अंगिका

डॉ. प्रेम प्रभाकर बनलै स्नातकोत्तर अंगिका विभाग, तिलकामांझी भागलपुर विवि के नया विभागाध्यक्ष

डॉ. प्रेम प्रभाकर बनलै स्नातकोत्तर अंगिका विभाग, तिलकामांझी भागलपुर विवि के नया विभागाध्यक्ष

भागलपुर, २ जून, २०२० ।  डॉ. प्रेम प्रभाकर क स्नातकोत्तर अंगिका विभाग, तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय, भागलपुर केरौ नयौ विभागाध्यक्ष नियुक्त करलौ गेलौ छै । डॉ. प्रेम प्रभाकर जैसनौ विद्वान आरू भाषा व संस्कृति के प्रति संवेदनशील हस्ती क स्नातकोत्तर अंगिका विभाग, तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय, भागलपुर केरौ नयौ विभागाध्यक्ष नियुक्त करला सँ अंगिका भाषी जनमानस मँ  नयौ आशा के संचार होलौ छै कि अबै भागलपुर वि,वि. मँ अंगिका के भाग्य जरूर सुधरतै । डॉ. प्रेम प्रभाकर केरौ स्नातकोत्तर अंगिका विभाग, तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय, के  विभागाध्यक्ष के रूप मँ नियुक्ति सँ अंगिका भाषा के साहित्यकार सहित अंगिका प्रेमी के बीच हर्ष के माहौल व्याप्त होय गेलौ छै । विश्वविद्यालय केरौ छात्र के बीच मँ भी एगो नया उत्साह नजर आबी रहलौ छै । डॉ. प्रेम प्रभाकर खुद एगो अंगिका भाषी छेकै । हुनी हिंदी आरू अंगिका केरौ एगो संवेदनशील विद्वान आऱू अग्रणी साहित्यकार भी छेकै । हुनी भागलपुर सँ प्रकाशित होय वाला त्रैमासिक हिंदा पत्रिका, अंग चम्पा… Read More

अंगिका एगो विशिष्ट भाषा छेकै , अंगिका केरौ आपनौ एगो अलग वजूद छै- डॉ. कुमार विश्वास

अंगिका एगो विशिष्ट भाषा छेकै , अंगिका केरौ आपनौ एगो अलग वजूद छै- डॉ. कुमार विश्वास

हिन्दी केरौ लोकप्रिय कवि डॉ. कुमार विश्वास ने ट्वीट करी क भारतीय भाषा के प्रति आमजनौ के जागरूक करै लेली एगो संदेश जारी करनै छै आरू बतैने छै कि अंगिका एगो विशिष्ट भाषा छेकै, अंगिका केरौ आपनौ एगो अलग वजूद छै  । हुनी आश्चर्य व्यक्त करनै छै कि भोजपुरी-अवधी-बृज-बुंदेली-मगही-अंगिका-वज्जिका सब क एक्के भाषा मानलौ जाय छै । हुनी प्रश्न करनै छै कि  उत्तर प्रदेश-बिहार केरौ पृष्ठभूमि पर फ़िल्म आरू वेब सीरीज़ बनाबै वाला मुम्बईया लेखक क ई कैन्हें लगै छै कि भोजपुरी-अवधी-बृज-बुंदेली-मगही-अंगिका-वज्जिका सब एक्के छेकै ! ई फिल्मो मँ एक ही घर के पाँच सदस्यौ मँ स बेटा भोजपुरी मँ सवाल करै छै त बाप अवधी मँ जवाब दै छै ! हुनी निवेदन करै छै अलग-अलग वजूद वाला ई सब विशिष्ट भारतीय भाषा सब पर रहम करलौ जाय । अंग-अंगिका विकास मंच, अंगिका.कॉम,  अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच आरनि सँ जुड़लौ सैकड़ौं साहित्यकार सिनी नँ डॉ.कुमार विश्वास केरौ ट्वीट संदेश के अभिनंदन करनै छै आरू… Read More

अंगिका भाषा के पहलौ ऑनलाइन कवि सम्मेलन सफलता पूर्वक भेलै संपन्न, रचलकै नयौ इतिहास

अंगिका भाषा के पहलौ ऑनलाइन कवि सम्मेलन सफलता पूर्वक भेलै संपन्न, रचलकै नयौ इतिहास

