अंग देश

अखिल भारतीय साहित्यकार परिषद द्वारा अम्बेडकर जयन्ती के अवसर प सामाजिक कुरीति विषय प परिचर्चा व कवि गोष्ठी आयोजित

अखिल भारतीय साहित्यकार परिषद द्वारा अम्बेडकर जयन्ती के अवसर प सामाजिक कुरीति विषय प परिचर्चा व कवि गोष्ठी आयोजित

अखिल भारतीय साहित्यकार परिषद, भागलपुर द्वारा अम्बेडकर जयन्ती के अवसर प ‘सामाजिक कुरीति’ विषय प परिचर्चा व कवि गोष्ठी के भेलै आयोजन । भागलपुर ।१४ अप्रैल, २०१९। आय अखिल भारतीय साहित्यकार परिषद द्वारा डॉ. नवीन निकुंज केरौ आवास काव्यकुंज शैलवाग,अलीगज मँ अम्बेडकर जयन्ती के अवसर पर “सामाजिक कुरीति ” विषय प परिचर्चा आयोजित करलौ गेलै। जेकरा मँ कवि गोष्ठी के भी आयोजन भेलै। कार्यक्रम के उद्घघाटन हिन्दी सलाहकार समिति भारत सरकार के सदस्य श्री वीरेन्द्र कुमार यादव नँ दीप प्रज्वलित करी क करलकै। अध्यक्ष डाँ भूपेन्द्र मंडल आरू मुख्य अतिथि डॉ रमेश मोहन शर्मा आत्मविश्वास छेलै। कार्यक्रम केरौ आयोजक परिषद केरौ अध्यक्ष महेन्द्र प्रसाद निशाकर केरौ सद्यः प्रकाशित टेलिफिल्म प्रारूप “दहेज राक्षसऽ के होली जलैबै” के लोकार्पण करलौ गेलै । मंच संचालन डॉ नवीन निकुंज नँ करलकै। कवि आरू संगीतकार कपिलदेव कृपाला नँ आगंतुक मेहमानौ लेली स्वागत गीत व सरस्वती वन्दना प्रस्तुत करलकै। वीरेन्द्र यादव जी नँ अपनौ संबोधन मँ कहलकै कि वर्ष 2005 सँ… Read More

जमालपुर-भागलपुर के बीच दौड़लै पहलौ इलेक्ट्रिक इंजिन

जमालपुर-भागलपुर के बीच दौड़लै पहलौ इलेक्ट्रिक इंजिन

सुलतानगंज । जमालपुर-भागलपुर के बीच काल मंगलवार क पहलौ इलेक्ट्रिक इंजिन दौड़लै । जेकरौ रफ्तार १०० किमी प्रतिघंटा छेलै ।काल रात करीब ८:30 बजे ई इंजन जमालपुर सँ खुललै। इलेक्ट्रिक इंजन क सीएलआइ के निगरानी मँ लोको पाइलट, डी.एन.पी. साह आरू सहायक पायलट के रूप मँ अशोक कुमार चलाय रहलौ छेलै । सबकुछ ठीक-ठाक रहलै त ई महीना के अंतिम सप्ताह किउल-भागलपुर सेक्शन केरौ ९९ किलोमीटर ट्रैक प इलेक्ट्रिक इंजन सँ परिचालन शुरू भ जैतै । ट्राइल के रूपौ मँ दौड़ी रहलौ इलेक्ट्रिक इंजन के पीछू-पीछू सुरक्षा वास्तें एगो डीजल इंजिन भी भेजलौ गेलौ छेलै । संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :सूफियों के गढ़ भागलपुर में मिलीं सर्वाधिक स्वर्ण…महिंद्रा एंड महिंद्रा न॑ शुक्रवार क॑ पल्यूशन फ्री…अंगिका काव्य और कविअंगिका को अष्टम अनुसूची में शामिल करने की आनाकानी…पीरपैंती-बाराहाट कोयला परियोजना म॑ २०२० सें उत्पादन…अंगिका भाषा का साहित्यिक परिदृश्यअंग क्षेत्र के स्टेशनों में अंगिका में सूचना देने की…सरकार केरऽ अनुमति के बगैर ही चली रहलऽ… Read More

