उत्तर कोरियाई हाइड्रोजन बम केरऽ विश्वव्यापी झटका

अबरी दाफी (अंगिका कॉलम) / कुंदन अमिताभ

ऐन्हऽ प्रतीत होय छै जे उत्तर कोरियाई हाइड्रोजन बम केरऽ विस्फोट स॑ विश्वव्यापी झटका लगलऽ छै । तीन सितंबर,२०१७ क॑ उत्तर कोरिया न॑ उन्नत स्तर के एगो हाइड्रोजन बम केरऽ परीक्षण करलकै । ई बम केरऽ शक्ति केरऽ अंदाजा ई बात स॑ लगैलऽ जाब॑ सकै छै कि एकरऽ परीक्षण के बाद परीक्षण स्थल के आसपास ६.३ तीव्रता के भूकंप के झटका महसूस करलऽ गेलै । जबकि ई झटका सुदूर जर्मनी तलक महसूस करलऽ गेलै ।  विशेषज्ञऽ के मानना छै कि ई विस्फोट दोसरऽ विश्व युद्ध में जापान के हिरोशिमा आरू नागासाकी प॑ गिरैलऽ गेलऽ एटम बमऽ स॑ पाँच स॑ सात गुना शक्तिशाली छेलै । वहीं उत्तर कोरिया केरऽ दावा छै कि ऐसनऽ बम वें अंतरमहाद्वीपीय मिसाइलऽ प॑ लगाय चुकलऽ छै, जेकरा में स॑ एक के परीक्षण वें अभी कुछ दिन पहले जापान के आर-पार दागी क॑ करल॑ छेलै । उत्तर कोरिया केरऽ दावा के अनुसार ओकरऽ अंतरमहाद्वीपीय मिसाइलऽ (Intercontinental Ballistic Missile ) के पहुँच अमेरिका तक छै ।

हाइड्रोजन बम केरऽ ई परीक्षण न॑ दुनिया के चिंता बढ़ाय देल॑ छै । जे स्वाभाविक भी छै । भारत सहित जापान, अमेरिका, उत्तर कोरिया के पड़ोसी देश सहित दुनिया भर के बहुत देशऽ न॑ एकरऽ घोर निंदा करन॑ छै । वहीं अमेरिका केरऽ राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप न॑ शुरूआती प्रतिक्रिया म॑ कहन॑ छै कि अमेरिका लेली उत्तर कोरिया केरऽ कथनी आरू करनी शत्रुतापूर्ण छै । ट्रंप न॑ ई बात के संभावना स॑ इंकार नै करन॑ छै कि निकट भविष्य मं॑ अमेरिका उत्तर कोरिया प॑ हमला कर॑ सकै छै ।अमेरिका न॑ ओकरा पर सख्त आर्थिक प्रतिबंधऽ के सूची तैयार करै के बात भी कहन॑ छै ।

हाइड्रोजन बम परमाणु बम केरऽ एक किस्म छेकै। परमाणु बम म॑ जहाँ परमाणु के टुटला ( spliting) स॑ उर्जा पैदा (विस्फोट) होय छै, वहीं हाइड्रोजन बम म॑ परमाणुवो केरऽ संलयन (fuse) स॑ उर्जा पैदा (विस्फोट) होय छै ।  सूरज म॑ भी परमाणुओ के संलयन (fuse) स॑ उर्जा पैदा होत॑ रहै छै । हाइड्रोजन बम म॑ हाइड्रोजन केरऽ समस्थानिक ड्यू टीरियम (deuterium) आरू ट्राइटिरियम के आवश्यकता पड़ै छै । हाईड्रोजन बम देखै म॑ छोटऽ हुअ॑ सकै छै लेकिन बहुत अधिक शक्तिशाली आरू  तबाही मचाबै वाला होय छै ।

