पटना :  जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान , पटना न॑ नवगठित बिहार अंगिका अकादमी मं॑ सेवा प्रदान करै वास्तें उम्र केरऽ वरीयता केरऽ आधार पर 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम अनुशंसित करी क॑ बिहार सरकार कं॑ भेजन॑ छै.

जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान  केरऽ महासचिव, अंगिका केरऽ वरिष्ठ साहित्यकार आरू पिछला 46 साल सं॑ लगातार प्रकाशित होय रहलऽ अंगिका भाषा के पत्रिका “अंग माधुरी” केरऽ सम्पादक डा. नरेश पांडेय चकोर न॑ फोन करी क॑ इ सूचना अंगिका.कॉम क॑ आज देलकै. डा. चकोर न॑ बतैलकै कि दू बरस पूर्व  प्रकाशित “अंगिका साहित्य – अब तक” पुस्तक केरऽ आधार पर उपरोक्त अनुशंसा करलऽ गेलऽ छै.

पिछला 56 साल सं॑ लगातार अंगिका भाषा साहित्य सृजन मं॑ जुटलऽ डा. नरेश पांडेय चकोर न॑ बतैलकै कि 105 अंगिका साहित्यकारऽ के नाम अनुशंसित करी क॑ बिहार सरकार कं॑  इ लेली भेजलऽ गेलऽ छै जेकरा सं॑  बिहार अंगिका अकादमी केरऽ गठन के सिलसिला मं॑ ऐकरऽ कार्यकारिणी समिति आरू साधारण समिति केरऽ सदस्य केरऽ सूची बनाबै मं॑ सरकार क॑ सुविधा हुए॑ सक॑. साथैं-साथ  बिहार अंगिका अकादमी केरऽ अध्यक्ष के नाम के चुनाव भी आसानी सं॑ करैलऽ जाब॑ पार॑.

जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान केरऽ महासचिव आरू अंगिका केरऽ वरिष्ठ साहित्यकार डा. नरेश पांडेय चकोर

जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान केरऽ महासचिव आरू अंगिका केरऽ वरिष्ठ साहित्यकार डा. नरेश पांडेय चकोर

ज्ञातव्य छै कि गत 23 जून क॑ बिहार केरऽ कैबिनेट द्वारा अंगिका अकादमी केरऽ गठन क॑ मंजूरी देला के पश्चात  राज्य योजनान्तर्गत संकल्प संख्या – 15 / एम -4 – 01 /2015 -1251 द्वारा गत  30 जून क॑ अंगिका अकादमी केरऽ विधिवत गठन करलऽ गेलै  आरू ओकरऽ बाद मुख्यमंत्री श्री नीतिश कुमार केरऽ अध्यक्षता मं॑ पटना  मं॑ आयोजित बिहार मंत्रीपरिषद  केरऽ बुधवार 8 जुलाई-2015 केरऽ होलऽबिहार कैबिनेट के बैठक मं॑ बिहार अंगिका अकादमी लेली पदऽ के सृजन लेली स्वीकृति भी देलऽ गेलै .

बिहार राज्य केरऽ पंद्रह जिला केरऽ लगभग चार करोड़ अंगिका भाषी, अंगिका भाषा आन्दोलन सं॑ जुड़लऽ साहित्यकार आरू संस्था सीनी सहित अंगिका भाषाविद केरऽ बरसऽ पुरानऽ माँग जून-2015 मं॑ पूरा होलऽ छै. बिहार , झारखंड आरू पश्चिम बंगाल मं॑ सब मिलाय क॑ पाँच करोड़ सं॑ भी जादा लोगऽ द्वारा अंगिका बोललऽ जाय छै. अंगिका अकादमी केरऽ गठन अंगिका भाषा क॑ संविधान केरऽ अष्टम सूची मं॑ शामिल करै के दिशा मं॑ एगऽ महत्वपूर्ण कदम मानलऽ जाय रहलऽ छै.

अंगिका अकादमी केरऽ गठन सं॑ बिहार केरऽ पंद्रह अंगिकाभाषी जिला – अररिया, कटिहार, पुर्णिया, किसनगंज, मधेपुरा, सहरसा, सुपौल, भागलपुर, बाँका, जमुई, मुंगेर, लखीसराय, बेगूसराय, शेखपुरा, खगड़िया सहित झारखंड केरऽ सात अंगिकाभाषी जिला  - साहेबगंज, गोड्डा, देवघर, पाकुड़, दुमका, गिरीडीह, जामताड़ा आरू पश्चिम बंगाल केरऽ दू अंगिकाभाषी जिला  मालदा, उत्तर दिनाजपुर  मं॑ उत्सव के माहौल व्याप्त छै.

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Comments are closed.