लछमी स॑ भेंट नै दलिद्दर स॑ झगड़ा | अंगिका कहावत

लछमी स॑ भेंट नै दलिद्दर स॑ झगड़ा

अर्थ –   बिना कहीं पाँव जमाये ही दुष्टों से अकारण झगड़ा ।