2 months ago
उधाडीह गाँव मँ मनैलौ गेलै शौर्य चक्रधारी अंग गौरव शहीद निलेश कुमार नयन केरौ शहादत दिवस | New in Angika
2 months ago
गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड मँ जग्घौ बनाबै लेली आय 122 भाषा के गाना कार्यक्रम मँ अंगिका मँ भी गैतै पुणे केरौ मंजुश्री ओक | News in Angika
3 months ago
अंगिका भाषा क आठमौ अनुसूची मँ दर्ज कराबै लेली दिसम्बर मँ दिल्ली मँ होय वाला आन्‍दोलन क सफल बनाबै के करलौ गेलै आह्वान | News in Angika
3 months ago
अंगिका आरू हिन्दी केरौ वरिष्ठ कवि व गीतकार, कविरत्न महेन्द्र प्र.”निशाकर” “दिनकर सम्मान” सँ सम्मानित  | News in Angika Angika
3 months ago
चाँद पर विक्रम लैंडर के ठेकानौ के लगलै पता, पर अखनी नै हुअय सकलौ छै संपर्क | ISRO found Vikram on surface of moon, yet to communicate | Chandrayaan 2 | News in Angika

नई दिल्ली । अंगिका भाषा क॑ संवैधानिक मान्यता दिलाबै लेली दिल्ली स्थित “अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ” द्वारा चलैलऽ जाय रहलऽ “अंगिका जनजागरण अभियान” केरऽ गतिविधि क॑ तेज करलऽ जैतै। संघ ई अभियान “अंगिका भाषा मान्यता आंदोलन” (Angika Language Recognition Movement – ALRM) के तहत चलैतै ।

डॉ. शशिधर मेहता, राष्ट्रीय संयोजक,अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ

अंगिका.कॉम स॑ मंगलवार क॑ बातचीत करतें अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ केरऽ राष्ट्रीय संयोजक, डॉ. शशिधर मेहता न॑ बतैलकै कि संघ करोड़ों लोगऽ के मातृभाषा, अंगिका क॑ भारतीय संविधान केरऽ अष्टम अनुसूची म॑ शामिल कराबै के संवैधानिक मान्यता दिलाबै हेतु प्रतिबद्ध छै जेकरा लेली दिल्ली सहित पूरे देश म॑ गहन “अंगिका जनजागरण अभियान” केरऽ गतिविधि क॑ तेज करलऽ जैतै ।

अंगिका जागरण अभियान के तहत गाँव-गाँव जाय क॑ लोगऽ स॑ बातचीत के माध्यम स॑ अंगिका के बारे जागरूकता फैलैलऽ जैतै । ग्राम व नुक्कड़ सभा, हस्ताक्षर अभियान, चर्चा आदि केरऽ माध्यम स॑ लोगऽ क॑ ई अभियान स॑ जोड़लऽ जैतै ।

अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ केरऽ राष्ट्रीय संयोजक, डॉ. शशिधर मेहता न॑ बतैलकै कि अंगिका भाषा-भाषी म॑ स॑ एगो बड़ऽ तबका क॑ ई तलक पता नै छै कि हुनका सब के भाषा अंगिका छेकै । अंगिका क॑ हुनी सब ठेठी कही क॑ पुकारै छै । एकरऽ नाजायज फायदा मैथिली भाषा-भाषी उठाबै छै । जागरूकता अभियान केरऽ अनेक लक्ष्य म॑ स॑ एक लक्ष्य ई भी छेकै कि करोड़ों लोगऽ द्वारा बोललऽ जाय वाला अंगिका भाषा भाषी अपनऽ भाषा क॑ सम्मान के दृष्टि स॑ देख॑ लाग॑ ।

डॉ. शशिधर मेहता न॑ बतैलकै कि अंगिका क॑ संवैधानिक दर्जा देलाबै बास्तें माँग पत्र आरू शांतिपूर्ण प्रदर्शन के माध्यम सें भारत सरकार केरऽ लगातार धियान देलैलऽ जैतै ।

डॉ.  मेहता न॑ बतैलकै कि अंगिका जागरण अभियान केरऽ मूल नारा छेकै – “भीख नै करजा, अंगिका क॑ दरजा” । हुनी बतैलकै कि अंगिका जागरण अभियान क॑ तेज करै वास्तें अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ केरऽ दिल्ली के बाहर चार जगह प॑ कार्यालय खोललऽ गेलऽ छै ।

अंगिका भाषा क॑ संवैधानिक मान्यता दिलाबै लेली स्थापित  अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ  केरऽ प्रधान कार्यालय सी-७, पटेल चेस्ट फ्लैट्स, ढाका आवासीय परिसर, डॉ. मुखर्जी नगर, दिल्ली – ११०००९ (मो. – ९८७१४५८३२०, ९९६८९५३३२०, ९६५४१४२९९, ९९१०८९२४९८) म॑ स्थित छै । जबकि शाखा कार्यालय –  शर्मा निवास, जयमंगल टोला, साहू परबत्ता, भागलपुर – ८५३२०४ (मो. – ८८०९५९७५९५),  अंगलोक, पार्वती मिल, सुल्तानगंज, भागलपुर – ८१३२१३ (मो. – ९३३४९२२६७४), शांतिनगर, रूपौली, पो.- ढोलबज्जा बाजार, जिला – पुर्णिया – ८५३२०४(मो. – ७३४९८७९८९५), आरू मेहता निवास, आदर्शनगर, चौसा, मधेपुरा – ८५२२१३  (मो. – ९५७०२९९५०२) म॑ स्थित छै ।

अंगिका भाषा क॑ संवैधानिक मान्यता दिलाबै हेतु दिल्ली स्थित अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ  केरऽ “अंगिका जनजागरण अभियान” सें जुड़ै लेली उपर देलऽ गेलऽ कोय भी पता प॑ संपर्क साधलऽ जाब॑ सकै छै ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!