अंग सांस्कृतिक भवन भागलपुर क मॉडल ऑडिटोरियम आरू आर्ट गैलरी मँ विकसित करै के मिललै मंजूरी

अंग सांस्कृतिक भवन भागलपुर क मॉडल ऑडिटोरियम आरू आर्ट गैलरी मँ विकसित करै के मिललै मंजूरी

भागलपुर । अंग सांस्कृतिक भवन भागलपुर क मॉडल ऑडिटोरियम आरू आर्ट गैलरी के रूप मँ विकसित करै के मंजूरी मिली गेलौ छै । एकरा प दू करोड़ पनरे लाख रूपया केरौ खर्च ऐतै । बिहार राज्य भवन निर्माण निगम नँ एकरौ खाका तैयार करनै छै । अंग सांस्कृतिक भवन भागलपुर क मॉडल ऑडिटोरियम आरू आर्ट गैलरी मँ विकसित करै मँ महज एक साल के समय लगतै । जग्घौ मिलला प दोसरो ऑडिटेरियम के निर्माण भी करैलौ जैतै । संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :संस्कृत, पाली, प्राकृत, हिंदी आरू अंगिका केरऽ…फऽल एक फैदा अनेक : इमलीजाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान न॑ बिहार अंगिका…सरकारी उपेक्षा केरऽ शिकार बिहार अंगिका अकादमी केरऽ…नेपाल केरौ त्रिदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय साहित्यिक…स्थापना केरऽ साल भर बाद भी कागज प॑ ही चली रहलऽ छै…अंगिका, कोसली सहित सब्भे ३८ अनुसूचित भाषा केरौ…बिहार केरऽ प्राइमरी इसकूली मं॑ माध्यम भासा के रूप…अंग क्षेत्र के स्टेशनों में अंगिका में सूचना देने की…अंगिका भाषी सांसद अश्विनी कुमार चौबे… Read More

बलिया घाटौ प पक्की पूल निर्माण के माँग क लै क धरलौ गेलै धरना, अंगिका क प्राइमरी सँ इंटरमीडियट तलक शिक्षा के माध्यम भाषा बनाबै के माँग भी करलौ गेलै

बलिया घाटौ प पक्की पूल निर्माण के माँग क लै क धरलौ गेलै धरना, अंगिका क प्राइमरी सँ इंटरमीडियट तलक शिक्षा के माध्यम भाषा बनाबै के माँग भी करलौ गेलै

बलिया घाट (रुपौली) । पूर्णिया जिलान्तर्गत रुपौली प्रखण्डौ के बलिया घाटौ प पक्की पूलो के  निर्माण लेली काल धरना देलौ गेलै । जेकरा मँ सरकार सँ माँग करलौ गेलै कि जल्दी सँ जल्दी पक्की पुलौ के निर्माण करलौ जाय। धरना मँ स्थानीय लोगौ के अलावा अंनन्द मार्ग आरू अखिल भारतीय अंगिका साहित्य विकास समिति के ढेरे लोग शामिल रहै । धरना मँ शामिल अखिल भारतीय अंगिका साहित्य विकास समिति के नवगछिया जिलाध्यक्ष फूल कुमार अकेला के कहना छै कि पक्की पुल नै बनला के चलतें लोगौ के रोजमर्रा के जीवन कष्टप्रद रहै छै । समुचित आवागमन भी अवरूद्ध रहै छै, जेकरा चलतें ई इलाका के विकास नञ होय पाबी रहलौ छै । धरना मँ शामिल लोगें सिनी नँ आशा जतैलै छै कि सरकार ई माँग प ध्यान द क जल्दिये पक्की पुलौ के निर्माण के काम करैतै । संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :लुप्त होय रहलऽ कैथी लिपि केरऽ प्रशिक्षण कार्यक्रम… Read More

