2 months ago
उधाडीह गाँव मँ मनैलौ गेलै शौर्य चक्रधारी अंग गौरव शहीद निलेश कुमार नयन केरौ शहादत दिवस | New in Angika
2 months ago
गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड मँ जग्घौ बनाबै लेली आय 122 भाषा के गाना कार्यक्रम मँ अंगिका मँ भी गैतै पुणे केरौ मंजुश्री ओक | News in Angika
3 months ago
अंगिका भाषा क आठमौ अनुसूची मँ दर्ज कराबै लेली दिसम्बर मँ दिल्ली मँ होय वाला आन्‍दोलन क सफल बनाबै के करलौ गेलै आह्वान | News in Angika
3 months ago
अंगिका आरू हिन्दी केरौ वरिष्ठ कवि व गीतकार, कविरत्न महेन्द्र प्र.”निशाकर” “दिनकर सम्मान” सँ सम्मानित  | News in Angika Angika
3 months ago
चाँद पर विक्रम लैंडर के ठेकानौ के लगलै पता, पर अखनी नै हुअय सकलौ छै संपर्क | ISRO found Vikram on surface of moon, yet to communicate | Chandrayaan 2 | News in Angika

गनगनिया । गत ३ दिसंबर, २०१७ ई. क॑ भागलपुर जिला केरऽ सुलतानगंज प्रखंड केरऽ गनगनिया म॑ आयोजित अंगिका काव्य महाकुंभ, अंगिका क॑ साजिशमुक्त कराय क॑ एकरऽ विकास के पथ प्रशस्त करै के आहवान् के साथ सफलतापूर्वक संपन्न भ॑ गेलै । अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच द्वारा आयोजित इ महाकुंभ म॑ देश केरऽ विभिन्न राज्यऽ स॑ ऐलऽ अंगिका केरऽ विद्वान, साहित्यकार आरू कलाकर सिनी न॑ हिस्सा ल॑ क॑ कार्यक्रम क॑ ऐतिहासिक बनाय देलकै ।[wzslider autoplay=”true”]

कुल तीन सत्र म॑ संपन्न होलऽ इ महाकुंभ म॑ दर्जन भर अंगिका आरू हिंदी केरऽ किताब केरऽ लोकार्पण करलऽ गेलै । वहीं अंगिका भाषा केरऽ एगो नया पत्रिका, ‘अंग-पतंग’ केरऽ प्रथम अंक केरऽ लोकार्पण भी करलऽ गेलै । प्रथम सत्र म॑ उद्घाटन भाषण, पुस्तक-पत्रिका लोकार्पण व साहित्यकार, कलाकार, पत्रकार आरू कार्यकर्ता सिनी क॑ विभिन्न सम्मान सें सम्मानित करलऽ गेलै । जबकि दोसरऽ सत्र म॑ सांस्कृतिक कार्यक्रम केरऽ आयोजन भेलै । वहीं  कार्यक्रम केरऽ अंतिम सत्र म॑  भव्य अंगिका कवि सम्मेलन केरऽ आयोजन भेलै ।

अंगिका काव्य महाकुंभ केरऽ उद्घाटन बिहार अंगिका अकादमी केरऽ अध्यक्ष डॉ. लखनलाल सिंह आरोही न॑ फीता काटी क॑ आरू मंचासीन अंगिका साहित्यकार सिनी के साथ दीप प्रज्वलित करी क॑ करलकै । अपनऽ उद्घाटन भाषण म॑ डॉ. आरोही न॑ कहलकै कि काव्य महाकुंभ मानवीय मूल्य जागृत करै केरऽ एगो सशक्त माध्यम छेकै ।

काव्य महाकुंभ म॑ साहित्य म॑ जीयै व मरै वाला वैसनऽ शख्सियत क॑ सम्मानित करलऽ गेलै जे अपनऽ संघर्ष स॑ अंगिका साहित्य क॑ मुकाम तलक पहुँचैल॑ छै । विभूति सिनी क॑ अंग वस्त्र, सम्मान पत्र आरू मोमेंटो प्रदान करलऽ गेलै । सथं॑ इ काव्य महाकुंभ म॑ शहीद निलेश सम्मान सें भी कईएक कवि व साहित्यकार क॑ सम्मानित करलऽ गेलै । शहीद निलेश केरऽ पिता तरूण कुमार क॑ भी अंग वस्त्र व फूलमाला सें सम्मानित करलऽ गेलै ।

काव्य महाकुंभ में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में स्कूली बच्चा-बच्ची सिनी केरऽ विभिन्न दलऽ तरफऽ सें उत्कृष्ट कार्यक्रम प्रदर्शित करलऽ गेलै । वहीं झारखंड सें ऐलऽ दल न॑ अपनऽ बेहतरीन प्रस्तुति देलकै । गायिका पूजा कुमारी, गायक कौशल कुमार न॑ अपनऽ गायन सें सबक॑ प्रभावित करलकै ।

