कला-संस्कृति-मनोरंजन

अंग देश केरॊ स्थानीय कलाकारॊ सीनी कॆ प्राथमिकता मिलतै ‘ऐलै हो मिलन के बेला’ मॆं

अंग विश्व सांई छाया बैनर तलॆ नवनिर्माणाधीन अंगिका फिल्म,’ ऐलै हो मिलन के बेला ‘ केरॊ निर्माण मॆं अंग देश केरॊ स्थानीय कलाकारॊ सीनी कॆ प्राथमिकता देलॊ जैतै. अंगिका फिल्म ‘ ऐलै हो मिलन के बेला ‘जुलाई-2014 तक रिलीज होय जैतै. इ कहना छै  फिल्म केरॊ निर्माता-निदेशक  राजीव रंजन दास के. अंगिका.कॉम सॆं बातचीत करतॆं हुऎ श्री राजीव रंजन दास नॆ कहलकै कि अंग देश क्षेत्र मॆं काफी प्रतिभावान कलाकार सीनी  छै, जेकरॊ प्रतिभा के सही उपयाग नै होय रहलॊ छै. ऐन्हॆ प्रतिभा सभ कॆ पहचान करी कॆ ओकरा अंगिका फिल्म उद्योग सॆं जोड़ै के जरूरत छै. सही प्रतिभा के खोज लेली हुनी अंग क्षेत्र के विभ्न्न भागॊ के व्यापक दौरा भी करलकै. ‘ ऐलै हो मिलन के बेला ‘ मॆं स्थानीय कलाकार, गौरव गर्ग, कौशल किशार मिश्रा, आरू नवनीता वर्मा, सानवी झा कॆ क्रमशः  मुख्य अभिनेता आरू अभिनेत्री के रोल मिलै के संभावना छै. हालाँकि मुख्य अभिनेत्री के नाम तय करना अभी शेष छै. श्री राजीव रंजन दास के अनुसार मेन हिरोइन के तलाश जल्दिये पूरा होय जैतै.… Read More

चार-चार अंगिका फिल्म निर्माण के राजीव रंजन दास केरॊ महत्वाकांक्षी योजना

चार-चार अंगिका फिल्म निर्माण के राजीव रंजन दास केरॊ महत्वाकांक्षी योजना

मुंबई :अंगिका भाषा सिनेमा केरॊ ऐगॊ नया युग  शुरू होय वाला छै जबॆ आबै वाला समय मॆं अंगिका भाषा मॆं एक सॆं बढ़ी कॆ एक उत्कृष्ट आरू मनोरंजक सिनेमा निर्मित होय कॆ सिनेमा घरॊ मॆं प्रदर्शित करलॊ जैतै.  केवल ‘अंग विश्व सांई छाया’ द्वारा ही चार-चार अंगिका फिल्म निर्माण के योजना छै. जेकरा मॆं प्रमुख छै – ‘ऐलै हो मिलन के बेला’, ‘जहियो नै हमरा सॆं दूर’, ‘रंगॊ मॆं तोरे रंगी गेलॊं हो’. एगॊ अन्य फिल्म केरॊ नाम अभी तय होना शेष छै. चारॊ फिल्म केरॊ निर्माता-निदेशक  राजीव रंजन दास केरॊ कहना छै कि नवनिर्माणाधीन अंगिका फिल्म,”ऐलै हो मिलन के बेला” जुलाई-2014 तक रिलीज होय जैतै. श्री  दास कॆ फिल्म निर्माण केरॊ क्षेत्र मॆं एक लम्बा अनुभव छै आरू फिल्म निर्माण केरॊ बारीकी के बड़ा बढ़िया समझ छै. श्री  प्रकाश झा के साथ मुख्य सहायक निर्देशक केरॊ रूप मॆं काम करी चुकलॊ  श्री राजीव रंजन दास कॆ 1993 ई. सॆं ही प्रकाश झा सथॆं काम करै के मौका मिलतॆं रहलॊ छै. हिनकॊ… Read More