शहीद रतन कुमार ठाकुर

देश लेली हम्में अपनो आरू अपनौ छोटका बेटा के जान भी कुर्बान करै लेली तैयार छियै, शर्त एतने टा छै कि पाकिस्तान केरौ वजूद मिटना चाहिय्यौ – शहीद रतन के बाबू

भागलपुर । कश्मीर केरौ आतंकी हमला में शहीद होलौ सीआरपीएफ के जवान आरू अंग देश के सपूत रतन कुमार ठाकुर के बाबू निरंजन कुमार ठाकुर के कहना छै कि देश लेली हुनी अपनौ खुद के आरू छोटका बेटा के जान भी कुर्बान करै लेली तैयार छै । शर्त एतने टा छै कि पाकिस्तान केरौ वजूद पूरा तरह सें खतम होय जाय । शहीद के बाबू निरंजन कुमार ठाकुर के कहना छै कि शहीद रतनें अपनौ बीमार माय क बचाबै ल पानी ऐसनौ पैसा बहैने रहै । हलाँकि माय नै बचे सकलौ रहै । बेटा के शहीद होला के खबर के बाद निरंजन के भीतर अपनौ पत्नी के गुजरी जाय के गम भी जिंदा होय उठलौ छै । अपनौ माय के निधन के बाद रतनें पूरा परिवार के जिम्मेदारी अपनौ कांधा प ल लेनै छेलै । हुन्नें शहीद केरौ गर्भवती पत्नी राजनंदिनी देवी क ई बात के मलाल छै कि वू दिना वू हुनका सें भर जी  बातो नै करै सकले… Read More

अंगिका महोत्सव -२०१९ के सफल आयोजन के आशा जतैतें राज्यपाल न॑ देलकै शुभकामना

अंगिका महोत्सव -२०१९ के सफल आयोजन के आशा जतैतें राज्यपाल न॑ देलकै शुभकामना

भागलपुर । काल स॑ आयोजित होय वाला अंगिका महोत्सव-२०१९ केरऽ सफलता लेली बिहार केरऽ राज्यपाल श्री लालजी टंडन न॑ शुभकामना व्य़क्त करल॑ छै । आपनऽ शुभकामना संदेश म॑ हुनी आशा जतैन॑ छै कि ई आयोजन केरऽ माध्यम स॑ अंगदेश केरऽ जनता क॑ अपनऽ ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, कलात्मक, व साहित्यिक विरासत प॑ गौरवान्वित हुऐ के अवसर प्राप्त होतै । जेकरा स॑ कि ई क्षेत्र केरऽ लोग अपनऽ क्षेत्र केरऽ सांस्कृतिक अभ्युदय हेतु दृढ़ संकल्पित हुअ॑ सकतै । संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :Angika Languageजाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान न॑ बिहार अंगिका…क्या आज प्रधानमंत्री अंगिका को अष्टम अनुसूची में…अंगिका को अष्टम अनुसूची में शामिल करने की आनाकानी…अंगिका काव्य और कविबिहार केरऽ प्राइमरी इसकूली मं॑ माध्यम भासा के रूप…अंगिका भाषा का साहित्यिक परिदृश्यस्थापना केरऽ साल भर बाद भी कागज प॑ ही चली रहलऽ छै…सरकारी उपेक्षा केरऽ शिकार बिहार अंगिका अकादमी केरऽ…संस्कृत, पाली, प्राकृत, हिंदी आरू अंगिका केरऽ…

अंगिका महोत्सव २०१९ केरऽ प्रचार म॑ लगलऽ होर्डिंग

अंगिका महोत्सव क॑ सफल बनाबै लेली आर्थिक मदद ल॑ क॑ ऐलै अंगिका साहित्यकार आरू अंगिका प्रेमी के हुजूम