पहलऽ दू सत्र केरऽ अध्यक्षता साथी सुरेश सूर्य करलकात । जबकि  कार्यक्रम केरऽ अंतिम सत्र म॑ देर रात क॑ कुंदन अमिताभ केरऽ अध्यक्षता में भव्य अंगिका कवि सम्मेलन आयोजित होलै ।

कवि सम्मेलन केरऽ अध्यक्षीय उदबोधन म॑ कुंदन अमिताभ न॑ कहलकै कि अंगिका सथ॑ गहरऽ साजिश रची क॑ एकरऽ विकास के मार्ग क॑ अवरूद्ध करै के प्रयास दशकों सें करलऽ जाय रहलऽ छै । एकरा सें निजात पाबै लेली अंगिका भाषा-भाषी के बीच जागरूकता फैलाबै के जरूरत छै । आमजीवन म॑ अंगिका भाषा केरऽ उपयोग बिना शर्म आरू झिझक के गर्व सें करै के जरूरत छै । अंगिका भाषा के प्रचीन विश्वव्यापी ऐतिहासिकता आरू उत्कृष्टता के बखान करतें हुअ॑ हुनी कहलकै कि करोड़ों लोगऽ द्वारा बोललऽ जाय वाला इ भाषा क॑ निहित स्वार्थवश कुछ हजार द्वारा बोललऽ जाय वाला मैथिली केरऽ उपभाषा बतैलऽ जाय रहलऽ छै । अंग क्षेत्र केरऽ लोगऽ के बीच राजनैतिक जागरूकता के अभाव छै । जबकि यहाँकरऽ नेतृत्व म॑ भाषा केरऽ विकास क॑ ल॑ क॑ दृढ़ राजनैतिक इच्छा शक्ति केरऽ अभाव छै । अंगिका केरऽ विकास लेली जरूरी छै कि आमजन आगू आब॑ आरू यहाँकरऽ नेतृत्व क॑ ई लेली बाध्य कर॑ कि अंगिका भाषा क॑ समुचित सम्मान आरू संविधान केरऽ अष्टम अनुसूची म॑ जग्घऽ दिलबैलऽ जाय ।

अंगिका कवि महाकुंभ समारोह म॑ उपस्थित अंगिका केरऽ प्रबुद्ध साहित्यकार, कलाकार, गणमान्य लोगऽ आरनी सिनी में शामिल छेलात – प्रो.(डॉ.) लखनलाल संह आरोही,  सुधीर कुमार प्रोग्रामर,भावानंद सिंह प्रशांत, मनीष कुमार गूंज, रमेश मोहन शर्मा आत्मविश्वास, डॉ. मधुसूदन झा, आमोद कुमार मिश्र, कैलाश झा किंकर,विभुरंजन,कुंदन अमिताभ,शशि आनंद अलबेला, संजीव प्रियदर्शी, हीरा प्रसाद हरेंद्र, नरेश जनप्रिय, विकास सिंह गुल्टी, प्राण मोहम प्रीतम, डॉ. श्यामसुंदर आर्य, डॉ. ब्रह्मदेव नारायण सत्यम, चंदन कुमार, साथी सुरेश सिंह, अजय कुमार,  राम प्रवेश निराला, रंजीत मंडल, अरविंद कुमार मुन्ना, दिलीप कुमार सिंह दीपक, तरूण कुमार सिंह, सदीप कपूर वक्तनाम, विनय कुमार, डॉ. के.के.मंडल , नकुल निराला, अनिल कुमार रजनीश, भानु भ्रमर, शिवानंद शर्मा,  प्रकाश चंद्र झा मतवाला, श्रवण बिहारी, दिलीप कुमार सिंह दीपक,रामनारायण स्वामी, सतीश कुमार, संतोष कुमार, रमाकांत मंडल, साथी इंद्रदेव, अनिल यायावर, राजदीप, योगेन्द्र कुमार कर्मयोगी, नरेश प्र. हरिवंशी, डॉ. अर्जुन प्र. मंडल, काली चरण मंडल, अजीत कुमार शांत, कपिलदेव कृपाला, अभय कुमार भारती, डॉ. अमर प्र. सिंह अमर, जगदीश प्र. यादव, महेश कुमार, विशेश्वर प्र. शर्मा, जयकरण कुमार सत्यार्थी, भगवान प्रलय, सुबोध मंडल, महेंद्र प्रसाद निशाकर, सुबोध मंडल जमनी, अशोक कुमार राय, धीरज पंडित, ब्रह्मदेव सिंह लोकेश, रामावतार राही, प्राणवाहन प्रीतम, रामधारी सिंह काव्यतीर्थ, डॉ. श्रीकांत प्रसाद, शंभु आर्य, शंकर शाह, रासबिहारी, कविता कुमारी,डबलू कुमार, श्वेतांबर कुमार झा, संजय कुमार झा, उदयचंद्र झा, शुभंकर, रविंद्रनाथ कुमार, सदानंद कुमार, ललित नारायण मंडल, ओमप्रकाश पासवान,  तरूण कुमार, संजय कुमार सिंह, संजीव कुमार सिंह, आरनि ।

 

Comments are closed.

error: Content is protected !!