राँची :एगो ऐतिहासिक घटनाक्रम म॑ अंगिका भाषा क॑ झारखंड केरऽ द्वितीय राजभाषा के दर्जा मिली गेलऽ छै । झारखंड केरऽ रघुवर दास कैबिनेट केरऽ बैठक म॑ एकरऽ घोषणा करलऽ गेलै । अंगिका भाषा क॑ झारखंड केरऽ द्वितीय राजभाषा के दर्जा मिलला स॑ देश केरऽ करोड़ों अंगिकाभाषी के बीच उत्साह के लहर व्याप्त भ॑ गेलऽ छै ।

झारखंड केरऽ रघुवर दास कैबिनेट केरऽ बैठक म॑ आय मगही, भोजपुरी, मैथिली तथा अंगिका क॑ झारखंड राज्य ककेरऽ द्वितीय भाषा घोषित करै लेली बिहार राजभाषा (झारखंड संशोधन) अध्यादेश 2018 के प्रारूप क॑ स्वीकृति द॑ देलऽ गेलै । ज्ञात छै कि एकरऽ पहिनै पूर्व झारखंड राज्य म॑ १२ भाषा – उर्दू, संथाली, मुंडारी, हो, खड़िया, कुरुख(उरांव), कुरमाली, खोरठा, नागपुरी, पंचपरगनिया, बांग्ला आरू उड़िया भाषा क॑ द्वितीय राजभाषा के दर्जा देलऽ जाय चुकलऽ छै ।

झारखंड सरकार केरऽ  ई फैसला क॑ महत्वपूर्ण आरू ऐतिहासिक बतैत॑ हुअ॑ अंगिका.कॉम केरऽ संस्थापक आरू अंगिका के विकास ल॑ समर्पित कुंदन अमिताभ न॑ झारखंड सरकार आरू करोड़ों अंगिकाभाषी क॑ बधाई देन॑ छै आरू आशा व्यक्त करल॑ छै कि बिहार सरकार भी अंगिका क॑ जल्दिये द्वितीय राजभाषा के दर्जा देतै ।

बिहार अंगिका अकादमी केरऽ अध्यक्ष डॉ. लखनलाल सिंह आरोही न॑ अपनऽ पहलऽ प्रतिक्रिया म॑ कहल॑ छै कि ई जानी क॑ बड़ी खुशी भेलै । हुनी एकरा लेली झारखंड सरकार क॑ हारदिक धन्यवाद आरू अंगिका भासी सब क॑ हारदिक बधाई देन॑ छै ।

वरिष्ठ अंगिका साहित्यकार डॉ. अमरेंद्र न॑ सब्भे अंगिकाभाषी क॑ बधाई देत॑ हुअ॑ आशा प्रकट करल॑ छै कि अंगिका अपनऽ इतिहास के पुनर्लेखन करतै । हुनी कहलकै कि अंगिका आपनो मानचित्र पर दिखे लागलो छै, बस रेखा में रंग भरै के काम बचलो छै, कि दिल्लीयो वाला देखतै ।

वरिष्ठ अंगिका साहित्यकार श्री अनिरूद्ध प्रशाद विमल न॑ एकरा प॑ हर्ष जतैत॑ कहन॑ छै कि अंगिका केरऽ बिहार फतह कहिय्या होतै ।

वरिष्ठ अंगिका साहित्यकार  व गीतकार श्री अश्विनी के कहना छै कि अंगिका क॑ द्वितीय राजभाषा के दर्जा देला स॑ पूरे अंगजनपद के लोग खुश छै आरो वर्तमान झारखंड सरकार के प्रति नतमस्तक छै। हुनी आशा व्यक्त करन॑ छै कि झारखंड के सभ्भे जुझारू साथी जे समय समय पर सरकार आरो जनप्रतिनिधि क॑ अपनऽ मांगऽ लेली जगैतैं रहलै साथें साथ हरदम कार्यक्रम के माध्यम सें सरकार रो ध्यान आकृष्ट करते रहलै,आय ई सुखद परिणाम आरू साझा सफलता बिहारो म॑ अंगिका लेली मिल के पत्थर साबित होतै।

अंगिका साहित्यकार व गजलकार श्री सुधीर कुमार प्रोग्रामर न॑ सबक॑ बधाई देत॑ हुअ॑ झारखण्ड सरकार के हार्दिक धन्यवाद देन॑ छै ।

अंगिका साहित्यकार सुजाता कुमारी के कहना छै कि खबर सुनी के मोंन हरखित होय गेलय।

ई बीच अंगिका के विकास क॑ ल॑ क॑ समर्पित श्री गौतम सुमन न॑ सुचित करल॑ छै कि  झारखंड सरकार द्वारा अंग महाजनपद केरऽ लोकभाषा अंगिका क॑ द्वितीय भाषा के दर्जा दै लेली आरू एकरऽ कैबिनेट के मंजूरी मिलला प॑  दिनांक २२ मार्च क॑ दोपहर ३ :३० बजे स्टेशन चौक भागलपुर में अंग उत्थान आन्दोलन समिति,बिहार-झारखंड हर्षाभिनंदन सह आभार सभा के आयोजन करलऽ गेलऽ छै ।

(Published on 21-3-2018 and Updated on 22-3-2018)

 

Comments are closed.

error: Content is protected !!