गौतम सुमन क अंगिका अकादमी अध्यक्ष बनाबै के माँग ।

भागलपुर। अमरपुर प्रखंड केरौ साहित्यकार व साहित्यिक संस्था के द्‍वारा अंग क्षेत्र के लोकभाषा अंगिका के विकास लेली निरंतर संघर्षशील युवा आंदोलनकारी गौतम सुमन क बिहार अंगिका अकादमी केरौ अध्यक्ष बनाबै के मांग बिहार सरकार सँ एकजूट होय क उठै लगलौ छै ।

इ बाबत अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच के केन्द्रीय उपाध्यक्ष नरेश जनप्रिय नँ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार क अपनौ हस्तांतरित एक मांग पत्र क मंगलवार क रजिस्ट्री डाक द्वारा प्रेषित करलै छै । हुनी अपनौ द्वारा जारी ई प्रॆषित पत्र में खुद क एक साहित्यकार बतैतैं हुए कहलै छै कि उनकौ कई पुस्तक अंगिका भाषा में प्रकाशित होलौ छै, जेकरा मँ पंचमेवा,अंगिका कहानी संकलन, किरण चिरैया, अंगिका काव्य संकलन, आभागली, अंगिका नाट्‍य संकलन आदि छै। हुनी पत्र मँ बतैलकै  कि भागलपुर आकाशवाणी सँ अंगिका भाषा में उनकौ गीत, नाटक व कहानी के प्रसारण समय-समय प होतें रहै छै।

बहरहाल हुनी हाल ही में बिहार अंगिका अकादमी सें पद मुक्त होलौ अध्यक्ष पद के भरपाई लेली अंगिका भाषा के यिकास व उत्‍थान में लगातार संघर्षरत- कर्मठ व जीवट युवा आंदोलनकारी गौतम सुमन क नियुक्त करै के मांग करनै छै। हुनी बतैलकै कि श्री सुमन नँ भाषाई विकास लेली बिहार-झारखंड स्‍थित 21 अंग जनपदौ के भ्रमण करी क लोगो क जागरूक करी ल पैदल यात्रा आरू चरणबद्‍ध आंदोलन निरंतर करतें रहलौ छै। श्री सुमन के अतुल्य प्रयास के चलते ही अंगिका महोत्सव व अंगिका के कई कार्यक्रम अविस्‍मरणीय रूप सें सफल होतें रहलौ छै ।

हुनी कहलकै कि वैसें त अंग क्षेत्र में अंगिका के चहेता के कमी नै छै लेकिन जोन निःस्वार्थ भाव सें गौतम सुमन अंगिका के प्रति समर्पित छै, वैसनौ समर्पण अन्य लोगों में दूर- दूर तक देखै ल नै मिलै छै । हुनी बतैलकै  कि ई अध्यक्ष पद लेली अंगिका विद्वानों के बीच ई दिना मारामारी के स्थिति बनलौ छै  आरू पूर्व के तरह लोग सरकार व अंगिकाभाषियो क गुमराह करी क दिग्‍भ्रमित करै मँ जुटलौ छै। ऐसनौ स्थिति में हुनी मुख्यमंत्री सें अनुरोध करलै छै कि एकरा पर गंभीरता पूर्वक विचार करतें हुअय अंगिका अकादमी के अध्यक्ष गौतम सुमन क बनैलौ जाय । ऐसनो होला सँ अंगिका भाषा के निश्चित रूप सें सर्वागीण विकास होतै, ई तय छै ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!