नारायणपुर, 8 अप्रैल,2020 ।  युवा मठ, नारायणपुर केरौ तत्वधान मँ  पहलौ ऑनलाइन अंगिका कवि सम्मेलन सफलता पूर्वक आयोजित करलौ गेलै । एकरा मँ  बिहार – झारखंड केरौ विभिन्न जिला सँ  31 कवि – कवयित्री सिनी  भाग ल क ई ऐतिहासिक क्षण के गवाह बनलै । कवियौ के निशाना पर कोरोनावायरस भी रहलै । कवियो सिनी नँ  अपनौ रचना के माध्यम सँ कोरोना वायरस सँ बचै व सावधान रहै के तरीका बतैलकै । कोय घरौ मँ कैद लोगौ के पीड़ा सुनाय रहलौ छेलै ,लेकिन सलाह घरै मँ रहै के ही द रहलौ छेलै । युवा मठ के संस्थापक सह अध्यक्ष व अंगिका साहित्य मंच के पटल संचालक श्री मधुर मिलन नायक  ने बतैलकै कि अंगिका भाषा मँ ई तरह के पहलौ ऑनलाईन अंगिका कवि सम्मेलन आयोजित भेलै। सम्मिलित सब्भे कवि सिनी क श्री कमलेश्वरी मंडल स्मृति अंगिका काव्य सम्मान सँ नवाजलौ गेलै । ई प्रमाण पत्र  डिजिटल रूप मँ कवियो सिनी क देलौ गेलै। कार्यक्रम केरौ… Read More

अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी  मँ शामिल करबाबै ल मुख्यमंत्री, विधि मंत्री सँ माँग

अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ शामिल करबाबै ल मुख्यमंत्री, विधि मंत्री सँ माँग

पटना, ६ मार्च, २०२० । अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै लेली आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ शामिल करबाबै केरौ करोड़ों अंगिका भाषी केरौ मनोकांक्षा सँ अवगत करैतैं हुअय बिहार केरौ मुख्यमंत्री, विधि मंत्री क पत्र आरू अखबार केरौ कतरन सौंपी क ई कार्य क संपन्न करै के आग्रह करलौ गेलौ छै । अंगिका भाषाविद् श्री कैलाश ठाकुर नँ मुख्यमंत्री क लिखलौ अपनौ चिट्ठी मँ कहलै छै कि बिहार सँ अळग होलौ झारखंड राज्य मँ अंगिका क राज्य केरौ दोसरौ भाषा के दर्जा प्राप्त छै । वही झारखंड लोक सेवा आयोग केरौ परीक्षा लेली भी अंगिका भाषा भी अधिसूचित छै । बिहार सरकार नँ खाली बिहार अंगिका अकादमी बनाय क खानापूर्ती करी देलै छै । स्थापित होला के पाँच साल बाद भी अंगिका अकादमी खाली कागजै प चली रहलौ छै । हुनी खत मँ लिखलै छै कि अंगिका भाषा एगो प्राचीनतम भाषा छेकै, जे कि अंग लिपि मँ लिखलौ… Read More

अंगिका क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै आरू बिहार केरौ दोसरौ राजभाषा के रूपौ मँ मान्यता दिलाबै तलक जारी रहतै संघर्ष – प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ

अंगिका क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै आरू बिहार केरौ दोसरौ राजभाषा के रूपौ मँ मान्यता दिलाबै तलक जारी रहतै संघर्ष – प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ

भागलपुर, १ मार्च, २०२० । अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ दर्ज करबाबै लेली आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली, साहित्यिक-सांस्कृतिक मंच – नेपाली गीत-गोष्ठी  भागलपुर तरफौ सँ इशाकचक भागलपुर मँ प्रसिद्ध कवि आरू गीतकार श्री लक्ष्मीनारायण मधुलक्षमी केरौ अध्यक्षता मँ एगो कार्यक्रम आयोजित करलौ गेलै । साहित्यिक सांस्कृतिक मंच नेपाली गीत गोष्ठी केरौ महासचिव, श्री प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ नँ कहलकै कि अंगिका क संविधान केरौ ८मो अनुसूची आरू बिहार केरौ दोसरौ राजभाषा के रूपौ मँ मान्यता दिलाबै तलक  संघर्ष जारी रहतै । ई कार्यक्रम मँ एगो निवेदन पत्र केरौ लोकार्पण भी होलै । ई निवेदन पत्र हजारों-हजार केरौ संख्या मँ अंगिका भाषी के बीच वितरित करी क अंगिका क  ८मो अनुसूची मँ दर्ज करबाबै लेली लोगो सिनी मँ जागरूकता लानै के चेष्टा करलौ जैतै । कार्यक्रम केरौ उद्घघाटन आरू निवेदन पत्र केरौ लोकार्पण नगर विधायक अजीत शर्मा, जिला परिषद के पूर्व अध्यक्ष डॉ. शंभू दयाल खेतान, हीरा प्रसाद हरेन्द्र, ब्रजेश साह,… Read More

अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली नेपाली गीत-गोष्ठी आयोजित करतै कार्यक्रम

अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली नेपाली गीत-गोष्ठी आयोजित करतै कार्यक्रम

भागलपुर, २९, फरवरी, २०२० । अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ दर्ज करबाबै लेली आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली, नेपाली गीत-गोष्ठी (साहित्यिक-सांस्कृतिक मंच), भागलपुर तरफौ सँ काल १ मार्च, २०२० क दुपहर ३ बजे सँ भागलपुर मँ एगो कार्यक्रम आयोजित करलौ गेलौ छै । कार्यक्रम केरौ अध्यक्षता प्रसिद्ध कवि आरू गीतकार श्री लक्ष्मीनारायण मधुलक्षमी करतै । जबकि मुख्य अतिथि के रूप मँ डॉ. शंभु दयाल खेतान आरू विशिष्ट अतिथि के रूप मँ डॉ. रमेश मोहन शर्मा आत्मविश्वास व श्री सत्यनारायण प्रसाद साह मौजूद रहतै । कार्यक्रम केरौ उद्घाटन भागलपुर केरौ विधायक माननीय श्री अजीत शर्मा करतै । अंगिका.कॉम के संस्थापक संपादक श्री कुंदन अमिताभ नँ कार्यक्रम के सफलता लेली शुभकामना व्यक्त करनै छै । संबंधित अंगिका समाचार पढ़ऽ / Read similar Angika News :दू दिवसीय अंगिका महोत्सव-२०२० आय सँ तिलकामाँझी…Angika Languageआरोही जी केरौ छुट्टी, सत्येन्द्र कुमार बनलै बिहार…अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ तुरंत डाललौ…सरकार… Read More

अपनो माय भाषा अंगिका क  संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाय क संवैधानिक दर्जा दिलाबै लेली हजारों के भीड़ नँ बनैलकै मानव श्रृंखला

अपनो माय भाषा अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाय क संवैधानिक दर्जा दिलाबै लेली हजारों के भीड़ नँ बनैलकै मानव श्रृंखला

भागलपुर, २३ फरवरी, २०२० । अपनो माय भाषा अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाय क संवैधानिक दर्जा दिलाबै लेली आाय हजारों के भीड़ नँ  भागलपुर मँ जौरौ होय क मानव श्रृंखला बनैलकै । अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाबै लेली राज्य आरू केंद्र सरकार केरौ धियान आकर्षित करै लेली आरू जन जागरूकता फैलाबै लेली यहाँ मानव श्रृंखला बनाबै बास्तें आय हजारों अंगिका भाषी जोर-जनानी, विद्यार्थी, युवा सब भागलपुर केरौ सैंडिस कंपाउंड मैदान मँ जौरौ होलै । बिहार बंद के बावजूद हजारों के संख्या मँ अंग-प्रदेश केरौ कोना-कोना सँ लोगो के यहाँ जुटना ई बताबै छै कि आबै वाला समय मँ कोय भी पार्टी द्वारा अंगिका के अवहेलना करी क अंग क्षेत्र सँ चुनाव जीती जाना आसान नै होतै । अंगिका मानव श्रृंखला के खास बात ई रहलै कि एकरा मँ हर धर्म, हर राजनैतिक पार्टी आरू उर्दू, बंगाली भाषा-भाषी भी अंगिका भाषा क् संवैधानिक दर्जा दिलाबै केरौ समर्थन… Read More

अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ तुरंत डाललौ जाय : जंतर-मंतर मँ विशाल धरना व प्रदर्शन

अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ तुरंत डाललौ जाय : जंतर-मंतर मँ विशाल धरना व प्रदर्शन

मुंबई, २१ फरवरी, २०२० । अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाबै लेली २१ फरवरी क राजधानी दिल्ली केरौ जंतर-मंतर प विशाल रैली व धरना आयोजित करलौ गेलै । अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस, २१ फरवरी दिना राजधानी दिल्ली केरौ जंतर-मंतर पर  अंगिका.कॉम, अखिल भारतीय अंग अंगिका विकास मंच, आरू कैम्पेन फॉर लैंग्वेज इक्विलिटी एंड राइट्स (CLEAR) आरू भोजपुरी जनजागरण समिति केरौ संयुक्त तत्वाधान मँ अंगिका, भोजपुरी, मगही, बज्जिका, कोसली, राजस्थानी, कुरमाली भाषा सहित सीताकांत महापात्रा द्वारा अनुशंसित सब्भे 38 भारतीय भाषा क संविधान केरौ आठमौ अनुसूची मँ डलबाबै आरू संविधान सम्मत एकरो सब अधिकार दिलबाबै ल आपनौ आवाज बुलंद करै खातिर, अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस – २१ फरवरी क, भोरे १० बजे सँ जंतर-मंतर, दिल्ली मँ धरना व प्रदर्शन आयोजित भेलै। धरना क संबोधित करतें अखिल भारतीय अंग – अंगिका विकास मंच के राष्ट्रीय महसचिव, व कैम्पेन फॉर लैंग्वेज इक्विलिटी एंड राइट्स (CLEAR)-  गैर – अनुसूचित भाषा के राष्ट्रीय संयोजक, श्री कुंदन अमिताभ नँ कहलकै कि… Read More

