मुंबई : रेलवे सं॑ आग्रह करलऽ गेलऽ छै कि भागलपुर-मुंबई ट्रेन मं॑ जल्दी स॑ जल्दी पैंट्री कार (रसोई बोगी) लगैलऽ जाय ।
भागलपुर सं॑ मुंबई (कुर्ला टर्मिनस) तक केरऽ लगभग २००० किलोमीटर केरऽ दूरी तय करै वाला ई ट्रेन बिहार सं॑ मुंबई लेली जाय वाला सबसं॑ पुरानऽ आरू पहलऽ ट्रेन छेकै । अंग क्षेत्र केरऽ पूर्वी बिहार,सटलऽ झारखंड आरू पं. बंगाल केरऽ कैंसर रोगी आपनऽ ईलाज कराबै लेली ई ट्रेन सं॑ ही मुंबई केरऽ सफर तय करै छै । लेकिन आश्चर्यजनक रूप सं॑ ई ट्रेन मं॑ कोय पैंट्री कार केरऽ सुविधा नै छै । एकरा सं॑ यात्री क॑ खाना-पीना केरऽ भयंकर त्रासदी सं॑ गुजरै ल॑ पड़ै छै । यात्री सुविधा के नाम प॑ भाड़ा बढ़ैला के बावजूद भागलपुर-मुंबई ट्रेन मं॑ पैंट्री कार (रसोई बोगी) नै लगैलऽ गेलऽ छै ।
अंगिका.कॉम केरऽ संस्थापक कुंदन अमिताभ न॑ रेलवे स॑ आग्रह करन॑ छै कि भागलपुर-मुंबई ट्रेन मं॑ जल्दी स॑ जल्दी पैंट्री कार (रसोई बोगी) लगैलऽ जाय, जेकरा सं॑ यात्री क॑ खास करी क॑ कैंसर रोगी यात्री क॑ खाय-पियै केरऽ परेशानी स॑ मुक्ति मिल॑ सक॑  ।

Comments are closed.