घऽर नै द्वार सिवचंदर राजा | अंगिका कहावत

  घऽर नै द्वार सिवचंदर राजा ढोल नै झाल अँगरेजी बाजा

अर्थ –  निराधार डींग हाँकना ।

घर द्वार तो है नहीं लेकिन बना हुआ है राजा शिवचंद्र । न तो ढोल है, न झाल लेकिन कहता है कि बाजा अँगरेजी है ।