सुलतानगंज । बिहार केरऽ मुख्यमंत्री नीतिश कुमार सें आग्रह करलऽ गेलऽ छै कि बिहार अंगिका अकादमी केरऽ उद्देश्य क॑ धरातल प॑ उतारलऽ जाय ।

अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच केरऽ महासचिव सह सुलतानगंज प्रखंड जद-यू मीडिया प्रभारी सुधीर कुमार प्रोग्रामर न॑ पत्र लिखी क॑ आक्रोश व्यक्त करल॑ छै कि अंगिका अकादमी केरऽ गठन के २८ महीना बाद भी नै त॑ अकादमी क॑ कार्यालय उपलब्ध करैलऽ गेलऽ छै, नै ही कोनो कर्मचारी के नियुक्ति होलऽ छै आरू नै कोनो कार्यकारिणी केरऽ ही गठन हुअ॑ सकलऽ छै ।

अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच केरऽ पत्रांक संख्या-05-CM-07 दिनांक -६ नवंबर-२०१७  के माध्यम सें मुख्यमंत्री सें आग्रह करलऽ गेलऽ छै कि अंगिका अकादमी केरऽ अध्यक्ष के कठिनाई केरऽ समाधान करी क॑ उचित दिशा निर्देश जारी करलऽ जाय, जेकरा सें कि अंगिका अकादमी केरऽ गठन केरऽ उद्देश्य पूरा हुअ॑ सक॑ आरू एकरऽ उचित लाभ अंग महाजनपद केरऽ साहित्य व संस्कृति क॑ मिल॑ सक॑ आरू यहाँकरऽ जनता आरू साहित्यकार सिनी सम्मानित होलऽ महसूस कर॑ सक॑ ।

पत्र में ई आशय व्यक्त करलऽ गेलऽ छै कि अंग देश केरऽ साहित्यकार, साहित्यिक संगठन व जनमानस के विपरीत ८०-८२ साल केरऽ आयु के प्रो. (डॉ.) लखन लाल सिंह आरोही क॑ अंगिका अकादमी केरऽ अध्यक्ष बनाय देलऽ गेलै, लेकिन शायद हुनकऽ उमर हुनकऽ कार्यक्षमता क॑ प्रभावित करी रहलऽ छै आरू अंततः अंगिका अकादमी केरऽ कोय भी काम नै हुअ॑ पारी रहलऽ छै ।  अध्यक्ष महोदय केरऽ उम्र केरऽ लाचारी सें अंगिका केरऽ अहित होय रहलऽ छै ।

angika-sprogrammar-1
मुख्यमंत्री क॑ लिखलऽ गेलऽ पत्र

पत्र में मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रगट करतें हुअ॑ हर्ष भी व्यक्त करलऽ गेलऽ छै कि हुनी अंग महाजनपद आरू अंगिका भाषा-भाषी सब के भावना के सम्मान करतें हुअ॑ ९ मार्च ,२०१५ क॑ मुरारका महाविद्यालय, सुल्तानगंज केरऽ आम सभा में बिहार अंगिका अकादमी केरऽ गठन के घोषणा करी क॑ स्थानीय विधायक श्री सुबोध राय जी केरऽ अथक प्रयास सें २३ जून २०१५ क॑ एकरा प॑ कैबिनेट के मोहर भी लगवाय देलकै ।angika-sprogrammar-2

ई बीच कल पटना में सुधीर कुमार प्रोग्रामर न॑ अंगिका अकादमी के निदेशक  देव ऋषि  सें सचिवालय पटना केरऽ चेंबर में अंगिका अकादमीे सबंधी प्रगति पर विमर्श करलकै । निदेशक क॑ भगवान प्रलय के शुभा श्री के आवाज में  गैलऽ गीतऽ क॑ सुनैलऽ गेलै  त॑ हुनका आश्चर्य होलै कि अंगिका में ई तरह के मजबूत गीत होला के बाद भी अंगिका प्रचार-प्रसार सें वंचित छै । श्री प्रोग्रामर न॑ निदेशक सें अनुरोध करलकै कि ई तरह के सैकड़ों अंगिका गीतऽ क॑ अवसर  प्रदान करलऽ जाय । एकरा प॑ निदेशक न॑ कहलकै कि अंगिका केरऽ साहित्यिक आयोजन लेली जल्द ही राशि आवंटित होतै ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!