3 weeks ago
अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ शामिल करबाबै ल मुख्यमंत्री, विधि मंत्री सँ माँग
4 weeks ago
जनगणना मँ अपनौ नामौ सथें मातृभाषा के कॉलम मँ अंगिका जरूर दर्ज करैइयै : अंगिका निवेदन पत्र, नेपाली गीत गोष्ठी
4 weeks ago
अंगिका क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै आरू बिहार केरौ दोसरौ राजभाषा के रूपौ मँ मान्यता दिलाबै तलक जारी रहतै संघर्ष – प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ
4 weeks ago
अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली नेपाली गीत-गोष्ठी आयोजित करतै कार्यक्रम
1 month ago
अपनो माय भाषा अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाय क संवैधानिक दर्जा दिलाबै लेली हजारों के भीड़ नँ बनैलकै मानव श्रृंखला

भागलपुर, २ फरवरी, २०२० । तिलकामाँझी क्षेत्र मँ आय अंगिका महोत्सव – २०२० केरौ दोसरो दिना दू फरवरी केरौ कार्यक्रम के उद्घाटन डॉ. तेजनारायण कुशवाहा करलकै ।

पहलौ सत्र के कार्यक्रम के अध्यक्षता हीरा प्रसाद हरेंद्र करलकै । मुख्य वक्ता अनिल कुमार झा छेलै ।स्वागताध्यक्ष छेलै डॉ. वीणा यादव आरू कार्यक्रम के संचालन करलकै गीतकार राजकुमार ।

ई सत्र मँ अति विशिष्ट अतिथि के रूप मँ प्रशांत मंडल, राजेश रंजन, डॉ. गायत्री देवी, डॉ. विद्या रानी, प्रो.(डॉ.) रतन मंडल, डॉ. प्रेम प्रभाकर, श्री आमोद कुमार मिश्र, कैलाश ठाकुर, डॉ. प्रदीप प्रभात, डॉ. अजय कुमार सिंह, डॉ. अशोक कुमार आलोक, ईं. अंशु सिंह, संजीव कुमार आरू विशिष्ट अतिथि के रूप मँ आर.के.नीरद, विकास पांडेय, प्रेमचंद पांडेय, रथेन्द्र विष्णु नन्हें, प्रणय प्रियंवद, विधुशेखर पांडेय, डॉ. संयुक्ता भारती, सुजाता कुमारी, शतजल मंजरी, नंदलाल सारस्वत, सुभाष यादव, त्रिलोकीनाथ दिवाकर, प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ, देवेन्द्रनाथ दिलवर, राजीव बनर्जी, जी.पी.सिंह आनंद मंचासीन रहलै ।

जबकि दोसरो दिना के दोसरौ सत्र मँ विराट अंगिका कवि सम्मेलन आयोजित होलै । जेकरो संचालन सुधीर कुमार प्रोग्रामर करलकै । ई सत्र के अध्यक्षता गीतकार लक्ष्मीनारायण मधुलक्ष्मी करलकै । ई सत्र मँ विशिष्ट अतिथि के रूप मँ  साथी सुरेश सूर्य, विजेता मुद्गलपुरी, गौतम यादव, विकास सिंह गुल्टी,  शिप्रा जी, जयंत जलद, कुमार गौरव, धीरज पंडित, नीरज सिन्हा आरनि मौजूद रहतै ।

दोसरौ दिना के पहलौ सत्र मँ अंगिका केरौ वर्तमान दशा आरू दिशा प चर्चा-परिचर्चा करलौ गेलै । जेकरा मँ अंगिका साहित्य केरौ इतिहास आरू लेखन, आधुनिक अंगिका काव्य साहित्य, आधुनिक अंगिका नाट्य साहित्य, अंगिका कहानी साहित्य, अंगिका उपन्यास, अंगिका लोक साहित्य, अंगिका मुक्तक काव्य, अंगिका केरौ भूगोल, संविधान केरौ आठमौ अनुसूची मँ अंगिका जरूरी कैन्हें, अंगिका विकास मँ उत्तर अंग प्रदेश केरौ योगदान, मध्य अंग प्रदेश मँ अंगिका साहित्य, संथाल परगना मँ अंगिका साहित्य केरौ स्थिति आऱनि बिसयो प परिचर्चा होलै ।

 

…..

…….

….

 

…..

 

…..

 

Comments are closed.

error: Content is protected !!