भागलपुर । अंगिका महोत्सव-२०१९ केरऽ आयोजन शुरू होय म॑ अब॑ बस दू दिना शेष छै । अंगिका महोत्सव केरऽ संयोजक श्री दयानंद जयसवाल के अनुसार  अंगिका महोत्सव क॑ सफल बनाबै लेली आरू एकरऽ आर्थिक सहयोग वास्तें अंगिका साहित्यकार आरू अंगिका प्रेमी सिनी के आगू आबै के सिलसिला अखनी तलक जारी छै । अस्सी स॑ अधिक साहित्य़कार न॑ अखनी तलुक आर्थिक मदद लेली हाथ बढ़ैन॑ छै । जोन साहित्यकार सिनी स॑ अखनी तलक सहयोग राशि प्राप्त होलऽ छै , हुनकऽ नाम  छै; डॉ. अमरेन्द्र , श्री अश्विनी प्रजावंशी , श्री त्रिलोकी नाथ दिवाकर ,डॉ. मीरा झा, श्री सुधीर प्रोगामर, डॉ. मृदुला शुक्ला, श्री रथेन्द्र विष्णु नन्हें, ई. नंदलाल सारस्वत, श्री अनिल कुमार झा, श्री अंजनी कुमार शर्मा, श्री सच्चिदानंद साह, डॉ. जयंत जलद, डॉ. जी. पी. सिंह आनन्द,  अनिरुद्ध प्रसाद विमल, श्री गंगा प्रसाद राव,  धीरज पंडित, डॉ. साकेत कुमार , सुप्रिया सिंह वीणा, दयानन्द जायसवाल, नीरज कुमार सिन्हा, श्री शिव कुमार शिव,  डॉ. बहादुर मिश्र, डॉ. विद्या रानी, श्री रंजन कुमार,  श्री हीरा प्रसाद हरेंद्र,  श्री भवानंद प्रशांत, श्री दिनेश बाबा तपन, श्रीमती मीना तिवारी , श्री महेंद्र निशाकर, श्री विकास सिंह गुलटी, श्री सुरेन्द्र… Read More

अंगिका साहित्य आरू संस्कृति केरऽ विकास म॑ योगदान लेली ४० वरिष्ठ अंगिका साहित्यकारऽ क॑ करलऽ जैतै सम्मानित

अंगिका साहित्य आरू संस्कृति केरऽ विकास म॑ योगदान लेली ४० वरिष्ठ अंगिका साहित्यकारऽ क॑ करलऽ जैतै सम्मानित

भागलपुर । आय अंगिका महोत्सव स्थल पर आयोजन संबंधी विशेष बैठक आयोजित होलै । जेकरा म॑ निर्णय होलै कि अंगिका साहित्य आरू संस्कृति केरऽ विकास म॑ योगदान लेली ४० वरिष्ठ अंगिका साहित्यकारऽ क॑  सम्मानित करलऽ जैतै । बैठक केरऽ अध्यक्षता कुल गीतकार श्री आमोद कुमार मिश्र न॑ करलकै । २ आरू ३ फ़रवरी २०१९ क॑  दिल्ली, मुम्बई, पटना, राँची, कलकत्ता, के अंगिका साहित्यकार- पत्रकार सिनी भागलपुर म॑ आयोजित होय वाला अंगिका महोत्सव म॑ जौरऽ होतै । जेकरा म॑ अंगिका भाषा केरऽ विभिन्न पहलू पहलू आरू विकास पर परिचर्चा होतै । साथ ही अंगिका नाटक, फिल्म, कविगोष्ठी केरऽ आयोजन होतै । महोत्सव म॑ अंगिका साहित्य आरू संस्कृति केरऽ विकास म॑ योगदान लेली ४० वरिष्ठ अंगिका साहित्यकारऽ क॑  सम्मानित करलऽ जैतै । संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :अंगिका भाषा का साहित्यिक परिदृश्यसर्वसम्मति स॑ आठ महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित करी क॑…क्या आज प्रधानमंत्री अंगिका को अष्टम अनुसूची में…सरकारी उपेक्षा केरऽ शिकार बिहार अंगिका अकादमी केरऽ…बिहार केरऽ प्राइमरी… Read More

