2 months ago
COVID-19 : बाहर सँ लानलौ तरकारी व समान के उपयोग के सुरक्षित तरीका की छेकै ?
3 months ago
अंगिका भाषा क संविधान केरौ ८मो अनुसूची आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ शामिल करबाबै ल मुख्यमंत्री, विधि मंत्री सँ माँग
3 months ago
जनगणना मँ अपनौ नामौ सथें मातृभाषा के कॉलम मँ अंगिका जरूर दर्ज करैइयै : अंगिका निवेदन पत्र, नेपाली गीत गोष्ठी
3 months ago
अंगिका क संविधान केरौ ८मो अनुसूची मँ डलबाबै आरू बिहार केरौ दोसरौ राजभाषा के रूपौ मँ मान्यता दिलाबै तलक जारी रहतै संघर्ष – प्रीतम विश्वकर्मा कवियाठ
3 months ago
अंगिका क संविधान केरौ ८ मो अनुसूची मँ आरू बिहार केरौ दोसरौ राज्यभाषा के श्रेणी मँ सूचीबद्ध करबाबै लेली नेपाली गीत-गोष्ठी आयोजित करतै कार्यक्रम
अंजनी कुमार सुमन अंगिका काव्य पाठ करत॑ हुअ॑

बाँका।१६-११-२०१८। अठमाहा गांव म॑ अखिल भारतीय अंगिका साहित्य कला मंच केरऽ तत्वावधान म॑ कवि सम्मेलन आयोजित करलऽ गेलै । जेकरऽ उद्घाटन मंच केरऽ राष्ट्रीय अध्यक्ष सह तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय अंगिका विभागाध्यक्ष डॉ. मधुसूदन झा, महामंत्री हीरा प्रसाद हरेन्द्र, समाजसेवी इन्द्रजीत सिंह न॑ संयुक्त रूप स॑ दीप जलाय करी क॑ करलकै । मौका पर अंगिका के कवि विकास सिंह गुलटी केरऽ किताब ‘हमरऽ अंग देश’ के लोकार्पण करलऽ गेलै। मौका प॑ कवि विजेता मुगदलपुरी, परमानन्द प्रेमी आदि कवि न॑ विकास सिंह गुलटी के पुस्तक के प्रशंसा करतें कहलकै कि अंग प्रदेश क॑ जानै व समझै लेली हिनकऽ गीत ही काफी छै ।

सम्मेलन केरऽ दूसरे सत्र में रामावतार राही न॑ अपनऽ चुटीला अंदाज में अपनऽ रचना क॑ उपस्थित लोगऽ के बीच परोसलकै । जेकरा स॑ उपस्थित लोगऽ क॑ उनकऽ हास्य व्यंग्य सुनी क॑ हंसी केरऽ फव्बारा फुटी परलै ।

नरेश जनप्रिय, प्रकाश सेन प्रीतम, चंद्रिका ठाकुर, अंजनी सुमन, अभय कुमार सिंह, अश्विनी सोलंकी, राघवेंद्र सिंह आदि कवि न॑ अपनऽ रचना सब के प्रस्तुति पर खूब वाहवाही बटोरलकै ।

सब्भे वक्ता सिनी न॑ अंग-प्रदेश के मातृभाषा के विकास लेली लोगों स॑ अंगिका बोलै लेली प्रोत्साहित करलकै । इस मौके पर रूपेश सिंह, सागर सिंह, विकास सिंह, दिवाकर सिंह, मनोरंजन सिंह, शशिकांत सिंह, गोलू सिंह, राजकुमार सिंह, राजा, अभिषेक, बबलू सिंह, किशोर कुमार राय आदि प्रमुख रूप स॑ मौजूद छेलै ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!