बाबा सिंहेश्वर स्तुति गान | अंगिका गीत | लक्ष्मीनारायण मधुलक्ष्मी |Angika Geet | Baba Singheshwar Stuti Gaan | Laxminarayan Madhulaxmi

बाबा सिंहेश्वर स्तुति गान
अंगिका गीत | लक्ष्मीनारायण मधुलक्ष्मी

ब्रह्मा-बिष्णु-महादेव बिराजे बाबा सिंहेश्वर ।

बसहा सवार डमरू बजाबे बाबा सिंहेश्वर ।।

बसहा सवार डमरू बजाबे बाबा सिंहेश्वर ।।

 

अंग विभूति शोभे भालचंद्र जटागंग ।

नीलकंठ नाग फुफकारे बाबा सिंहेश्वर ।।

नीलकंठ नाग फुफकारे बाबा सिंहेश्वर ।।

 

अक्षयमाला वनमाला रूँद्रमाला रुँदेश्वर ।

बाघम्बर त्रिशूल नटराज बाबा सिंहेश्वर ।।

बाघम्बर त्रिशूल नटराज बाबा सिंहेश्वर ।।

 

त्रिनेत्र तीनों लोक देवादेव महादेव ।

बिषपान वृद्धेश्वर कहैयलां बाबा सिंहेश्वर ।।

बिषपान वृद्धेश्वर कहैयलां बाबा सिंहेश्वर ।।

 

गंगा जमुना गोदावरी नर्मदा कृष्णा कावेरी ।

कोसी धार नैना जुड़ाबे बाबा सिंहेश्वर ।।

कोसी धार मनमा लुभाबे बाबा सिंहेश्वर ।।

कोसी धार चरण पखारे बाबा सिंहेश्वर ।।

 

शुभ दिन शुभ घड़ी शुभ लगन शिवगौरी ।

महाशिवरात्रि ब्याह रचाबै बाबा सिंहेश्वर ।।

महाशिवरात्रि ब्याह रचाबै बाबा सिंहेश्वर ।।

 

अवध-मगध-मिथिला चहुदिशि घूमी ऐयलां ।

अंगदेश शृंगिऋषि शरण बाबा सिंहेश्वर ।।

अंगदेश शृंगिऋषि शरण बाबा सिंहेश्वर ।।

 

दीवानी कोर्ट बैजनाथ फौजदारी कोर्ट बासुकीनाथ ।

फास्ट कोर्ट अरजी लगैयलं बाबा सिंहेश्वर ।।

फास्ट कोर्ट अरजी पठैयलं बाबा सिहेंश्वर ।।

 

निपुत्र के पुत्र देत कुमति सुमति देत ।

निर्धन के कैयलां निहाल बाबा सिंहेश्वर ।।

निर्धन के कैयलां निहाल बाबा सिंहेश्वर ।।

 

अंधा पाबे लोचनां विभूति दुःख मोचनां से ।

कोढ़ियाँ सुंदर तन पाबै बाबा सिंहेश्वर ।।

कोढ़ियाँ कंचन काया पाबै बाबा सिंहेश्वर ।।

 

बाबा के सितुति गाबै मनोवांछित फल पाबे ।

मधुलक्ष्मी कैयलां निहाल बाबा सिंहेश्वर ।।

मधुलक्ष्मी बड़ा सुख दैयलां बाबा सिंहेश्वर ।।

भारत के भाग्य विधाता सिंहेश्वर ।।

Angika Lyric – Baba sinheshwar stuti gaanबाबा सिंहेश्वर स्तुति गान 
Poet / Lyricist- Laxminarayan madhulaxmiलक्ष्मीनारायण मधुलक्ष्मी