Language and Literature News

आठवीं अनुसूची का खेल :भाषा बचाने के लिए सरकार का मुंह न देखें

भारतीय भाषाओं के बारे में बात करना एक दबी हुई तकलीफ को हवा देने जैसा है। इनके बल पर आज न कोई ऊंची पढ़ाई कर सकता है , न अच्छी नौकरी पा सकता है। हालत यह है कि अपनी मातृभाषा के बड़े से बड़े समर्थक के पास भी अब अपने बच्चे को अंग्रेजी मीडियम स्कूल में पढ़ाने के सिवाय कोई[Read More...]

by May 18, 2012 Comments are Disabled Language and Literature News
इंगलैंड के अंतर्राष्ट्रीय बहुभाषीय संगोष्ठी में अंगिका भाषा : अंतर्राष्ट्रीय मंच पर अंगिका भाषा का प्रथम व्याख्यान

इंगलैंड के अंतर्राष्ट्रीय बहुभाषीय संगोष्ठी में अंगिका भाषा : अंतर्राष्ट्रीय मंच पर अंगिका भाषा का प्रथम व्याख्यान

बरमिंघम : अंगिका भाषा साहित्य के क्षेत्र में एक नया इतिहास रचा गया है. इंगलैंड के दूसरे सबसे बङे शहर बरमिंघम में 27 से 29 अगस्त तक आयोजित अंतर्राष्ट्रीय बहुभाषीय संगोष्ठी, IMS-2005, में अंगिका के साहित्यकार श्री कुंदन अमिताभ द्वारा अंगिका भाषा में आलेख और कवितायें पढीं गईं. किसी विदेशी भूमि पर आयोजित किसी अंतर्राष्ट्रीय स्तर के कार्यक्रम में अंगिका भाषा[Read More...]