पर्यायवाची शब्द (Synonyms) | अंगिका व्याकरण | Angika Grammar | कुंदन अमिताभ

पर्यायवाची शब्द (Synonyms)

समान अर्थ वाले शब्द समूह एक-दूसरे के पर्याय के रूप में उपयोग में लाए जाते हैं । इन्हें पर्यायवाची शब्द कहते हैं ।

अंधार – अन्हार,अंहार,अंधेरा,अँधेरा
आगिन – आग,आगीन,आँच,आंच
आँख – आंख, अँखिया, अँखबा,आँखी
आटा – आँटा, पिसान, चिकसऽ
आँटी – अँटिया, पाँजा, दिनी,
आँठी -गुठली, अँठिया

कटनी – छोपना, काटना, काटलऽ
कादो – कीचड़, किच्चड़, केपी,कधोर
किल्ला – खूँटी, खूँटा, किल्ली, खूँटी, चाक के धुरी
कमल – लक्षमी फूल,पुरइन फूल
कोढ़ी – कमकोढ़ी, कुष्ठी
कौकड़ा – कौंकड़ा, कर्कट
करची – कमची, बत्ती, फट्ठी, कमाची, कंचिका
केरौनी – किरौनी, छिछला कोड़ाई, खुरपियाना, निकौनी
कोड़नी – कोड़ाई, कोड़लऽ,खोदना
कोबी – फुलकोबी, कोबी तरकारी
कोराँट – कोराँटी, कोरांटी,
कोदार – कुदार,कुदाल,कोदाल,फौरा
कलेवा – कलेवऽ, कलेबा, दिनकऽ खाना

खाँखड़ऽ – खँखड़ा,खँखड़ी,खँखरी,खखड़ऽ,खखरा
खंती – खनती,
खंता – गड्ढा
खेत – बैहार,बहियार

गंगा – जाह्नवी, गांग,गंगा माय
गद्दा – तोसक, मोटऽ बिस्तर
गद्दा – गादा, कच्चे (हरे) अनाज से बना भोजन, गादर, हारऽ औंकरी

घाम – रौद, पसीना
घास – दुबरी, दुभरी, कास, दूभ, घास-पतार
घोलटलऽ – लुढ़कलऽ, पटैलऽ, लेटलऽ

चौकी – खाट, पुलिस टौकी, खेत-चौकी
चिनिया बदाम – चिनिया बेदाम, मोंगफली,मूँगफली

छकड़ी – लेरू, लेरुआ, बछिया, बाछी
छकड़ा – लेरू, लेरूआ, बाछा, बछबा
छिमड़ी – छीमी, छीमड़ी, छिमरी, छिमी

जमोठ – जमकाठ, जमवट, जमौर, जामुन की लकड़ी का बना कुआँ की दीवार का आधार
जमाइन – जवाइन, अजवाइन
जल – जऽल, पानी,
जलखय – जलखै, भोरकऽ खाना,

झग्गर – टेढ़ऽ-मेढ़ऽ कीलऽ सें बनलऽ औजार (जो कुएँ में किसी वस्तु के गिरने पर निकालने के काम आता है ।), काँटा ।
झड़ाहा – लग्गा, अकसी

टँगनी – टंगनी, अलगनी, टँगना
टाल – लारऽ के टीलानुमा ढेर, बोझऽ के टीलानुमा ढेर
टिकोला – बच्चा आम,
टेंगरा – टेंगटा, टेंगड़ा

ठनका – बिजली, बज्रपात,

डाँड़ – छोटऽ रकम के जलमार्ग, डाँर, जऽलनाली

ढिम्मा – पुस्टा, टिल्हा, टिलहा-टाकर,

तजपत्ता – चरपत्ता, फोरनपत्ता
तड़बन्ना – ताड़वन,

थकलऽ – पस्त होलऽ, टुटलऽ रग,
थोथऽ – थोथा, थोथी,थोतऽ, थोती,

दौरी – दउरी, डलिया, मुँजेला,
दरमाहा – वेतन, मासिक वेतन

धुमना – गोंद, धूमन, धूप (सुगंध) लकड़ी

नद्दी – नदी, लद्दी, नद, दरिया
नकैल – नकेल, नकलोल

पैंचा – पइंचा, पइचा, पैचऽ, उधार
पाघा – पगहा, जोर, पाघऽ, पघा

फटक – फटकऽ, फटकलऽ, फटकना,
फरलऽ – फरल, फरना, फललऽ
फरिंगा – फतिंगा, टिढ्ढा,

बाछी – लेरू, छकड़ी, बछिया
बाछा – लेरू, छकड़ा, बछबा

भूँजा -भूंजा, भुजना,भुँजलऽ
भूर – छेद, भूड़,
भुस्सा – कुट्टी, भूसी, भूस, भूस्सा

मोंछ – मोंछा, रेशा, रेसा
मौरका – छपरी, छपड़ी, मौड़का
मौजा – गाँव, गांव, गाम, क्षेत्र,स्थान

यह॑ – इ,इह॑,एह॑
युग – जुग, युगऽ

रौद – धूप, रौदा, रौदी,घाम
रोड़ा – कंकड़, बाधा, रोरा, गंगट
रोप – रोपा, रोपऽ, रोपनी

लग्गा – लकसी, लग्गी, कानीदार लग्गी
लकीर – डडीर, रेखा

वीर – बीर, बहादुर, जोद्वा, योद्धा

सिक्कड़ – सिकड़, सीकड़, लोहा के पाघा,
सैन – सइन, शैन, ठेउका
सरकंडा – नरकट, सरपत
सोझे – सोझऽ, सोझा, सीधा, सरल
समाद – संवाद, बातचीत, वार्तालाप
सगुन – शकुन, शगून,
सरंग – अकाश, आकाश, आसमान,
सैतलऽ – सँवारलऽ, सहेजलऽ, जोगलऽ
सरिया – साड़ी, सारी, साली

होली – होरी
होरहा – ओरहा, होलहा, ओढ़ा