4 weeks ago
अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ शामिल करबाबै ल मुख्यमंत्री, विधि मंत्री सँ माँग
4 weeks ago
जनगणना मँ अपनौ नामौ सथें मातृभाषा के कॉलम मँ अंगिका जरूर दर्ज करैइयै : अंगिका निवेदन पत्र, नेपाली गीत गोष्ठी
4 weeks ago
अंगिका क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै आरू बिहार केरौ दोसरौ राजभाषा के रूपौ मँ मान्यता दिलाबै तलक जारी रहतै संघर्ष – प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ
1 month ago
अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली नेपाली गीत-गोष्ठी आयोजित करतै कार्यक्रम
1 month ago
अपनो माय भाषा अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ डलबाय क संवैधानिक दर्जा दिलाबै लेली हजारों के भीड़ नँ बनैलकै मानव श्रृंखला

नई दिल्ली । अंगिका भाषा क॑ संवैधानिक मान्यता दिलाबै लेली दिल्ली स्थित “अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ” द्वारा चलैलऽ जाय रहलऽ “अंगिका जनजागरण अभियान” केरऽ गतिविधि क॑ तेज करलऽ जैतै। संघ ई अभियान “अंगिका भाषा मान्यता आंदोलन” (Angika Language Recognition Movement – ALRM) के तहत चलैतै ।

डॉ. शशिधर मेहता, राष्ट्रीय संयोजक,अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ

अंगिका.कॉम स॑ मंगलवार क॑ बातचीत करतें अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ केरऽ राष्ट्रीय संयोजक, डॉ. शशिधर मेहता न॑ बतैलकै कि संघ करोड़ों लोगऽ के मातृभाषा, अंगिका क॑ भारतीय संविधान केरऽ अष्टम अनुसूची म॑ शामिल कराबै के संवैधानिक मान्यता दिलाबै हेतु प्रतिबद्ध छै जेकरा लेली दिल्ली सहित पूरे देश म॑ गहन “अंगिका जनजागरण अभियान” केरऽ गतिविधि क॑ तेज करलऽ जैतै ।

अंगिका जागरण अभियान के तहत गाँव-गाँव जाय क॑ लोगऽ स॑ बातचीत के माध्यम स॑ अंगिका के बारे जागरूकता फैलैलऽ जैतै । ग्राम व नुक्कड़ सभा, हस्ताक्षर अभियान, चर्चा आदि केरऽ माध्यम स॑ लोगऽ क॑ ई अभियान स॑ जोड़लऽ जैतै ।

अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ केरऽ राष्ट्रीय संयोजक, डॉ. शशिधर मेहता न॑ बतैलकै कि अंगिका भाषा-भाषी म॑ स॑ एगो बड़ऽ तबका क॑ ई तलक पता नै छै कि हुनका सब के भाषा अंगिका छेकै । अंगिका क॑ हुनी सब ठेठी कही क॑ पुकारै छै । एकरऽ नाजायज फायदा मैथिली भाषा-भाषी उठाबै छै । जागरूकता अभियान केरऽ अनेक लक्ष्य म॑ स॑ एक लक्ष्य ई भी छेकै कि करोड़ों लोगऽ द्वारा बोललऽ जाय वाला अंगिका भाषा भाषी अपनऽ भाषा क॑ सम्मान के दृष्टि स॑ देख॑ लाग॑ ।

डॉ. शशिधर मेहता न॑ बतैलकै कि अंगिका क॑ संवैधानिक दर्जा देलाबै बास्तें माँग पत्र आरू शांतिपूर्ण प्रदर्शन के माध्यम सें भारत सरकार केरऽ लगातार धियान देलैलऽ जैतै ।

डॉ.  मेहता न॑ बतैलकै कि अंगिका जागरण अभियान केरऽ मूल नारा छेकै – “भीख नै करजा, अंगिका क॑ दरजा” । हुनी बतैलकै कि अंगिका जागरण अभियान क॑ तेज करै वास्तें अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ केरऽ दिल्ली के बाहर चार जगह प॑ कार्यालय खोललऽ गेलऽ छै ।

अंगिका भाषा क॑ संवैधानिक मान्यता दिलाबै लेली स्थापित  अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ  केरऽ प्रधान कार्यालय सी-७, पटेल चेस्ट फ्लैट्स, ढाका आवासीय परिसर, डॉ. मुखर्जी नगर, दिल्ली – ११०००९ (मो. – ९८७१४५८३२०, ९९६८९५३३२०, ९६५४१४२९९, ९९१०८९२४९८) म॑ स्थित छै । जबकि शाखा कार्यालय –  शर्मा निवास, जयमंगल टोला, साहू परबत्ता, भागलपुर – ८५३२०४ (मो. – ८८०९५९७५९५),  अंगलोक, पार्वती मिल, सुल्तानगंज, भागलपुर – ८१३२१३ (मो. – ९३३४९२२६७४), शांतिनगर, रूपौली, पो.- ढोलबज्जा बाजार, जिला – पुर्णिया – ८५३२०४(मो. – ७३४९८७९८९५), आरू मेहता निवास, आदर्शनगर, चौसा, मधेपुरा – ८५२२१३  (मो. – ९५७०२९९५०२) म॑ स्थित छै ।

अंगिका भाषा क॑ संवैधानिक मान्यता दिलाबै हेतु दिल्ली स्थित अखिल भारतीय अंगिका पत्रकार एवं लेखक संघ  केरऽ “अंगिका जनजागरण अभियान” सें जुड़ै लेली उपर देलऽ गेलऽ कोय भी पता प॑ संपर्क साधलऽ जाब॑ सकै छै ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!