3 weeks ago
अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ शामिल करबाबै ल मुख्यमंत्री, विधि मंत्री सँ माँग
4 weeks ago
जनगणना मँ अपनौ नामौ सथें मातृभाषा के कॉलम मँ अंगिका जरूर दर्ज करैइयै : अंगिका निवेदन पत्र, नेपाली गीत गोष्ठी
4 weeks ago
अंगिका क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै आरू बिहार केरौ दोसरौ राजभाषा के रूपौ मँ मान्यता दिलाबै तलक जारी रहतै संघर्ष – प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ
4 weeks ago
अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली नेपाली गीत-गोष्ठी आयोजित करतै कार्यक्रम
1 month ago
अपनो माय भाषा अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाय क संवैधानिक दर्जा दिलाबै लेली हजारों के भीड़ नँ बनैलकै मानव श्रृंखला

भागलपुर, १ फरवरी, २०२० । अंग क्षेत्र केरौ हिरदय स्थली, पौराणिक, ऐतिहासिक व रेशमी नगर भागलपुरौ मँ आय अंगिका केरौ दू-दू ठो भव्य कार्यक्रम केरौ आयोजन करलौ गेलै ।  तिलकामाँझी क्षेत्र स्थित वृंदावन भवन केरौ सभागार मँ जहाँ दू दिवसीय अंगिका महोत्सव – २०२० केरौ शुरूआत भेलै वहीं कचहरी स्थित पेंशनर भवन मँ अंगिका दिवस समारोह के आयोजन भेलै ।

अंगिका महोत्सव – २०२० केरौ उद्घाटन  भागलपुर वि.वि. केरौ पहलकरौ कुलपति डॉ. रामाश्रय यादव आरू स्वामी आगमानंद महाराज नँ मंजूषा दीप बारी करी क करलकै । डॉ. रामाश्रय यादव नँ लोगो के आह्वान करलकै कि हुनी अंगिका विश्वविद्यालय केरौ स्थापना करै लेली आगू आबौ ।

मुख्य अतिथि के रूपौ मँ झारखंड विधान सभा मँ अंगिका भाषा मँ विधायक कार्यकाल के शपथ लै वाला आरू झारखंड मँ अंगिका क दोसरौ राजभाषा के दरजा दिलाबै मँ  सक्रिय रहलौ गोड्डा विधायक श्री अमित मंडल नँ कहलकै कि अंगिका तभिये फलतै-फूलतै जबै एकरा सँ नैका पीढ़ी जुड़लौ रहतै । हुनी कहलकै कि अंगिका अबै एगो सरकारी भाषा छेकै, एकरा जीविका के साधन भी बनना चाहिय्यौ । हुनी कहलकै कि हमरा सिनी विधायक आरू सांसद मिली क अंगिका क संविधान केरौ आठमौ अनुसूची मँ लाने के चेष्टा करबै आरू ई जरूर सफल होतै ।

महगामा केरौ पहलकरौ विधायक श्री राजेश रंजन नँ कहलकै कि जैसनौ झारखंड सरकार नँ दोसरौ राजभाषा के दरजा द क अंगिका लेली करलकै, वैसने काम बिहार सरकार क भी करना चाहिय्यौ ।

कार्यक्रम केरौ अध्यक्षता करतें श्री चन्द्रप्रकाश जगप्रिय नँ अंगिका साहित्यकार आरू विद्वानौ के साहित्य प प्रकाश डाललकै ।

कार्यक्रम  मँ अंगिका के किताबौ के प्रदर्शनी के अलावा अंगिका लोकनृत्य, अंगिका नाटक, अंगिका लघु फिल्म आदि के आयोजन भी भेलै ।

अंगिका लोकनृत्य मँ झिझिया, जट-जाटिन आरू गोदना केरौ प्रस्तुति ताल नृत्य संस्थान, भागलपुर तरफौ सँ करलौ गेलै । जबकि अंगिका नाटक मँ, बाबा विशु रावत, पोंगा पंडित, केरौ प्रस्तुति क्रमशः कला सागर सांस्कृतिक संस्थान, रंग ग्राम सांस्कृतिक संगठन, तरफौ सँ करलौ गेलै ।

अंगिका लघु फिल्म, मड़सटका भात केरौ प्रस्तुति रंग ग्राम सांस्कृतिक संगठन केरौ सौजन्य सँ करलौ गेलै ।

 

 

 

 

 

…..

Comments are closed.

error: Content is protected !!