नई दिल्ली / देवघर /गोड्डा / भागलपुर / मुंबई :  झारखंड अंतर्गत गोड्डा केरऽ भाजपा सांसद श्री निशिकांत दूबे न॑ अंगिका भाषा क॑ अष्टम अनुसूची मं॑ शामिल करै के माँग संसद मं॑ उठैने छै. हुनी कहलकै कि अंगिका भारत केरऽ एगो प्राचीन आरू समृद्ध भाषा छेकै. इ विश्व केरऽ प्राचीन भाषा मं॑ सं॑ एक छेकै. अंगिका भाषा क॑ अंग लिपि, कैथी लिपि आरू देवनागरी लिपि मं॑ लिखलऽ जाय छै. इ अंग प्रदेश केरऽ अहम भाषा छेकै.

श्री  दूबे न॑ अंगिका भाषा क॑ अष्टम अनुसूची मं॑ शामिल करै के माँग करतं॑ कहलकै कि अंगिका भाषा बिहार, झारखंड आरू पश्चिम बंगाल मं॑ बोललऽ जाय छै. ऐकरऽ अलावे भारत केरऽ बड़ऽ शहर मुंबई, दिल्ली, कोलकता, बंगलूरू, के अलावा औद्योगिक इलाका बोकारो, धनबाद,  दुर्गापुर, बड़ोदरा, सूरत, राँची, पटना, मालदह, जमशेदपुर मं॑ भी अंगिका भाषा बोलै वाला काफी संख्या मं॑ रही रहलऽ छै. हुनी कहलकै कि साल 2001 के जनगणना केरऽ अनुसार अंगिका बोलै वाला केरऽ संख्या करीब तीन करोड़ छै.

श्री निशिकांत दूबे न॑ कहलकै कि अंगिका भाषा कंबोडिया, वियतनाम, लाओस आरू मलेशिया मं॑ भी बोललऽ जाय छै.  इ लेली इ भाषा केरऽ महत्ता क॑ देखतं॑ हुअ॑ सरकार ऐकरा संविधान केरऽ अष्टम अनुसूची मं॑ शामिल कर॑ ताकि इ भाषा क॑ बोलै वाला एकरा पर गर्व महसूस कर॑.

श्री निशिकांत दूबे जी के कहना छै कि आपनऽ अंग जनपद(प्रदेश ) भारत केरऽ सभ्यता -संस्कृति केरऽ केन्द्र रहलऽ छै. महाभारत केरऽ करण यहाँकरे राजा रहै .मन्दार पर्वत जेकरा सं॑ समुद्र मंथन होलै,यहीं छै. विक्रमशिला विश्वविद्यालय जे दुनिया केरऽ पहलऽ कुलपति आतिश दीपांकर देलकै, जिनी दलाई लामा पन्थ के स्थापना करलकै यहीं छै,भगवान वासु पूज्य केरऽ नगरी, देवऽ के देव महादेव केरऽ सर्वश्रेष्ठ ज्योतिर्लिंग यहीं छै,लेकिन यहाँकरऽ भाषा अंगिका उपेक्षित छै. लोकसभा मं॑ निजी विधेयक केरऽ तौर पर अंगिका भाषा क॑ संविधान केरऽ आठमऽ अनुसूची मं॑ लानै के मौक़ा मिललै, अब॑ एकरा पर चर्चा होतै. हुनी आशा व्यक्त करन॑ छै जे बंगाल, झारखंड, बिहार तथा देश विदेश मं॑ रहै वाला लोगऽ के वर्षों के आश पूरा होय केरऽ दिशा मं॑ इ एेतिहासिक मोड़ साबित होतै.

अंगिका.कॉम सांसद श्री निशिकांत दूबे क॑ अंगिका भाषा क॑ अष्टम अनुसूची मं॑ शामिल करै वास्तें संसद मं॑ आवाज उठाबै ल॑ पाँच करोड़ सं॑ भी ऊपर अंगिका भाषा भाषी के तरफ सं॑ हार्दिक आभार प्रकट करै छै. सथें शुभकामना व्यक्त करतं॑ विनम्र आग्रह करै छै कि जब तलक अंगिका भाषा अष्टम अनुसूची मं॑ शामिल नै होय जाय छै लगातार आवाज उठैतें रहबै. अंगिका.कॉम केरऽ कुंदन अमिताभ के कहना छै कि इ पहलऽ मौका छेकै जब॑ अंगिका भाषा केरऽ अंतरराष्ट्रीय पक्ष क॑ एगो सांसद द्वारा भारत केरऽ संसद मं॑ रखलऽ गेलै. जेकरा लेली सांसद श्री निशिकांत दूबे असीमित बधाई के पात्र छै.

