जमालपुर : पूर्व रेलवे केरऽ मालदा रेल मंडल के किऊल-साहेबगंज रेलमार्ग केरऽ दिन फिरै वाला छै । जल्द ही लगभग १७२ किलोमीटर लंबा रेल मार्ग पर बिजली स॑ दौड़ै वाला ट्रेन क॑ देखै के सपना पूरा होय वाला छै । प्राप्त जानकारी के अनुसार ई अति महत्वपूर्ण रेल मार्ग केरऽ विद्युतीकरण के प्रक्रिया आरंभ होय चुकलऽ छै । एकरा चरणबद्ध रूप स॑ पूरा करलऽ जैतै ।

रेलवे केरऽ एगो सीनियर अधिकारी केरऽ अनुसार विद्युतीकरण केरऽ पहलऽ चरण म॑ साहेबगंज स॑ किऊल तलक के सब्भे रेलवे क्रॉसिंगऽ के ऊंचाई क॑ बढ़ाय क॑ विद्युतीकरण के मानक मापदंडऽ तलक पहुंचैलऽ जाय रहलऽ छै । सब्भे रेलवे क्रॉसिंग क॑ हाइट गेज बनैलऽ जाय रहलऽ छै ।  हुनी बतैलकै कि साहेबगंज दन्न॑ स॑ ई रेलखंड प॑ ई काम चालू भी होय चुकलऽ छै ।
बतैलऽ गेलऽ छै कि हाइट गेज के काम के साथ ही विद्युतीकरण लेली आवश्यक खंभा के निविदा प्रक्रिया भी जल्दी ही आरंभ होतै । ई खंभा क॑ पोर्टल कहलऽ जाय छै । पोर्टल के इस्टीमेट भी बनी चुकलऽ छै । एकरा लेली रेलवे केरऽ वर्तमान व्यवस्था के तहत ई-टेंडर होतै । संभावना छै कि कुछ ही दिना में ई-टेंडर के प्रक्रिया भी पूरा करी लेलऽ जैतै । ई प्रक्रिया के पूरा करी लेला के बाद विद्युतीकरण लेली तार के आवश्यकता होतै । जेकरा रेल के भाषा में कैटेनरी वायर कहलऽ जाय छै । यह॑ वायर के सहारा विद्युत चलित इंजन के परिचालन हुअ॑ सकै छै । पोर्टल के निविदा प्रक्रिया पूरा करला के बाद कैटेनरी वायर के निविदा के प्रक्रिया भी शुरू करलऽ जैतै । हालांकि हुनी ई नै बतैलकै कि कब॑ स॑ जमालपुर-भागलपुर रेलखंड पर प्रस्तावित विद्युतीकरण के कार्य आरंभ होतै ।
अंगरेज द्वारा निर्मित रेल इंजन कारखाना के निर्माण के पूर्व ही ई रेलखंड क॑ हावड़ा स॑ जोड़ी देलऽ गेलऽ छेलै । एकरऽ बाद स॑ ई रेलमार्ग के समुचित विकास नै हुअ॑ सकलऽ छै । अभी तलक साहेबगंज-भागलपुर-जमालपुर-किऊल रेलमार्ग पर कत्त॑ जग्घऽ प॑ रेल दोहरीकरण के कार्य भी पूरा नै होलऽ छै । जबकि ई रेलखंड पर छोटऽ-बड़ऽ कुल ३२ रेलवे स्टेशन छै, जेकरा स॑ रेलवे क॑ गाढ़ी कमाई भी होय छै । विद्युतिकरण के काम पूरा होला स॑ ई सब रेलवे स्टेशनऽ के कायाकल्प के संभावना स॑ इनकार नै करलऽ जाब॑ सकै छै ।
(साभार – प्रभात खबर)

Comments are closed.