पटना :  गत 23 जून क॑ बिहार कैबिनेट द्वारा अंगिका अकादमी केरऽ गठन के घोषणा के उपरांत गत  30 जून क॑ अंगिका अकादमी केरऽ गठन के बाद बिहार कैबिनेट केरऽ कल बुधवार 8 जुलाई केरऽ होलऽ मीटिंग मं॑ बिहार अंगिका अकादमी लेली पदऽ के सृजन पर मुहर लगी गेलै .

मुख्यमंत्री श्री नीतिश कुमार केरऽ अध्यक्षता मं॑ पटना  मं॑ आयोजित बिहार मंत्रीपरिषद  केरऽ बुधवार केरऽ होलऽ बैठक मं॑  कुल 57 एजेंडा पास होलै, जेकरा म॑ एजेंडा नं. 33 के तहत बिहार अंगिका अकादमी लेली पदऽ के सृजन लेली स्वीकृति देलऽ गेलै.

एकरऽ पहले गत 23 जून क॑ बिहार केरऽ कैबिनेट द्वारा अंगिका अकादमी केरऽ गठन क॑ मंजूरी देला के पश्चात  राज्य योजनान्तर्गत संकल्प संख्या – 15 / एम -4 – 01 /2015 -1251 द्वारा गत  30 जून क॑ अंगिका अकादमी केरऽ विधिवत गठन करलऽ गेलै .  कैबिनेट केरऽ बैठक मं॑ अंगिका अकादमी लेली तत्काल पाँच लाख रूपया टोकन स्वरूप सहायता अनुदान मंजूर भी करलऽ गेलऽ रहै.

बिहार केरऽ मुख्यमंत्री श्री नीतिश कुमार

बिहार केरऽ मुख्यमंत्री श्री नीतिश कुमार

बिहार राज्य केरऽ पंद्रह जिला केरऽ लगभग चार करोड़ अंगिका भाषी, अंगिका भाषा आन्दोलन सं जुड़लऽ साहित्यकार आरू संस्था सीनी सहित अंगिका भाषाविद केरऽ बरसंऽ पुरानऽ माँग अब॑ जाय क॑ पूरा होलऽ छै. बिहार , झारखंड आरू पश्चिम बंगाल मं॑ सब मिलाय क पाँच करोड़ स॑ भी जादा लोगऽ द्वारा अंगिका बोललऽ जाय छै. अंगिका अकादमी केरऽ गठन अंगिका भाषा क॑ संविधान केरऽ अष्टम सूची मं॑ शामिल करै के दिशा मं॑ एगऽ महत्वपूर्ण कदम मानलऽ जाय रहलऽ छै.

अंगिका अकादमी केरऽ गठन सं॑ बिहार केरऽ पंद्रह अंगिकाभाषी जिला – अररिया, कटिहार, पुर्णिया, किसनगंज, मधेपुरा, सहरसा, सुपौल, भागलपुर, बाँका, जमुई, मुंगेर, लखीसराय, बेगूसराय, शेखपुरा, खगड़िया सहित झारखंड केरऽ सात अंगिकाभाषी जिला  - साहेबगंज, गोड्डा, देवघर, पाकुड़, दुमका, गिरीडीह, जामताड़ा आरू पश्चिम बंगाल केरऽ दू अंगिकाभाषी जिला  मालदा, उत्तर दिनाजपुर  मं॑ उत्सव के माहौल व्याप्त छै.

 

Comments are closed.