नारायणपुर, 8 अप्रैल,2020 ।  युवा मठ, नारायणपुर केरौ तत्वधान मँ  पहलौ ऑनलाइन अंगिका कवि सम्मेलन सफलता पूर्वक आयोजित करलौ गेलै । एकरा मँ  बिहार – झारखंड केरौ विभिन्न जिला सँ  31 कवि – कवयित्री सिनी  भाग ल क ई ऐतिहासिक क्षण के गवाह बनलै ।
कवियौ के निशाना पर कोरोनावायरस भी रहलै । कवियो सिनी नँ  अपनौ रचना के माध्यम सँ कोरोना वायरस सँ बचै व सावधान रहै के तरीका बतैलकै । कोय घरौ मँ कैद लोगौ के पीड़ा सुनाय रहलौ छेलै ,लेकिन सलाह घरै मँ रहै के ही द रहलौ छेलै ।
युवा मठ के संस्थापक सह अध्यक्ष व अंगिका साहित्य मंच के पटल संचालक श्री मधुर मिलन नायक  ने बतैलकै कि अंगिका भाषा मँ ई तरह के पहलौ ऑनलाईन अंगिका कवि सम्मेलन आयोजित भेलै। सम्मिलित सब्भे कवि सिनी क श्री कमलेश्वरी मंडल स्मृति अंगिका काव्य सम्मान सँ नवाजलौ गेलै । ई प्रमाण पत्र  डिजिटल रूप मँ कवियो सिनी क देलौ गेलै।
कार्यक्रम केरौ ऑनलाईन उद्घाटन करतँ हुअय अखिल भारतीय अंगिका साहित्य विकास समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री रमेश मोहन शर्मा आत्मविश्वास जी नँ बतैलकै कि ऑनलाईन कवि सम्मेलन सँ अंगिका वर्तनी के प्रति लोगौ के रुचि बढ़तै । वहीं अंगिका भाषा क अष्टम सूची मँ प्रयासरत रहै वाला वरिष्ठ पत्रकार सह अंग महोत्सव के व्यवस्थापक श्री गौतम सुमन गर्जना नँ बतैलकै कि मधुर मिलन नायक के प्रयास बहुत ही सराहनीय छै । ऑनलाईन अंगिका कवि सम्मेलन के गूंज बहुत दूर तलक जैतै ।
कवि प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ नँ बतैलकै कि इ तरह के पहलौ अनुभव रहलै । जबकि कवि त्रिलोकीनाथ दिवाकर नँ कहलकै कि ऐसनौ लगलै जेना कि कवि सम्मेलन मँ ही छौं ।
कार्यक्रम मँ रणजीत मंडल , युवा कवि कुमार गौरव , अनुरंजन कुमार अंचल , अंशु माला झा अंश, विनय कुमार दर्शन , डॉ  इकराम हुसैन साद , भोला कुमार बागवानी , मनोज माही , इंदुभुषण मिश्र देवेंदू ,  अंजुदास गीतांजलि , फहद जुबेर , श्रवण बिहारी आरनि कवि-कवियित्रि सिनी नँ भी भाग लेलकै आरू अंगिका भाषा म आपनौ-आपनौ रचना क प्रस्तुत करलकै ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!