2 months ago
उधाडीह गाँव मँ मनैलौ गेलै शौर्य चक्रधारी अंग गौरव शहीद निलेश कुमार नयन केरौ शहादत दिवस | New in Angika
2 months ago
गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड मँ जग्घौ बनाबै लेली आय 122 भाषा के गाना कार्यक्रम मँ अंगिका मँ भी गैतै पुणे केरौ मंजुश्री ओक | News in Angika
3 months ago
अंगिका भाषा क आठमौ अनुसूची मँ दर्ज कराबै लेली दिसम्बर मँ दिल्ली मँ होय वाला आन्‍दोलन क सफल बनाबै के करलौ गेलै आह्वान | News in Angika
3 months ago
अंगिका आरू हिन्दी केरौ वरिष्ठ कवि व गीतकार, कविरत्न महेन्द्र प्र.”निशाकर” “दिनकर सम्मान” सँ सम्मानित  | News in Angika Angika
3 months ago
चाँद पर विक्रम लैंडर के ठेकानौ के लगलै पता, पर अखनी नै हुअय सकलौ छै संपर्क | ISRO found Vikram on surface of moon, yet to communicate | Chandrayaan 2 | News in Angika

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज केरौ निधन । Sushma Swaraj passes away at 67 | News in Angika

नई दिल्ली । ६ अगस्त, २०१९ । पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज केरौ देर शाम दिल्ली केरौ अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) मँ निधन होय गेलै । हुनका देर शाम क हार्ट अटैक होला प एम्स लानलौ गेलौ छेलै । हुनी 67 वर्ष के रहै । एम्स के सूत्र के मुताबिक सुषमा स्वराज क आय रात 10 बजी क 15 मिनट प अस्पताल लानलौ गेलौ रहै । हुनका सोझे आपातकालीन वॉर्ड मँ ल जैलौ गेलै ।

2016 मँ हुनकौ गुर्दा प्रत्यारोपित करलौ गेलौ रहै । हुनका विनम्र श्रद्धांजलि ।

मंगलवार को लोकसभा में जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 समाप्त होने और राज्य का पुनर्गठन होने पर शाम को सुषमा स्वराज ने ट्वीट करके पीएम नरेंद्र मोदी को बधाई दी था । उन्होंने लिखा था- प्रधानमंत्री जी – आपका हार्दिक अभिनन्दन । मैं अपने जीवन में इस दिन को देखने की प्रतीक्षा कर रही थी ।

इससे पहले सोमवार को राज्यसभा में उक्त संकल्प पत्र और बिल पारित होने पर सुषमा स्वराज ने गृह मंत्री अमित शाह को बधाई दी थी । उन्होंने लिखा था कि- गृह मंत्री श्री अमित शाह जी को उत्कृष्ट भाषण के लिए बहुत बहुत बधाई । इसके अलावा उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा था कि – राज्य सभा के उन सभी सांसदों का बहुत बहुत अभिनन्दन जिन्होंने आज धारा 370 को समाप्त करने वाले संकल्प को पारित करवा कर डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान को सच्ची श्रद्धांजलि दी और उनके एक भारत के सपने को साकार किया । उन्होंने यह भी लिखा था कि, बहुत साहसिक और ऐतिहासिक निर्णय. श्रेष्ठ भारत – एक भारत का अभिनन्दन ।

सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) ने अस्वस्थता के कारण ही पिछला लोकसभा चुनाव न लड़ने का फैसला लिया था । उनके इस निर्णय पर बीजेपी के ही समर्थकों में हैरानी थी । कई लोगों ने उनसे चुनाव लड़ने की अपील की थी । इस पर सुषमा स्वराज ने जवाब दिया था कि- मेरे चुनाव ना लड़ने से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता । श्री नरेंद्र मोदी जी को पुनः प्रधानमंत्री बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों को जिताने में हम सब जी जान लगा देंगे ।

सुषमा स्वराज ट्विटर पर काफी सक्रिय रहती थीं । विदेश मंत्री रहते हुए वे ट्वीटर पर शिकायत मिलते ही विदेश मंत्रालय से जुड़ीं पासपोर्ट आदि समस्याओं का समाधान कर देती थीं ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!