अंगिका क ८ मो अनुसूची मँ डलबाबै लेली २१ फरवरी क राजधानी दिल्ली केरौ जंतर-मंतर प विशाल रैली व धरना

अंगिका क ८ मो अनुसूची मँ डलबाबै लेली २१ फरवरी क राजधानी दिल्ली केरौ जंतर-मंतर प विशाल रैली व धरना

मुंबई, १७ फरवरी, २०२० । अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाबै लेली २१ फरवरी क राजधानी दिल्ली केरौ जंतर-मंतर प विशाल रैली व धरना आयोजित करलौ गेलौ छै । अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस, २१ फरवरी दिना राजधानी दिल्ली केरौ जंतर-मंतर पर  अंगिका.कॉम, अखिल भारतीय अंग अंगिका विकास मंच, आरू कैम्पेन फॉर लैंग्वेज इक्विलिटी एंड राइट्स (CLEAR) केरौ संयुक्त तत्वाधान अंगिका, भोजपुरी, मगही, बज्जिका, कोसली, राजस्थानी, कुरमाली भाषा सहित सीताकांत महापात्रा द्वारा अनुशंसित सब्भे 38 भारतीय भाषा क संविधान केरौ आठमौ अनुसूची मँ डलबाबै आरू संविधान सम्मत एकरो सब अधिकार दिलबाबै ल आपनौ आवाज बुलंद करै खातिर, अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस – २१ फरवरी क, भोरे १० बजे सँ जंतर-मंतर, दिल्ली मँ , ‘दिल्ली भाषा अधिकार रैली’ के रूप मँ आयोजित छै । कुंदन अमिताभ, संस्थापक, अंगिका.कॉम, राष्ट्रीय महासचिव, अखिल भारतीय अंग अंगिका विकास मंच, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच, राष्ट्रीय संयोजक, कैम्पेन फॉर लैंग्वेज इक्विलिटी एंड राइट्स (CLEAR) नँ अंगिक भाषा भाषी सँ जादा सँ जादा संख्या… Read More

आबै वाला २३ फरवरी क प्रस्तावित अंगिका मानव श्रृंखला क सफल बनाबै क् ल् क् बैठक

आबै वाला २३ फरवरी क प्रस्तावित अंगिका मानव श्रृंखला क सफल बनाबै क् ल् क् बैठक

भागलपुर, १६ फरवरी,२०२० । दुनिया केरौ सबसँ पुरानौ भासा मँ सँ एक अंगिका भाषा क भारतीय संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै क ल् क् आबै वाला २३ फरवरी क भागलपुर केरौ सैंडिस कंपाउंड मँ दुपहर १२ बजे सँ १२:३० तलक बनै वाला मानव श्रंखला क सफल बनाबै लेली लखनलाल पाठक केरौ अध्यक्षता मँ एगो बैठक के आयोजन करलौ गेलै । हुन्ने २१ फरवरी, अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस, दिना राजधानी दिल्ली केरौ जंतर-मंतर पर  अंगिका.कॉम, अखिल भारतीय अंग अंगिका विकास मंच, आरू कैम्पेन फॉर लैंग्वेज इक्विलिटी एंड राइट्स (CLEAR) केरौ संयुक्त तत्वाधान मँ आयोजित होयवाला एकदिवसीय धरना क नैतिक समर्थन करै के निर्णय भी लेलौ गेलै । ई बीच अंगिका मानव श्रृंखला क वाजिब ठहरैतें भागलपुरो के जदयू सांसद श्री अजय मंडल नँ लोगौ सिनी सँ भारी संख्या मँ एकरा मँ शामिल होय के आग्रह करलकै । सांसद महोदय नँ एगो सवाल के जबाब मँ कहलकै कि बिहार केरौ मुख्यमंत्री, श्री नीतिश कुमार अंगिका भाषा क संविधान केरौ… Read More

error: Content is protected !!