15 hours ago
मुख्यमंत्री नँ अररिया, किशनगंज, सहरसा, सुपौल,  पूर्णिया आरू कटिहार जिला केरौ बूहो प्रभावित इलाका के करलकै हवाई सर्वेक्षण | News in Angika | CM nitish Kumar conducted aerial survey of flood affected areas of Araria, Kishanganj and Katihar of Ang Pradesh
2 days ago
फाइनल मैच आरू सुपर ओवर टाय होला के बाद न्यूजीलैंड क हराय क इंगलैंड क्रिकेट विश्व चैंपियन | World Cup Final: NZ vs ENG | News in Angika Language | England is new Cricket World Cup Champion
7 days ago
जों समय सीमा 11 बजी क 5 मिनट क पार करी जैतै त काल न्यूजीलैंड के टीम आजको स्कोर सँ आगे खेलना शुरू करतै | विश्व कप क्रिकेट- २०१९ | IND vs NZ 1st Semifinal| World Cup Cricket – 2019
1 week ago
अंक तालिका मँ सबसँ उपर भारत, न्यूजीलैंड सँ भिड़तै सेमीफाइनल मँ | विश्व कप क्रिकेट- २०१९ | India topped the table after just one loss and a washed-out game | World Cup Cricket – 2019
1 week ago
अंगिका भाषा मँ काँवरिया क देलौ जैतै जानकारी | सुलतानगंज श्रावणी मेला – २०१९ | Information shall be delivered to Kanwaria in Angika language | Sultanganj Shravani Festival

राजगीर । बिहार केरऽ प्रसिद्ध तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय राजगीर महोत्सव राजगीर महोत्सव -२०१७ केरऽ अंतिम दिन २९ नवंबर क॑ हास्य व्यंग्य केरऽ महफिल सजलै । राज्य केरऽ विभिन्न जिला सें ऐलऽ लोकप्रिय व जनश्रुत कवि, उपस्थित श्रोता सिनी क॑ अपनऽ रचना सब सें लोटपोट करलकै ।  अंगिका, हिंदी आरू उर्दू के अलावा भोजपुरी,बज्जिका,मगही,आरू मैथिली केरऽ प्रसिद्ध कवि ई कार्यक्रम में भाग लेलकै ।angika-rajgir-2017hasyakavisammelan1

सुल्तानगंज सें ऐलऽ अंगिका केरऽ हास्य कवि हीरा प्रसाद हरेंद्र , आरू मुंगेर स॑ ऐलऽ अंगिका केरऽ हास्य कवि श्री विजेता मुद्गलपुरी  केरऽ अंगिका कविता प॑ दर्शक ठठाय क॑ हँसतें रहलै । अपनऽ प्रसिद्ध कविता ‘छरपन कक्का’ क॑ सुनाय क॑ मुंगेर केरऽ प्रसिद्ध कवि विजेता मुद्गलपुरी न॑ वर्तमान परीक्षा प्रणाली पर करारा व्यंग्य करलकै । उर्दू शायर बेनाम गिलानी न॑ भी अपनऽ कविता सें सब क॑ खूब हँसैलकै। नालंदा केरऽ हास्यकवि रंजीत दुघु न॑ भी अपनऽ कविता सें सब क हंसाय-हंसाय क॑ लोट-पोट करी देलकै । भोजपुरी शायर चम्पारण निवासी गोरख मस्ताना न॑  देश केरऽ मंहगाई प॑ गहरा व्यंग्य करलकै । साथ ही हुनी मौजूदा राजनीतिक व्यवस्था पर भी तीखा व्यंग्य करलकै आरू लोगऽ क॑ खूब हँसैलकै । एकरऽ अलावा ई कवि सम्मेलन म॑ शायद तंग अयूबी, हरिश्चन्द्र प्रियदर्शी, चितरंजन चैनपुरा, बेनाम गिलानी, विजेता मुदगलपुरी, उदयशंकर शर्मा उर्फ कलम बेशर्मी, आसिफ आजम, बेगूसराय केरऽ सचिदानंद पाठक, गया केरऽ हरेन्द्र गिरि शाह, मुजफ्फरपुर केरऽ प्रोफेसर रामबिलास, बक्सर केरऽ कुमार नयन, नवादा के कृष्ण कुमार भट्ट, शफी जानी, सुल्तानगंज केरऽ हीरा प्रसाद हरेन्द्र, जहानाबाद केरऽ सागर आनंद, सुधाकर राजेन्द्र, नालंदा केरऽ उमेश प्रसाद उमेश, तनवीर साकित सहित अन्य कवियऽ नट एक सें बढ़ी क॑ एक कविता पाठ करलकै । हॉल भर दिन ताली केरऽ गड़गड़ाहट आरू श्रोता सिनी केरऽ वाहवाही के गूँज सें गूँजतें रहलै ।

