4 days ago
उधाडीह गाँव मँ मनैलौ गेलै शौर्य चक्रधारी अंग गौरव शहीद निलेश कुमार नयन केरौ शहादत दिवस | New in Angika
6 days ago
गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड मँ जग्घौ बनाबै लेली आय 122 भाषा के गाना कार्यक्रम मँ अंगिका मँ भी गैतै पुणे केरौ मंजुश्री ओक | News in Angika
2 weeks ago
अंगिका भाषा क आठमौ अनुसूची मँ दर्ज कराबै लेली दिसम्बर मँ दिल्ली मँ होय वाला आन्‍दोलन क सफल बनाबै के करलौ गेलै आह्वान | News in Angika
3 weeks ago
अंगिका आरू हिन्दी केरौ वरिष्ठ कवि व गीतकार, कविरत्न महेन्द्र प्र.”निशाकर” “दिनकर सम्मान” सँ सम्मानित  | News in Angika Angika
1 month ago
चाँद पर विक्रम लैंडर के ठेकानौ के लगलै पता, पर अखनी नै हुअय सकलौ छै संपर्क | ISRO found Vikram on surface of moon, yet to communicate | Chandrayaan 2 | News in Angika

सुलतानगंज । अंग-अंगिका के विकास म॑ लगलऽ संस्था सिनी मिली-जुली क॑ अंगिका महोत्सव के नियमित रूप स॑ आयोजन करै प॑ विचार करी रहलऽ छै ।

एगो प्रेस-विज्ञप्ति जारी करी क॑ जानकारी देलऽ गेलऽ छै कि सब संस्था द्वारा मिली-जुली क॑ अंगिका महोत्सव क॑ नियमित रूप स॑ आयोजन करै प॑ विचार करै लेली आगामी २३ दिसंबर क॑ भागलपुर म॑ एगो बैठक केरऽ आयोजन करलऽ गेलऽ छै ।

बर्षो पहल॑ सरकारी स्तर पर अंग-महोत्सव केरऽ आयोजन होय छेलै । जेकरा स॑ अंगिका साहित्यकार, पत्रकार, कवि सिनी म॑ नयऽ ऊर्जा के संचार होय छेलै । लोग सब अंगिका के विकास लेली अधिक से अधिक सोच॑ पारै छेलै । साहित्यकारऽ सिनी के सहयोग सें ही साल २००७ ई. म॑ सैंडिस कंपाउंड म॑ शायद आखरी बार अंग-महोत्सव आयोजित होलऽ छेलै । एकरऽ बाद बहुत्ते दफा खाली प्रबुद्ध जनऽ सिनी न॑ अंगिका-महोत्सव आयोजित करै या कराबै के बात कही क॑ ताली बटोरलकै, लेकिन अखनी तलक ई संभव नै हुअ॑ पारलऽ छै ।

ई बीच बहुत्ते साहित्यिक मंचऽ के उदय होलै । गोष्टी/ संगोष्ठी लगातार होय रहलऽ छै । अंगिका पुष्ट होय रहलऽ छै ।

बिहार राज्य लोकभाषा सब केरऽ एगो गुलदस्ता छेकै जेकरा म॑ अंगिका,भोजपुरी,मगही,बज्जिका,मैथिली भाषा सब अपनऽ खुशबू बिखेरी रहलऽ छै । अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच न॑ दिल्ली केरऽ केजरीवाल सरकार स॑ सब भाषा केरऽ अकादमी बनाबै के आग्रह करल॑ छै । भरोसा भी मिललऽ छै ।

अंगिका भाषा अष्टम अनुसूची म॑ शामिल होय वाली अन्य भाषा सब के क्रम म॑ सबसें आगे छै । एकरा राष्ट्रीय मुद्दा मानी क॑ सब्भे मंचऽ के साहित्यकारऽ सिनी क॑ एकजुट होय क॑ जोर लगैला सें बेजोड़ होय जैतै । हम्म॑ बहुत जल्दी कामयाब होबै ।

ऐसनऽ होला सें अंगिका केरऽ राष्ट्रीय आयोजन, साहित्यकारऽ सिनी क॑ राष्ट्रीय मंच, राष्ट्रीय सम्मान, पुस्तक प्रकाशन, पठन-पाठन, विभिन्न लोकसेवा आयोग के प्रतियोगिता परीक्षा में अंगिका, सांस्कृतिक कार्यक्रम, रोजी-रोटी केरऽ सृजन आदि संभव हुअ॑ पारतै ।

अंगिका सें प्रेम रखै वाले प्रबुद्ध जन, साहित्यकार, कथाकार, पत्रकार, कवि, सभ साहित्यिक मंच के पदाधिकारियऽ स॑  सुधीर कुमार प्रोग्रामर
प्रदेश महासचिव, अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच द्वारा विनम्र आग्रह करलऽ गेलऽ छै कि २३ दिसंबर २०१८ क॑ दिन केरऽ २ बजे भागलपुर स्थित कलाकेंद्र म॑ जुटी क॑ अंगिका महोत्सव केरऽ योजना तैयार कर॑ ।

हुन्न॑ मैथिली केरऽ तथाकथित विद्वानऽ द्वारा भागलपुर केरऽ एगो सभा म॑ भागलपुर क॑ मिथिला राज्य बनाबै के माँग केरऽ कड़ा शब्दऽ म॑ निंदा करलऽ गेलै । अज्ञानतावस अनाप-शनाप बोलला स॑ परहेज करै के आग्रह करलऽ गेलै । ज्ञातव्य छै किदरभंगा जिला केरऽ २२ पंचायतऽ म॑ फकत अंगिका बोललऽ जाय छै, पर अंगिका भाषी दरभंगा में अंगिका राज्य बनाबै के माँग कदापि नै करतै । अंग के यह॑ संस्कार छेकै।

Comments are closed.

error: Content is protected !!