बाबा धाम (देवघर), 3 जुलाय, 2020 । झारखंड केरौ मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन नँ कोरोना चलतें श्रावणी मेला के आयोजन स्थगित करै के आदेश देलै छै । हुुनी काल देवघर आरू दुमका केरौ उपायुक्त के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम सँ बैठक के दौरान इ बात कहलकै ।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन नँ कहलकै कि कोरोना संक्रमण क हल्का मँ नै लेना चाहिय्यौ, बल्कि अधिक सतर्कता के साथ काम करै के जरूरत छै । श्रावणी मेला केरौ आयोजन करी क राज्य सरकार महामारी केरौ बुरा दौर मँ नै जाय ल चाहै छै । हुनी कहलकै कि कोरोना केरौ संक्रमण केरौ सक्रियता आरू तेजी सँ फैलतें जाय रहलौ रफ्तार क देखतें हुअय ई बार श्रामणी मेला के आयोजन नै करलौ जैतै । साथ ही सावन के दौरान पवित्र शिवगंगा मँ स्नान प भी रोक रहतै ।

ज्ञात्वय छै कि सदियों सँ श्रावणी मेला सावन मास मँ आयोजित होतें आबी रहलौ छै । जेकरा मँ हर साल देश -विदेश के लाखों श्रद्धालु काँवरिया के रूप मँ सम्मलित होय क बिहार केरौ सुलतानगंज स्थित पवित्र उत्तर वाहिनी गंगा मँ जोल भरी क गेरूआ वस्त्र धारण करी काँवर प ढोय क लगभग 100 किलोमीटर के पैदल सफर करी क देवघर स्थित भोले बाबा प चढ़ाबै छै ।

देवघर स्थित वासुकिनाथ मंदिर केरौ पुजारी नँ धर्मरक्षिणी सभा के प्रतिनिधिमंडल के साथ  झारखंड केरौ मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सँ भेंट करी क कोरोना चलतें श्रावणी मेला के आयोजन स्थगित करै के हुनकौ आदेश के स्वागत करलै छै ।

अंग-अंगिका विकास मंच केरौ महासचिव, कुंदन अमिताभ नँ भी कोरोना चलतें श्रावणी मेला के आयोजन स्थगित करै के  झारखंड केरौ मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन केरौ आदेश के स्वागत करलै छै ।

वहीं गोड्डा सांसद डॉ. निशिकांत दूबे नँ एकरौ विरोध करतें हुअय कहलै छै झारखंड हाय कोर्ट मँ श्रामणी मेला के आयोजन क ल क एगो मामला लंबित छै । कोर्ट के फैसला के पहिनै आदेश जारी करी क मुख्यमंत्री नँ कोर्च क अवमानना करनै छै । हुनी कहलै छै कि हुनकौ वकील कोर्ट मं ई मुद्दा उठैतै ।

प्रेस विज्ञप्ति

 

Comments are closed.

error: Content is protected !!