Rajgir_Mahotsav_2016-logoई प्रांतीय हास्य कवि सम्मेलन में भाग लै वाला कवियऽ में कुछ निम्न प्रकार छै –

हीरा प्रसाद हरेंद्र (सुल्तानगंज, अंगिका), विजेता मुद्गलपुरी (मुंगेर, अंगिका), हरिश्चंद्र प्रियदर्शी (नालंदा, हिंदी/उर्दू), कुमार राकेश ऋतुराज (नालंदा, हिंदी), उदय शंकर शर्मा उर्फ कलम बेशर्मी (नालंदा, मगही), अतहर हिलसवी (नालंदा,उर्दू), बेनाम गिलानी (नालंदा, उर्दू), आसिफ आजम (नालंदा उर्दू), तंग अयूबी (नालंदा, उर्दू),उमेश प्रसाद उमेश (नालंदा, मगही), रंजीत दुधु (नालंदा, मगही), तनवीर साकित (नालंदा, उर्दू), नवनीत कृष्णा (नालंदा, उर्दू/हिंदी), सुधाकर राजेंद्र (जहानाबाद, हिंदी), चितरंजन चैनपुरा (जहानाबाद, मगही), सागर आनंद (जहानाबाद, हिंदी/उर्दू),डॉ आरती कुमारी (मुजफ्फरपुर हिंदी), डॉ रामविलास (मुजफ्फरपुर, बज्जिका), उदय भारती (नवादा, मगही), श़फ़ीक जानी नादा (नवादा, उर्दू), कृष्ण कुमार भट्टा (नवादा, मगही), कुमार नयन (बक्सर, हिंदी/ उर्दू), शीन एन मुजिद (गया, उर्दू),मंजुला उपाध्याय (पूर्णिया, मैथिली), हरेंद्र गिरी शाद (गया, हिंदी/उर्दू), सच्चिदानंद पाठक (बेगूसराय हिंदी/ मैथिली) ।

angika-rajgir-2017hasyakavisammelan2

हास्य कवि सम्मेलन के उद्घाटन कार्यपालक पदाधिकारी बुलंद अख्तर, डीपीआरओ लालबाबू सिंह, जिला भूअर्जन पदाधिकारी सुबोध कुमार, डीसीएलआर प्रभात कुमार, डीएसपी संजय कुमार, हरिश्चंद्र प्रियदर्शी, मुनेश्वर प्रसाद समन, विजेता मुदगलपुरी, बेनाम गिलानी, गोरखनाथ मस्ताना, उदय भारती, डॉ. आरती कुमारी न॑ दीप प्रज्वलित करी क॑ करलकै । हास्य कवि सम्मेलन केरऽ शुरुआत नवनीत कृष्ण केरऽ सरस्वती वंदना स॑ होलै । कवि सम्मेलन केरऽ मंच संचालन हरिश्चंद्र प्रियदर्शी न॑ करलकै ।

 

Comments are closed.

error: Content is protected !!