दू आरू तीन फरवरी क॑ आयोजित होतै अंगिका महोत्सव -२०१९

दू आरू तीन फरवरी क॑ आयोजित होतै अंगिका महोत्सव -२०१९

भागलपुर । आगामी दू आरू तीन फरवरी क॑  अंगिका महोत्सव -२०१९ केरऽ आयोजन करलऽ जैतै । अंगिका साहित्यकार सिनी केरऽ एगो बैठक म॑ महोत्सव केरऽ तैयारी क॑ ल॑ क॑ एगो बैठक म॑ ई निर्णय लेलऽ गेलै । महोत्सव केरऽ आयोजन लेली एगो आयोजन समिति के गठन करलऽ गेलै । आयोजन समिति केरऽ संयोजक श्री दयानंद जयसवाल आरू सहायक संयोजक श्री नीरज कुमार सिन्हा क॑ बनैलऽ गेलै ।   संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :अंगिका भाषा का साहित्यिक परिदृश्यबिहार सरकार करलकै अंगिका अकादमी केरॊ गठन – अंगिका…जाह्न्वी अंगिका संस्कृति संस्थान न॑ बिहार अंगिका…सर्वसम्मति स॑ आठ महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित करी क॑…अंगिका को अष्टम अनुसूची में शामिल करने की आनाकानी…अंगिका, कोसली सहित सब्भे ३८ अनुसूचित भाषा केरौ…क्या आज प्रधानमंत्री अंगिका को अष्टम अनुसूची में…सरकारी उपेक्षा केरऽ शिकार बिहार अंगिका अकादमी केरऽ…अंगिका काव्य और कविसंस्कृत, पाली, प्राकृत, हिंदी आरू अंगिका केरऽ…

अंग-अंगिका के विकास म॑ लगलऽ संस्था सिनी मिली-जुली क॑ करतै अंगिका महोत्सव के नियमित आयोजन

अंग-अंगिका के विकास म॑ लगलऽ संस्था सिनी मिली-जुली क॑ करतै अंगिका महोत्सव के नियमित आयोजन

सुलतानगंज । अंग-अंगिका के विकास म॑ लगलऽ संस्था सिनी मिली-जुली क॑ अंगिका महोत्सव के नियमित रूप स॑ आयोजन करै प॑ विचार करी रहलऽ छै । एगो प्रेस-विज्ञप्ति जारी करी क॑ जानकारी देलऽ गेलऽ छै कि सब संस्था द्वारा मिली-जुली क॑ अंगिका महोत्सव क॑ नियमित रूप स॑ आयोजन करै प॑ विचार करै लेली आगामी २३ दिसंबर क॑ भागलपुर म॑ एगो बैठक केरऽ आयोजन करलऽ गेलऽ छै । बर्षो पहल॑ सरकारी स्तर पर अंग-महोत्सव केरऽ आयोजन होय छेलै । जेकरा स॑ अंगिका साहित्यकार, पत्रकार, कवि सिनी म॑ नयऽ ऊर्जा के संचार होय छेलै । लोग सब अंगिका के विकास लेली अधिक से अधिक सोच॑ पारै छेलै । साहित्यकारऽ सिनी के सहयोग सें ही साल २००७ ई. म॑ सैंडिस कंपाउंड म॑ शायद आखरी बार अंग-महोत्सव आयोजित होलऽ छेलै । एकरऽ बाद बहुत्ते दफा खाली प्रबुद्ध जनऽ सिनी न॑ अंगिका-महोत्सव आयोजित करै या कराबै के बात कही क॑ ताली बटोरलकै, लेकिन अखनी तलक ई संभव नै हुअ॑ पारलऽ छै… Read More

error: Content is protected !!