बौंसी  : मंदार महोत्सव म॑ ऐलऽ अंगिका भासा के कलाकार सुनील छैला बिहारी न॑ कहलकै कि भोजपुरी व अंगिका काफी सुद्ध भासा छेकै । एकरऽ मिठास लोगऽ क॑ करीब लानै छै । हुनी कहलकै जे हुनी एकरऽ विकास लेली हर वक्त संघर्स करत॑ रहतै. भोजपुरी म॑ परोसलऽ जाय रहलऽ अश्लीलता पर कहलकै कि ई कोय भी कलाकार नै करै छै भलुक दर्शकऽ के मांग पर ऐसनऽ एलबम बनी रहलऽ छै । लेकिन वू एकरऽ विरोध करै छै । हम्मं॑ ऐसनऽ फिल्म बनाय रहलऽ छियै जे पूरा परिवार के साथ बैठी क॑ देखलऽ जाब॑ सक॑ ।

अपनऽ आगामी फिल्म के बारे म॑ बतैतें कहलकै कि अपनऽ पहलऽ एलबम प्यार के बुखार के ही नाम स॑ अगला फिल्म बनाय रहलऽ छै । जेकरा म॑ मोनालिसा काम करी रहलऽ छै । फिल्म क॑ बिहार म॑ उद्योग के दर्जा दै के मांग करतं॑ हुअ॑ कहलकै कि दोसरऽ देसऽ मं॑ फिल्म निर्मान करलऽ जाय रहलऽ छै ।  झारखंड न॑ फिल्म निर्मान क॑ उद्योग के दर्जा दै  के निर्नय लेन॑ छै । जेकरा स॑ वू प्रदेस म॑ फिल्म के निर्मान लेली रास्ता खुली गेलऽ छै । अधिकतर भोजपुरी फिल्मऽ के निर्मान यूपी म॑ होय रहलऽ छै । अगर बिहार म॑ फिल्म निर्मान होय त॑ यहांकरऽ लोगऽ क॑ रोजगार त॑ मिलबे करतै साथें साथ उभरी रहलऽ कलाकार सिनी क॑ भी काफी मौका मिलतै.

भविष्य म॑ राजनीति म॑ आबै के बारे म॑ कहलकै कि अभी काफी काम करै के  वक्त छेकै । फिल्म भी एक माध्यम छेकै जेकरऽ जरिया स॑ अपनऽ बातऽ क॑ सरकार तलक पहुंचैतें रहै छियै । अंगिका क॑ संसार म॑ पहचान दिलाय वाला बिहारी न॑ कहलकै कि जब तलक अंगिका क॑ ओकरऽ उचित मुकाम नै दिलाय देबै तब तलक लड़तें रहबै ।

Comments are closed.