नई दिल्ली । केंद्र सरकार न॑ एलान करल॑ छै कि अगला ५ साल म॑ ७ लाख करोड़ रुपया स॑ ८३६७७ किमी सड़क बनैलऽ जैतै । केंद्र सरकार न॑ महत्वाकांक्षी भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत ८३ हजार छऽ सौ सतहत्तर किलोमीटर केरऽ राजमार्ग परियोजना केरऽ निर्माण क॑ मंगलवार क॑ मंजूरी द॑ देलकै । कैबिनेट केरऽ बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेस करी क॑ वित्तमंत्री अरुण जेटली न॑ ई महत्वाकांक्षी परियोजना के बारे में जानकारी देलकै । ई योजना के तहत अगला पाँच साल म॑ सात लाख करोड़ रुपया खर्च करी क॑ ८३००० किलोमीटर स॑ अधिक राजमार्ग के विकास करलऽ जैतै । सरकार न॑ ई परियोजना क॑ २०२२   तक पूरा करै के लक्ष्य रखलै छै ।

angika-bharatmala-road-news-2

केंद्र सरकार केरऽ अधिकारी के अनुसार जोन राजमार्ग परियोजना सब क॑ मंजूरी देलऽ गेलऽ छै,ओकरा म॑ आर्थिक गलियारा विकास शामिल छै । एकरऽ मकसद माल ढुलाय म॑ तेजी लाना होतै । एकरऽ साथ ही प्रमुख शहरऽ के बीच तय करलऽ जाबै वाला समय म॑ भी काफी कमी ऐतै । आर्थिक गलियारा के तहत मुंबई-कोचीन-कन्याकुमारी, बेंगलुरु-मेंगलुरु, हैदराबाद-पणजी, संबलपुर-रांची केरऽ मार्ग शामिल छै । भारतमाला परियोजना के तहत कुल ४४ आर्थिक गलियारा के पहचान करलऽ गेलऽ छै ।

एकरऽ पहल॑ सरकार आर्थिक गलियारा के तहत २१ हजार किलोमीटर आरू फीडर रूट केरऽ १४ हजार किलोमीटर सड़क निर्माण केरऽ ऐलान करी चुकलऽ छै । प्रधानमंत्री कार्यालय सार्वजनिक निवेश बोर्ड के प्रोजेक्ट के तहत पहलऽ चरण के परियोजना क॑ मंजूरी के निर्देश द॑ चुकलऽ छै ।
भारतमाला परियोजना लेली २.०९ लाख करोड़ रुपया बाजार स॑, १.०६ लाख करोड़ निजी निवेशकऽ स॑ आरू २.१९ लाख करोड़ टौल आदि स॑ जुटैलऽ जैतै ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!