क॑ अंगिका के विकास लेली तय करलऽ गेलै आगू के रणनीति

भागलपुर। अंगिका महोत्सव २०१९ केरऽ अंतिम दिन सर्वसम्मति स॑ आठ महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित करी क॑ अंगिका विकास लेली आगू के रणनीति तय करलऽ गेलै । भागलपुर विवि केरऽ डीएसडब्ल्यू डॉ. योगेंद्र न॑ प्रस्ताव पढ़लकै आरू प्रशाल म॑ उपस्थित अंगिका साहित्यकार, कलाकार, अंगिका प्रेमी सिनी न॑ सर्वसम्मति स॑ पास करलकै । 1.अंगिका भाषा क॑ संविधान केरऽ आठमऽ अनुसूची म॑ सम्मिलित कराबै लेली हर स्तर प॑ हर संभव प्रयास करलऽ जाय आरू एकरा लेली जुझारू व सक्षम व्यक्ति सिनी के एगो ऐसनऽ सशक्त कमेटी बनैलऽ जाय जे ई विषय म॑ मैथिली के अधिकारी आरू दुष्चक्र क॑ तोड़तें हुअ॑ अंगिका क॑ ओकरऽ वाजिब अधिकार दिलाबै आरू आठमऽ अनुसूची म॑ शामिल होय के मार्ग प्रशस्त कर॑ सक॑ । 2. ई महोत्सव सर्वसम्मति स॑ बिहार सरकार स॑ ई माँग करै छै कि प्राथमिक स्तर स॑ इंटरमीडिएट आरू उच्च शिक्षा तलक अंगिका भाषा म॑ पठन-पाठन के व्यवस्था सुनिश्चित कर॑ । 3. ई महोत्सव सर्वसम्मति स॑ अंगिका क्षेत्र केरऽ २६ जिला केरऽ… Read More

अंग-अंगिका के विकास म॑ लगलऽ संस्था सिनी मिली-जुली क॑ करतै अंगिका महोत्सव के नियमित आयोजन

अंग-अंगिका के विकास म॑ लगलऽ संस्था सिनी मिली-जुली क॑ करतै अंगिका महोत्सव के नियमित आयोजन

सुलतानगंज । अंग-अंगिका के विकास म॑ लगलऽ संस्था सिनी मिली-जुली क॑ अंगिका महोत्सव के नियमित रूप स॑ आयोजन करै प॑ विचार करी रहलऽ छै । एगो प्रेस-विज्ञप्ति जारी करी क॑ जानकारी देलऽ गेलऽ छै कि सब संस्था द्वारा मिली-जुली क॑ अंगिका महोत्सव क॑ नियमित रूप स॑ आयोजन करै प॑ विचार करै लेली आगामी २३ दिसंबर क॑ भागलपुर म॑ एगो बैठक केरऽ आयोजन करलऽ गेलऽ छै । बर्षो पहल॑ सरकारी स्तर पर अंग-महोत्सव केरऽ आयोजन होय छेलै । जेकरा स॑ अंगिका साहित्यकार, पत्रकार, कवि सिनी म॑ नयऽ ऊर्जा के संचार होय छेलै । लोग सब अंगिका के विकास लेली अधिक से अधिक सोच॑ पारै छेलै । साहित्यकारऽ सिनी के सहयोग सें ही साल २००७ ई. म॑ सैंडिस कंपाउंड म॑ शायद आखरी बार अंग-महोत्सव आयोजित होलऽ छेलै । एकरऽ बाद बहुत्ते दफा खाली प्रबुद्ध जनऽ सिनी न॑ अंगिका-महोत्सव आयोजित करै या कराबै के बात कही क॑ ताली बटोरलकै, लेकिन अखनी तलक ई संभव नै हुअ॑ पारलऽ छै… Read More

जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान न॑ बिहार अंगिका अकादमी मं॑ सेवा प्रदान करै वास्तें अनुशंसा करलकै 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम

जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान न॑ बिहार अंगिका अकादमी मं॑ सेवा प्रदान करै वास्तें अनुशंसा करलकै 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम

पटना :  जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान , पटना न॑ नवगठित बिहार अंगिका अकादमी मं॑ सेवा प्रदान करै वास्तें उम्र केरऽ वरीयता केरऽ आधार पर 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम अनुशंसित करी क॑ बिहार सरकार कं॑ भेजन॑ छै. जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान  केरऽ महासचिव, अंगिका केरऽ वरिष्ठ साहित्यकार आरू पिछला 46 साल सं॑ लगातार प्रकाशित होय रहलऽ अंगिका भाषा के पत्रिका “अंग माधुरी” केरऽ सम्पादक डा. नरेश पांडेय चकोर न॑ फोन करी क॑ इ सूचना अंगिका.कॉम क॑ आज देलकै. डा. चकोर न॑ बतैलकै कि दू बरस पूर्व  प्रकाशित “अंगिका साहित्य – अब तक” पुस्तक केरऽ आधार पर उपरोक्त अनुशंसा करलऽ गेलऽ छै. पिछला 56 साल सं॑ लगातार अंगिका भाषा साहित्य सृजन मं॑ जुटलऽ डा. नरेश पांडेय चकोर न॑ बतैलकै कि 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम अनुशंसित करी क॑ बिहार सरकार कं॑  इ लेली भेजलऽ गेलऽ छै जेकरा सं॑  बिहार अंगिका अकादमी केरऽ गठन के सिलसिला मं॑ ऐकरऽ कार्यकारिणी समिति आरू साधारण समिति केरऽ सदस्य केरऽ सूची बनाबै मं॑ सरकार क॑ सुविधा हुए॑ सक॑. साथैं-साथ  बिहार अंगिका अकादमी… Read More

error: Content is protected !!