नवनिर्माणाधीन अंगिका फिल्म,”ऐलै हो मिलन के बेला” जुलाई-2014 तक रिलीज होतै

मुंबई :अंगिका फिल्म निर्माता-निदेशक  राजीव रंजन दास केरॊ कहना छै कि नवनिर्माणाधीन अंगिका फिल्म,”ऐलै हो मिलन के बेला” जुलाई-2014 तक रिलीज होय जैतै. अंगिका फिल्म,”ऐलै हो मिलन के बेला” मॆं सात-सात मधुर आरू उत्कृष्ट गाना आरू गीत रहतै जेकरा मॆं अंग संस्कृति के विशिष्टता विशेष रूप सॆं परिलक्षित होतै. श्री राजीव रंजन दास के अनुसार फिल्म केरॊ ट्रैक आरू रिदम केरॊ  रेकार्डिंग 20 फरवरी सॆं मुंबई मॆं आरू गाना आरू दृश्य केरॊ शूटिंग अंग क्षेत्र केरॊ विभिन्न जगहॊ पर 6 मार्च सॆं प्रारंभ करलॊ जैतै. पूरा होला पर “ऐलै हो मिलन के बेला” कॆ  बिहार आरू झारखंड केरॊ 60-70 सिनेमा हॉल (UFO Centre) मॆं एक साथ प्रदर्शित करलॊ जैतै. ‘अंग विश्व सांई छाया’ द्वारा  चार-चार अंगिका फिल्म निर्माण के योजना छै. जेकरा मॆं प्रमुख छै – ‘ऐलै हो मिलन के बेला’, ‘जहियो नै हमरा सॆं दूर’, ‘रंगॊ मॆं तोरे रंगी गेलॊं हो’. एगॊ अन्य फिल्म केरॊ नाम अभी तय होना शेष छै. श्री प्रकाश झा के साथ मुख्य सहायक निर्देशक… Read More

Dhan Kuto Dulha Dhan Kuto Ho – Angika Song  – Album – Doliya Kahar

Dhan Kuto Dulha Dhan Kuto Ho – Angika Song – Album – Doliya Kahar

Dhan Kuto Dulha Dhan Kuto Ho – Angika Song – Album – Doliya Kahar Dhan Kuto Dulha Dhan Kuto Ho – Angika Song – Album – Doliya Kahar संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :बिहार केरऽ प्राइमरी इसकूली मं॑ माध्यम भासा के रूप…खगड़िया म॑ भ्रष्टाचार-बुहारन अंगिका कवि सम्मेलन…सरकार केरऽ अनुमति के बगैर ही चली रहलऽ छै तिलकामाँझी…अंगिका कविता कोश न॑ आयोजित करलकै पर्यावरण जागरूकता…फीफा अंडर-१७ कप फाइनल म॑ शनिचर क॑ होतै इंग्लैंड आरू…फीफा अंडर-१७ वर्ल्डकप – इंग्लैंड बनलै चैंपियन…

Angika Chhat Geet : Singer- Tripti Shakya, Trilok Priyadarshi

Angika Chhat Geet : Singer- Tripti Shakya, Trilok Priyadarshi

Angika Chhat Geet (10 Angika songs) : Singer- Tripti Shakya, Trilok Priyadarshi अंगिका छठ गीत : (दस अंगिका गीत / गाना) : तृप्ति शाक्या, त्रिलोक प्रियदर्शी 1.Angika Chhat Geet: Aragh ke ailey bahar 2. Angika Chhat Geet : Chhat je karaiya chai 3.Angika Chhat Geet : Chhat maai ke baratiya 4. Angika Chhat Geet : Chhat maiya ke pujan 5. Angika Chhat Geet : De do toy darshan 6.Angika Chhat Geet: He chaat maiya 7.Angika Chhat Geet : Jaibe hum Ganga ke tir 8.Angika Chhat Geet : Karo sab Chhat vrata 9. Angika Chhat Geet : Nadi hum Nahai chhiye 10.Angika Chhat Geet :Sugga marbo hum tora 11.Angika Chhat Geet : Ugo ho surah Deo 12. Angika Chhat Geet : Sunder Laage Chhai Chhat Maiyya ke Ghat   संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :बिहार केरऽ प्राइमरी इसकूली मं॑ माध्यम भासा के रूप…खगड़िया म॑ भ्रष्टाचार-बुहारन अंगिका कवि सम्मेलन…सरकार केरऽ अनुमति के बगैर… Read More

शोले-3D के बाद ‘शोले’ का प्रीक्वल बनाने की तैयारी

मुंबई। बॉलीवुड के मशहूर फिल्मकार-अभिनेता सतीश कौशिक ब्लॉकबस्टर फिल्म शोले का प्रीक्वल बना सकते हैं। बॉलीवुड में चर्चा है कि सतीश कौशिक शोले के प्रीक्वल के लिए जयंती लाल गाडा से बातचीत कर रहे हैं। जयंती लाल गाडा की शोले थ्रीडी 3 जनवरी को प्रदर्शित हुई है। चर्चा है कि शोले के प्रीक्वल की कहानी लेखक शांतनु धर की किताब द कंपनी रेड पर आधारित होगी। सतीश कौशिक का कहना है कि इस किताब में बताया गया है कि क्यों एक पुलिस वाला ठाकुर बलदेव सिंह बन गया। सतीश कौशिक का मानना है कि ठाकुर बलदेव सिंह का किरदार सलमान खान या अजय देवगन बेहतर तरीके से निभा सकते हैं।   1975 में प्रदर्शित शोले में ठाकुर बलदेव सिंह का किरदार संजीव कुमार ने निभाया था। रमेश सिप्पी के निर्देशन में बनी इस फिल्म में संजीव कुमार के अलावा धमेंद्र, अमिताभ बच्चन, हेमा मालिनी, जया भादुड़ी और अमजद खान ने भी मुख्य भूमिका निभाई थी। बॉलीवुड… Read More

