2 weeks ago
चाँद पर विक्रम लैंडर के ठेकानौ के लगलै पता, पर अखनी नै हुअय सकलौ छै संपर्क | ISRO found Vikram on surface of moon, yet to communicate | Chandrayaan 2 | News in Angika
2 weeks ago
अंगिका महोत्सव -२०२० के आयोजक समिति के भेलै गठन । Angika Mahotsav-2020 Organizing Committee Constituted| News in Angika
2 weeks ago
सुलतानगंज केरौ श्रावणी मेला मँ जमा होलौ सिक्का के गिनती सँ परेशानी के माहौल
3 weeks ago
फरवरी केरौ पहलौ सप्ताह मँ ही आयोजित होतै अंगिका महोत्सव -२०२० । Angika Mahotsav to be organised in first week of February-2020 | News in Angika
4 weeks ago
अंगिका क भारतीय संविधान केरौ आठमौ अनुसूची मँ शामिल करवावै लेली 5 दिसम्बर क जन्‍तर-मन्‍तर प धरना आरू 6 दिसम्बर क राज घाट पर आमरण-अनसन सह सत्‍याग्रह । Dharna at  Jantar Mantar on 5 December and fasting on 6 March at Raj Ghat planned to include Angika in the Eighth Schedule of the Indian Constitution  | News in Angika

दुमका :-झामुमो न॑ माँग करल॑ छै कि झारखंड म॑ संताली, मुंडारी, हो, अंगिका, कुरमाली भाषा आरनि क॑ भी द्वितीय राजभाषा केरऽ सम्मान देलऽ जाय । लगातार 39 साल स॑ दू फरवरी क॑ दुमका केरऽ गांधी मैदान में झामुमो तरफऽ सें मनैलऽ जाय वाला झारखंड स्थापना दिवस प॑ इ माँग करलऽ गेलै ।

झामुमो न॑ ई भी माँग करल॑ छै कि झारखंड क्षेत्र केरऽ सब्भे विद्यालयऽ में संताली आरू मुंडारी, हो, अंगिका, कुरमाली भाषा आरनि के पढ़ाय करैलऽ जाय ।

झामुमो तरफऽ सें आदिवासी-मूलवासी केरऽ हक-हकूक आरू सम्मान लेली टमाक क॑ भी ई बार भी परंपरागत अंदाज में बजैलऽ गेलै । शुक्रवार क॑ दुमका केरऽ एसपी कालेज सें परंपरागत तरीका सें संताल परगना केरऽ कोना-कोना सें ऐलऽ हजारों के संख्या में जनानी व पुरुष जुलूस केरऽ शक्ल में गांधी मैदान पहुंचलै त॑ गांधी मैदान केरऽ आकार कम पड़ी गेलै लेकिन ई देखी झामुमो केरऽ नेता सिनी काफी उत्साहित रहै ।