उत्तर कोरिया केरऽ नाभिकीय हथियार क्षमता अब॑ सीमित पैमाना प॑ ही सही, लेकिन विश्व केरऽ पाँच सबस॑ ताकतवर देशऽ के स्तर के होय गेलऽ छै । आय वू एगो ऐसनऽ शक्ति के रूप म॑ उभरी गेलऽ छै, जेकरा प॑ केकरो कोनो वश नै चलै छै । अमेरिका पहल॑ कुछ देशऽ के साथ मिली क॑ उत्तर कोरिया पर दबाव बनाबै छेलै, लेकिन अभी ओकरऽ कोशिश उत्तर कोरिया क॑ हर तरह स॑ अलग-थलग करी दै केरऽ छेकै । अमेरिका न॑  उत्तर कोरिया केरऽ पास के इलाका में जंगी जहाज भेजलकै, यूएन म॑ ओकरऽ खिलाफ कुछ प्रस्ताव पारित करैलकै, तमाम तरह के प्रतिबंध भी लगवैलकै, लेकिन ई सब के बावजूद छोटऽ रकम के ई देश के आक्रामकता बढ़लऽ जाय रहलऽ छै ।

हाल तलक अमेरिका, चीन आरू रूस के बीच ई मामला में आम सहमति छेलै कि उत्तर कोरिया प॑ परमाणु कार्यक्रम रोकै लेली दबाब बनैलऽ रखलऽ जाय, लेकिन अखनी अमेरिका के सब सक्रियता अपनऽ खेमा के दू देश जापान आरू दक्षिण कोरिया तलक ही सीमित छै । चीन के कहना छै कि बातचीत केरऽ जरिया स॑ ही कुछ रस्ता निकाललऽ जाय, जबकि अमेरिका चाहै छै कि चीन असकल्ले ही उत्तर कोरिया प॑ दबाव बनाय क॑ ओकरा अपना परमाणु कार्यक्रम रोकै लेली तैयार कर॑ । जेकरा लेली चीन राजी ही नै छै । चीन न॑ रूस साथें मिली क॑ ई प्रस्ताव रखन॑ छै कि जों अमेरिका आरू दक्षिण कोरिया अपनऽ संयुक्त सैन्य अभ्यास रद्द कर॑, त॑ बदला में उत्तर कोरिया पर ओकरऽ सैन्य योजना सब क॑ स्थगित करै के दबाव बनैलऽ जाब॑ सकै छै । अमेरिका क॑ अपनऽ डेग पीछू खींचना मंजूर नै छै ।

जाहिर छै, अमेरिका लेली ई अहं के लड़ाय छेकै, जेकरा वू सौसे  दुनिया के लड़ाय बनाय दै ल॑ चाहै छै । जेकरा म॑ बाकी देश बेवजह जोखिम उठाय ल॑ नै चाहै छै । जहाँ तलक नाभिकीय परीक्षण केरऽ सवाल छै त॑ अमेरिका अभी ताँय १०३२ नाभिकीय परीक्षण करी क॑ ई लिस्ट मं॑ सबस॑ उपर छै । ओकरऽ बाद सोवियत संघ (७१५),  फ्रांस (२१०), ब्रिटेन (४५), चीन (४५), उत्तर कोरिया (६), भारत (३), पाकिस्तान (२) के नाम आबै छै ।

हाल केरऽ ब्रिक्स देशऽ के सम्मेलन म॑ भी पाँच सदस्य देश ब्राजील, रूस, भारत, चीन आरू दक्षिण अफ्रीका द्वारा उत्तर कोरिया केरऽ परमाणु आक्रामकता केरऽ बेकाबू होय रहलऽ मामला म॑ कोनो व्यापक पहल अपेक्षित छेलै । वहाँ बस यह॑ कहलऽ गेलै कि शांतिपूर्ण तरीका आरू बातचीत स॑ समस्या केरऽ समाधान निकाललऽ जाय । जाहिर छै कि सब क॑ लगी रहलऽ छै कि हमला या विद्रोह करी क॑ उत्तर कोरिया क॑ रस्ता पर लाना अभी संभव नै छै । साथ म॑ ई भी सब क॑ पता छै कि अमेरिका खुद आसानी स॑  बातचीत स॑ समस्या केरऽ समाधान के पक्ष म॑ नै ऐतै । ऐसनऽ म॑ निकट भविष्य मं॑ मामला के सुलझै के जगह प॑ उलझै के जादे संभावना नजर आबै छै ।