भागलपुर, २३ फरवरी, २०२० । अपनो माय भाषा अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाय क संवैधानिक दर्जा दिलाबै लेली आाय हजारों के भीड़ नँ  भागलपुर मँ जौरौ होय क मानव श्रृंखला बनैलकै ।

अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाबै लेली राज्य आरू केंद्र सरकार केरौ धियान आकर्षित करै लेली आरू जन जागरूकता फैलाबै लेली यहाँ मानव श्रृंखला बनाबै बास्तें आय हजारों अंगिका भाषी जोर-जनानी, विद्यार्थी, युवा सब भागलपुर केरौ सैंडिस कंपाउंड मैदान मँ जौरौ होलै । बिहार बंद के बावजूद हजारों के संख्या मँ अंग-प्रदेश केरौ कोना-कोना सँ लोगो के यहाँ जुटना ई बताबै छै कि आबै वाला समय मँ कोय भी पार्टी द्वारा अंगिका के अवहेलना करी क अंग क्षेत्र सँ चुनाव जीती जाना आसान नै होतै ।

अंगिका मानव श्रृंखला के खास बात ई रहलै कि एकरा मँ हर धर्म, हर राजनैतिक पार्टी आरू उर्दू, बंगाली भाषा-भाषी भी अंगिका भाषा क् संवैधानिक दर्जा दिलाबै केरौ समर्थन मँ ठारौ नजर ऐलै ।

अखिल भारतीय अंग-अंगिका विकास मंच के राष्ट्रीय महासचिव कुंदन अमिताभ नँ आशा व्यक्त करलै छै कि विशाल अंग जनतंत्र केरौ माँग क धियान मँ रखतें हुअय बिहार सरकार  तुरंत अंगिका क् संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ शामिल करै वास्तें केंद्र सरकार क् आपनौ अनुशंसा भेजतै ।

जातव्य छै कि अभी तलक खाली २२ भारतीय भाषा क संवैधानिक दर्जा प्राप्त छै । ओकरौ अलावे सीताकांत महापात्रा कमिटि नँ २००४ ई. मँ ३८ भारतीय भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डाली क संवैधानिक दर्जा दै लेली अनुशंसित करनें छै जेकरा मँ अंगिका भी शामिल छै ।

अंगिका मानव श्रृंखला प एगो अंगिका रिपोर्टर अभिषेक तिवारी केरौ रिपोर्ट :

 

Comments are closed.

error: Content is protected !!