झारखंड मुक्ति मेर्चा केरऽ प्रमुख माँगऽ में शामिल छै –

– झारखंड म॑ संताली, मुंडारी, हो, अंगिका, कुरमाली भाषा आरनि क॑ भी द्वितीय राजभाषा केरऽ सम्मान देलऽ जाय ।
– झारखंड क्षेत्र केरऽ सब्भे विद्यालयऽ में संताली आरू मुंडारी, हो, अंगिका, कुरमाली भाषा आरनि के पढ़ाय करैलऽ जाय ।
– एसपीटी व सीएनटी एक्ट क॑ सख्ती सें लागू करलऽ जाय ।
– गलत ढंग सें परिभाषित स्थानीयता नीति क॑ वापस लेलऽ जाय आरू 1932 केरऽ आधार पर स्थानीयता घोषित करलऽ जाय ।
– भूमि अधिग्रहण अध्यादेश क॑ अविलंब वापस लेलऽ जाय ।
– दुमका जिला में ओबीसी आरक्षण क॑ पूर्ण रूप सें लागू करलऽ जाय ।
– पंचायत प्रतिनिधि सिनी के माध्यम सें गांमऽ के विकास सुनिश्चित करलऽ जाय ।
– तृतीय आरू चतुर्थवर्ग पदऽ पर पूर्ण रूप स॑ स्थायी निवासी जमाबंदी रैयतऽ के वंशजऽ लेली आरक्षित करलऽ जाय ।
– सिदो-कान्हु मुर्मू विवि दुमका में मेडिकल कॉलेज केरऽ स्थापना करी क॑ अविलंब पढ़ाई शुरू करलऽ जाय ।
– दुमका में अविलंब कृषि विश्वविद्यालय के स्थापना करलऽ जाय ।
– दुमका में उच्च न्यायालय खंडपीठ के स्थापना करलऽ जाय ।
– झारखंड में पूर्णरूपेण नशाबंदी लागू करलऽ जाय ।
– अल्पसंख्यक वित्त निगम केरऽ शीघ्र गठन करलऽ जाय ।
– जंगलऽ के सुरक्षा व संव‌र्द्धन करतें हुअ॑ ग्रामीणऽ के भागीदारी सुनिश्चित करलऽ जाय आरू वन प्रबंधन व संरक्षण समिति क॑ सशक्त करलऽ जाय।
– झारखंड में स्पष्ट विस्थापन और पुनर्वास नीति बनैलऽ जाय ।
– पलायन क॑ रोकै के दिशा में कारगर पहल हुअ॑ ।
– खेतऽ में सालऽ भर सिंचाई सुविधा बहाल हुअ॑ ।
– सोहराय, वंदना आरू टुसू क॑ राजकीय पर्व घोषित करलऽ जाय ।
– कोल इंडिया व डीवीसी समेत सब्भे पीएसयू कंपनी के मुख्यालय झारखंड लानलऽ जाय ।
– शहीद सिदो-कान्हु केरऽ जन्म स्थली भोगनाडीह आरू राजमहल शिवगादी मंदिर क॑ पर्यटन के रूप म॑ विकसित करलऽ जाय।
– झारखंड केरऽ सांस्कृतिक अस्मिता के रक्षा करलऽ जाय।
– रैयतऽ केरऽ खनिजऽ में मालिकाना हक मिल॑।
– संताल परगना क॑ पर्यटन केरऽ दृष्टि सें विकसित करलऽ जाय ।
– राज्य में खेल नीति लागू करलऽ जाय आरू खेल विवि के स्थापना करलऽ जाय।
– छोटऽ इकाई केरऽ पत्थर उद्योग क॑ अविलंब  चालू करलऽ जाय ।
– झारखंड में वृद्ध, विधवा व निश्शक्त पेंशन प्रतिमाह ३००० रुपया करलऽ जाय।
– जंगलऽ के सुरक्षा व संव‌र्द्धन करतें हुअ॑ ग्रामीणऽ के भागीदारी सुनिश्चित करलऽ जाय आरू ग्राम प्रबंधन व संरक्षण समिति क॑ सशक्त करलऽ जाय ।
– झारखंड में मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल के साथ सब जिला मुख्यालय केरऽ सदर अस्पताल में आईसीयू के व्यवस्था करलऽ जाय।
– साहिबगंज में खासमहल के व्यवस्था क॑ समाप्त करलऽ जाय ।
– झारखंड में हड़पलऽ गेलऽ जमीन वापस करै के विधि संगत प्रक्रिया प्रारंभ करलऽ जाय ।
– बढ़ैलऽ गेलऽ होल्डिंग टैक्स नीति क॑ वापस लेलऽ जाय।
– झारखंड केरऽ ग्राम सभा क॑ सशक्त व पारदर्शी बनेलऽ जाय तथा ग्राम प्रधान गुड़ैत के अधिकारऽ सें छेड़छाड़ बंद करलऽ जाय।
– झारखंड राज्य में स्थायी जल नीति बनैलऽ जाय।
– बढ़ैलऽ गेलऽ बिजली बिल नीति क॑ वापस लेलऽ जाय।
– साहिबगंज में जल कटाव क॑ देखतें हुअ॑ अविलंब तटबंध के निर्माण करैलऽ जाय।
– आंदोलनकारियऽ के लंबित आवेदनऽ क॑ अविलंब संपादित करलऽ जाय।
– हड़पलऽ गेलऽ जमीन वापसी करै के विधि संगत प्रक्रिया प्रारंभ करलऽ जाय।

(Source – https://www.jagran.com/jharkhand/dumka-jmm-foundation-day-17451618.html)

Comments are closed.

error: Content is protected !!