उल्टा गंगा बहाबै के सार्थकता

अबरी दाफी (अंगिका कॉलम) / कुंदन अमिताभ

चाहला प॑ की नै हुअ॑ सक॑ छै ? जब॑ तनी ठो बुतरू छेलियै त॑ मामा सथ॑ सुतालगन (सुलतानगंज) जाय क॑ गंगा नहाबै के जब॑ भी मौका आबै छेलै, जरूर नहाय छेलियै । गंगा केरऽ सोहानऽ दृश्य देखी क॑ वशीभूत होय जाय छेलियै । जब॑-जब॑ दोबारा आबै के मौका मिलै छेलै  कुछ दिना पहिन॑ स॑ मऽन बस इंतजार करत॑ रहै छेलै कि वू दिना कहिय्या ऐतै । तहिय्या गंगा घाट केरऽ आसपास बनलऽ आजकऽ ऐसनऽ दुकान केरऽ भीड़-भड़क्का नै छेलै । दूर स॑ ही गंगा केरऽ अलौकिक छटा देखत॑ ऐन्हऽ लगै जेना गंगा विशालकाय होय क॑ सरंग एतना उच्चऽ होय गेलऽ रह॑ । मऽन एगो अलग तरह के उमंग म॑ गोता लगाब॑ लगै छेलै । सोचै छेलियै कि काश हमरऽ घऽर, जे कि अपेक्षाकृत उच्चऽ क्षेत्र दन्न॑ छै, आबी क॑ गंगा केरऽ धार बह॑ लगतियै ।

पहाड़ स॑ नद्दी केरऽ निकली क॑ समुंदर दन्न॑ बहना त॑ बहुत स्वाभाविक छै । लेकिन एकरऽ उल्टा कि ओतने आसान छै ? लिफ्ट सिंचाई प्रणाली स॑ ई संभव छै । आरू यह॑ प्रणाली केरऽ सहायता ल॑ क॑ गंगा क॑ अंग प्रदेश मं॑ उत्तर स॑ दक्खिन पहाड़ी क्षेत्र दन्न॑ बहाय क॑ संभव करी क॑ देखैन॑ छै बिहार सरकार न॑ । परियोजना केरऽ नाम छेकै बटेश्वर गंगा पंप नहर परियोजना ।

बटेश्वर गंगा पंप नहर परियोजना केरऽ उद्घाटन २० सितंबर क॑ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करतै । ई परियोजना केरऽ उद्घाटन होला स॑ अंग प्रदेश केरऽ भागलपुर, बाँका केरऽ अलावा पड़ोसी जिला गोड्डा केरऽ मेहरमा आरू ठाकुर गंगटी केरऽ किसानऽ तक क॑ सिंचाई केरऽ सुविधा मिलतै । बर्ष १९८० स॑ चली रहलऽ ई परियोजना बीच केरऽ बरसऽ म॑ पूरा तरह स॑ ठप्प छेलै । बर्ष २०१० स॑ फेरू स॑ काम प्रारंभ भेलै । तब॑ स॑ काम चली रहलऽ छै । ई परियोजना स॑ करीब ५० हजार हेक्टेयर भूमि म॑ सिंचाई केरऽ सुविधा मिलतै। जेकरा म॑ नौ-नौ हजार हेक्टेयर भूमि गोड्डा केरऽ मेहरमा व ठाकुरगंगटी म॑ परै छै । ई क्षेत्र म॑ गंगा केरऽ पानी खेतऽ म॑ पहुँचतै । १९८० म॑ शुरू होलऽ ई परियोजना ३८० करोड़ के छेलै, जे अब॑ ८०० करोड़ स॑ भी अधिक के लागत के होय गेलऽ छै ।

हुन्न॑ बितलऽ एतवार क॑ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी न॑ गुजरात केरऽ केवडिया कस्बा म॑ सरदार सरोवर बाँध क॑ देश केरऽ नाम समर्पित करलकै । ई काम भी उल्टऽ गंगै बहाबै के समान ही छेलै ।

पिछला ५६ साल स॑ ई परियोजना निर्माणाधीन छेलै । ई परियोजना केरऽ नींव देश केरऽ पहलऽ प्रधान मंत्री जवाहर लाल नेहरू न॑ रखन॑ छेलै । ई बाँध केरऽ मामला जोन तरह स॑ सरकार आरू परियोजना केरऽ विरोध करै वाला के बीच संशय म॑ फँसलऽ छेलै ओकरा स॑ एकरऽ कभी भी पूरा होय केरऽ संभावना नै नजर आबै छेलै । बाँध के चलते लगभग ढाई सौ गाँव के लोगऽ क॑ विस्थापित होय ल॑ परलै । विस्थापन आरू पुनर्वास केरऽ समस्या क॑ लट क॑ जे आंदोलन चललै ओकरा अंतर्राष्ट्रीय समर्थन भी मिललै । यहाँ तलक कि वर्ल्ड बैंक न॑ सहायता देना बंद करी देलकै ।

हलाँकि ई परियोजना स॑ गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, आरू राजस्थान केरऽ बीस लाख हेक्टेयर के करीब  कृषि भूमि केरऽ सिंचाई लेली पानी उपलब्ध होय जैतै । साथ ही लाखों लोगऽ लेली पियै जुकुर पानी केरऽ उपलब्धता होय जैतै । साथ ही छो हजार मेगावाट पनबिजली भी पैदा होतै । लेकिन ऐन्हऽ बड़ऽ परियोजना के चलत॑ पर्यावरण क॑ जे नुकसान पहुँचै छै ओकरा नजरअंदाज करना मुश्किल छै । साथ ही विस्थापित लोगऽ के जिंदगी प॑ भी बहुत दूरगामी नकारात्मक असर परै छै ।

गंगा क॑ उल्टा दिशा म॑ बहाना तभिये सार्थक मानलऽ जैतै जब॑ पर्यावरण केरऽ नुकसान आरू विस्थापितऽ केरऽ जिनगी केरऽ नुकसान केरऽ भरपाई सकारात्मक तरीका स॑ जल्दी स॑ जल्दी होतै ।