हुन्ने बरसों-बरस सं॑ अंग – अंगिका केरऽ वाजिब सम्मान आरू हक लेली संघर्षरत रहै वाला अंग उत्थानंदोलन समिति केरऽ संस्थापक सह केंद्रीय अध्यक्ष गौतम सुमन सांसद श्री निशिकांत दूबे क॑ अंगिका भाषा लेली संसद मं॑ आवाज उठाबै लेली आभार प्रकट करन॑ छै आरू हुनका सं॑ आग्रह करन॑ छै कि इ आवाज क॑ अंजाम तलक पहुँचैने बगैर दम नै लेबै. श्री गौतम सुमन के कहना छै कि  लोकतंत्र मं॑ अंगिका भाषा के साथ होय रहलऽ अन्याय आरू पक्षपात क॑ अब॑ आरू जादा देर तलक नै सहलऽ जाब॑ सक॑. हुनी कहलकै कि लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी न॑ अंगिका भाषा मं॑ आपनऽ संबोधन मं॑ कहन॑ रहै कि हुनी अंगिका जैसनऽ भाषा के साथ अन्याय आरू उपेक्षा कतई बर्दाश्त नै करतै. श्री सुमन कहै छै कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी केरऽ तखनकऽ भाषण सं॑ ऐन्हऽ लागलऽ रहै कि अंग आरू अंगिका केरऽ अच्छा दिन जल्दिये आबै वाला छै. अब॑ अंगपुत्र सांसद  श्री निशिकांत दूबे जी न॑ अंगिका केरऽ आवाज पार्लियामेंट मं॑ उठाय क॑ एगऽ सराहनीय आरू प्रशंसनीय कार्य करन॑ छै.

अंगिका केरऽ गीतकार आरू साहित्यकार श्री अश्विनी कुमार के कहना छै कि निशिकांत दुबे जी न॑ एगो साहसी आरो जनोपयोगी प्रस्ताव अंगिका क॑ संविधान रो अष्टम सूची मं॑ नामांकित करै वास्ते पेश करले छै. अब॑ अंग जनपद के सभ्भे लोगऽ केरऽ बांका, मुंगेर, भागलपुर, खगडिया, जमुई, कटिहार आरो पूर्णियां आदि के माननीय संसद् सदस्यऽ सीनी स॑ आग्रह छै कि आपनौ सिनी विधेयक रो समर्थन करी क॑ अंगिका भाषा रो नाम संविधान के अष्टम सूची में डालै लेली जोरदार आवाज सं॑ अंगिका केरऽ वाजिव हक दिलाय दियै. हुनी सभ्भै जन प्रतिनिधि सं॑ निवेदन करन॑ छै कि अंगिका क॑ माथऽ रो तिलक बनाभऽ जेना कि मैथिली बाला सिनी आपनऽ भाषा लेली संसद् सं॑ सड़क तलक जद्दोजहद करी क॑ संवैधानिक मान्यता दिलाय देलकै.

अंगिका साहित्यकार  डा. अमरेंद्र केरऽ कहना छै कि जे आग अंगिका सपूत सांसद निशिकांत दुबे मं॑ जली उठलऽ छै ओहे आग अंग प्रदेश केरऽ हर सांसद आरू विधायक मं॑ जलना चाहियऽ. हुनकऽ अनुसार इ माटी केरऽ दूध के कर्ज उतारे के समय छेकै.

अंगिका केरऽ वरिष्ट साहित्यकार सीनी डा. अमरेंद्र, डा. नरेश पांडेय चकोर, लखन लाल आरोही आदि आरू अंग अंगिका के विकास ल॑ प्रयत्नशील अनेक संगठन सीनी – अखिल भारतीय अंग-अंगिका विकास मंच, जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान, अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच, अखिल भारतीय अंगिका साहित्य सम्मेलन न॑ भी सांसद श्री निशिकांत दूबे क॑ अंगिका भाषा लेली संसद मं॑ आवाज उठाबै लेली आभार प्रकट करन॑ छै आरू बधाई देनै छै.

लोकसभा मं॑ अंगिका भाषा क॑ आठमऽ अनुसूची में शामिल करै के  जोरदार वकालत करै लेली माननीय सांसद श्री निशिकांत दुबे जी क॑ अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच केरऽ सुधीर कुमार प्रोगामर न॑ तमाम अंगिका प्रेमी तरफऽ सं॑ भी धन्यवाद देनै छै.

Angika_in_Parliament_Nishikant_Dubey

( Source : प्रभात खबर -भागलपुर, बिहार आरू देवघर, झारखंड संस्करण | दि.6-8-2015 आरू अंगिका.कॉम केरऽ सूत्रऽ पर आधारित)

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Comments are closed.