भागलपुर । हर वर्ष आयोजित होय वाला विक्रमशिला महोत्सव काल सें प्रारंभ होय गेलै । सरकार द्वारा इ आयोजन लेली ३० लाख रुपया देलऽ गेलऽ छै ।

बिहार सरकार केरऽ पर्यटन विभाग आरू जिला प्रशासन केरऽ सहयोग सें आयोजित ई महोत्सव केरऽ विधिवत उद्घाटन पीरपैंती केरऽ विधायक रामविलास पासवान आरू जिलाधिकारी आदेश तितरमारे,वरीय पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार न॑ यहां संयुक्त रूप सें दीप प्रज्वलित करी क॑ करलकै ।

पीरपैंती केरऽ विधायक रामविलास पासवान न॑ मुख्यमंत्री नीतिश कुमार प॑ आरोप लगैतें हुअ॑ कहलकै कि हुनी विक्रमशिला केरऽ महत्ता क॑ लंबा समय स॑ अनदेखी करी रहलऽ छै । स्थानीय स्तर केरऽ सार्वजनिक प्रतिनिधि सिनी न॑ भी विक्रमशिला केरऽ विकास लेली बाधा डालै ल॑ राज्य सरकार पर आरोप लगैलकै ।

पीरपैंती प्रखंड केरऽ प्रमुख नूतन देवी न॑ कहलकै कि महज छोटऽ रकम के आयोजन लेली सरकारी निधि केरऽ दुरूपयोग खाली औपचारिकता लेली करलऽ जाय रहलऽ छै जेकरा स॑ आमजनऽ म॑ आक्रोश व्याप्त छै ।

लोग सिनी विक्रमशिला क॑ बुद्ध सर्किट म॑ आरू साथ ही यूनेस्को केरऽ विश्व धरोहर स्थल म॑ तुरंत शामिल करै के माँग करी रहलऽ छै, लेकिन सरकार केरऽ एकरऽ विकास के प्रति उदासीनता जारी छै ।

भागलपुर जिला मुख्यालय सें करीब चालीस किलोमीटर दूर कहलगांव प्रखंड केरऽ अंतीचक गांव म॑ आयोजित दू दिवसीय विक्रमशिला महोत्सव म॑ मौजूद वक्ता सिनी न॑ विक्रमशिला महाविहार केरऽ प्राचीन आरू ऐतिहासिक विरासत केरऽ महत्ता पर प्रकाश डालत॑ हुॉअ॑ ई स्थल केरऽ समग्र विकास पर चर्चा करलकै ।

दू दिन तलक चलै वाला इ महोत्सव म॑ राष्ट्रीय स्तर के पार्श्व गायिका, हास्य कलाकार समेत राज्य व विभिन्न जिला के कलाकारऽ द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमऽ के प्रस्तुति देलऽ जैतै ।

एकरऽ अलावे विभिन्न सरकारी विभागऽ आरू स्वयंसेवी संस्था सब के स्टॉल लगैलऽ गेलऽ छै । जेकरा माध्यम सें केंद्र आरू राज्य सरकार के कल्याणकारी योजना सब के जानकारी लोगऽ क॑ देलऽ जाय रहलऽ छै ।

उल्लेखनीय छै कि प्राचीन भारत केरऽ शिक्षा केंद्रऽ म॑ स॑ एक विक्रमशिला महाविहार केरऽ विश्वविख्यात ख्याति, पुरातात्विक आरू ऐतिहासिक महत्ता क॑ देखतें हुअ॑ राज्य सरकार द्वारा हर वर्ष विक्रमशिला महोत्सव के आयोजन करलऽ जाय छै।

Comments are closed.

error: Content is protected !!