Post Tagged with: "लखन लाल सिंह ‘आरोही’"

आरोही जी केरौ छुट्टी, सत्येन्द्र कुमार बनलै बिहार अंगिका अकादमी के कार्यकारी अध्यक्ष

आरोही जी केरौ छुट्टी, सत्येन्द्र कुमार बनलै बिहार अंगिका अकादमी के कार्यकारी अध्यक्ष

आरोही जी केरौ छुट्टी, सत्येन्द्र कुमार बनलै बिहार अंगिका अकादमी के कार्यकारी अध्यक्ष । पटना । १८ मई,२०१९ । बिहार सरकार नँ श्री सत्येन्द्र कुमार क बिहार अंगिका अकादमी केरौ कार्यकारी अध्यक्ष सह निदेशक के रूप मँ प्राधिकृत करलै छै । श्री सत्येन्द्र कुमार वर्तमान मँ बिहार अंगिका अकादमी केरौ कार्यकारी निदेशक सह सचिव के रूप मँ कार्यरत रहै। एकरौ साथ-साथ हुनी बिहार राष्ट्रभाषा परिषद केरौ प्रभारी अध्यक्ष सह निदेशक के रूप मँ कार्यरत छै । बिहार केरौ राज्यपाल के आदेश सँ सरकार केरौ उप सचिव श्री अरशद फिरोज के दसखत सँ गत १५ मई,२०१९ क जारी बिहार शिक्षा विभाग केरौ अधिसूचना मँ सत्येन्द्र कुमार क बिहार अंगिका अकादमी केरौ कार्यकारी अध्यक्ष सह निदेशक के रूप मँ प्राधिकृत करै के निर्देश देलौ गेलौ छै । अधिसूचना मँ कहलौ गेलौ छै कि अंगिका अकादमी के अध्यक्ष पद प नियमित नियुक्ति हुऐ तलक आरू अगला आदेश जारी हुऐ तलक ई कार्यकारी व्यवस्था जारी रहतै । अंगिका डॉट क़ॉम के… Read More

बिहार केरऽ प्राइमरी इसकूली मं॑ माध्यम भासा के रूप मं॑ अंगिका क॑ सामिल करलऽ जैतै : डॉ.(प्रो.) लखन लाल सिंह ‘आरोही’

बिहार केरऽ प्राइमरी इसकूली मं॑ माध्यम भासा के रूप मं॑ अंगिका क॑ सामिल करलऽ जैतै : डॉ.(प्रो.) लखन लाल सिंह ‘आरोही’

भागलपुर : अंगिका केरऽ लोकप्रिय साहित्यकार दिवंगत डॉ. नरेश पाण्डेय चकोर केरऽ स्मृति मं॑ बाथू थाना केरऽ करहरिया गाँव स्थित देवी प्रसाद महतो उच्च विद्यालय मं॑ २० फरवरी – २०१६ ई. क॑ आयोजित एकदिवसीय अंगिका महोत्सव – २०१६ संपन्न होय गेलै । जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान, पटना आरो अंगिका.कॉम, मुंबई केरऽ संयुक्त तत्वाधान मं॑ आयोजित ई कार्यक्रम मं॑ लोगऽ के भारी संख्या मं॑ उपस्थिति के बीच लगभग २४ अंगिका साहित्यकारऽ न॑ महोत्सव क॑ संबोधित करलकै आरो अंगिका कविता के पाठ करलकै । महोत्सव मं॑  अंगिका भाषा केरऽ मासिक पत्रिका, ‘अंग माधुरी’ केरऽ ४७वाँ बरस के प्रवेसांक केरऽ लोकारपन भी होलै । आपनऽ अध्यक्षीय उदगार मं॑ डॉ.(प्रो.) लखन लाल सिंह ‘आरोही’, माननीय अध्यक्ष – बिहार अंगिका अकादमी न॑ कहलकै कि अंगिका भासा बोलतं॑ रहै लेली आपनऽ भासा के प्रति हीन भावना सं॑ निजात पाबै के जरूरत छै । हुनी कहलकै कि अंगिका मं॑ उत्कृस्ट लेखन सं॑ लिखै वाला क॑ नोबेल पुरस्कार मिल॑ सकै छै । हुनी कहलकै… Read More

error: Content is protected !!