नच बलिए का विजेता बनने के लिए गुरमीत को वोट की दरकार

नच बलिए का विजेता बनने के लिए गुरमीत को वोट की दरकार

भागलपुर : स्टार प्लस पर प्रसारित हो रहे रियलिटी शो नच बलिए का विजेता बनने के लिए भागलपुर के लाल गुरमीत चौधरी को आपके वोट की दरकार है। इसे लेकर गुरमीत ने शनिवार को दूरभाष पर दैनिक जागरण से बातचीत की। उन्होंने बताया कि वे भागलपुर जिले के जयरामपुर नवगछिया के रहने वाले हैं। बिहार के लोगों के आर्शीवाद से ही वे इस मुकाम पर पहुंचे हैं। नच बलिए के शिखर पर पहुंचाने के लिए जिले के लोग अपनी मोबाइल से टॉल फ्री नंबर 18001202309 पर डायल कर वोटिंग करें। गुरमीत चौधरी के पिता सीताराम चौधरी ने बताया गुरमीत को वोट करने के लिए वोटिंग लाइन शनिवार रात नौ बजे से सोमवार नौ बजे तक खुली रहेगी। गुरमीत के मित्र शेखर झा ने बताया कि गुरमीत को भागलपुर के लोगों के विशेष आर्शीवाद की जरूरत है। इसलिए अधिक से अधिक लोग उन्हें वोट कर विजेता बनाएं। विदित हो कि स्टार प्लस पर प्रसारित शो नच… Read More

Deepavali decorations at shopping malls reflect charms of Indian culture

Deepavali decorations at shopping malls reflect charms of Indian culture

THE magnificent peacock takes centre stage this time of the year as shopping malls around the Klang Valley get ready to welcome the festival of lights, Deepavali. Many of the malls are colourful, with lights and flowers all centred around the ever-popular peacock design. Apart from being the national bird of India, in Hinduism, the peacock is considered as a vahana or vehicle of Lord Muruga. Most of the malls have opted for the peacock kolam, a design that has always been a favourite. The kolam is a form of art designed using either rice flour, rice or sago. It is usually drawn at the entrance of Hindu homes to welcome the Hindu goddess of fortune, Lakshmi. Mesmerizing: Sunway Pyramid’s Majestic Kolam is the first floating musical kolam in Malaysia with a mixture of music and lights. Mesmerising :Sunway Pyramid’s Majestic Kolam is the first floating musical kolam in Malaysia with a mixture of music… Read More

Item numbers will neither save India nor our culture: Hema Malini

Item numbers will neither save India nor our culture: Hema Malini

Agra: Veteran actress Hema Malini, who has also mesmerised many with her classical dance performances on stage, believes that item dance songs will not save India or its culture. “Nritya was my puja. To save our culture we will need to return to classical dance forms and music. Item numbers will neither save India nor our culture. In Bollywood, nobody these days asks new actors whether they know or understand the nuances of classical music,” Hema told reporters here. She created a spiritual ambience through her dance-drama Ramayan, which was presented late Friday evening at the Pushpanjali grounds near Taj Mahal here. Hema Malini believes that item dance songs will not save India or its culture. Produced by Natya Vihar of Mumbai and directed by Hema herself, the drama had music by Ravindra Jain while Suresh Wadekar lent his voice to create a religious euphoria. The programme was organised by Sri Hari Satsang Samiti. Read… Read More

Can the buzz of mosquitoes be art?

Can the buzz of mosquitoes be art?

Two artists have harnessed the flying power of mosquitoes to create sound. Robin Meier and Ali Momeni say they wanted to create a “truce” between people and mosquitoes by allowing visitors to appreciate the beauty of the insects’ “song”. The art involves tiny microphones that amplify the sound emitted as mosquitoes flap their wings in response to an artificial tone. The pair say the process, which involves using bees’ wax to “tether” the insect to a tiny piece of wire, doesn’t harm the mosquitoes. The work, entitled Truce: Strategies for Post-Apocalyptic Computation, features as part of the Sonica 2013 programme in Glasgow from 31 October until 3 November 2013. (Source: http://www.bbc.co.uk/news/entertainment-arts-24766729) संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :भाषाः बोलियों की शक्तिसचिन तेंदुलकर केरऽ श्रेष्ठ पारियऽ प॑ कॉमिक्स केरऽ…बेगूसराय मं॑ विश्व अंगिका महासभा के कार्यो पर भेलै…सरकार केरऽ अनुमति के बगैर ही चली रहलऽ छै तिलकामाँझी…अंगिका लोकगीत – टिकवा गिरलै – Angika…शहीद निलेश… Read More

error: Content is protected !!