मुंबई । भारतीय भाषा सिनी के कंप्यूटिंग टेक्नोलॉजी के विकास के जनक डॉ. आर.एम.के. सिन्हा केरऽ निधन होय गेलऽ छै ।  भारतीय भाषा सब के प्राद्योगिकी विकास लेली समर्पित भारत सरकार केरऽ संस्थान सी-डैक आरू टी.डी.आई.एल.डी.सी. तरफऽ सं॑ अंगिका.कॉम केरऽ संस्थापक कुंदन अमिताभ क॑ आज मिललऽ ई-मेल के अनुसार डॉ. आर.एम.के. सिन्हा, प्रोफेसर, आई.आई.टी., कानपुर (इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग व कम्प्यूटर विभाग) केरऽ देहांत गत २९ जुलाई क॑ होय गेलै ।
डॉ. सिन्हा क॑ भारत केरऽ भाषा सब लेली कंप्यूटिंग टेक्नोलॉजी के विकास केरऽ क्षेत्र के संस्थापक जनक कहलऽ जाय छै । हुनकऽ प्रमुख अनुसंधान केरऽ क्षेत्र मं॑ इंडियन लैंग्वेज टेक्नोलॉजी, अप्लाईड आर्टिफिशियल इंटेलिजेस, मशीन ट्रांसलेशन, स्पीच टू स्पीच ट्रांसलेशन आदि शामिल छेलै ।
संस्थान के तरफ स॑ डॉ. आर.एम.के. सिन्हा केरऽ निधन क॑ एगो राष्ट्रीय क्षति बतैलऽ गेलऽ छै आरू आशा व्यक्त करलऽ गेलऽ छै कि हुनकऽ द्वारा करलऽ गेलऽ कार्य सब भारतीय भाषा के विकास के प्रगति केरऽ रास्ता के मार्गदर्शन करतं॑ रहतै । संस्थान न॑ कहल॑ छै कि दुख केरऽ ई घड़ी मं॑ हुनका प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त करै लेली पूरा राष्ट्र हुनकऽ परिवार  के साथ छै । भगवान स॑ प्रार्थना छै कि हुनकऽ परिवार क॑ ई  दुख स॑ उबरै लेली शक्ति आरू साहस दिअ॑ ।
अंगिका.कॉम भारत केरऽ भाषा सिनी के कंप्यूटिंग टेक्नोलॉजी के विकास के जनक डॉ. आर.एम.के. सिन्हा केरऽ निधन पर  हुनका नमन करतं॑ हुअ॑ हारदिक श्रद्धांजलि व्यक्त करै छै ।

Comments are closed.