सुलतानगंज । साहित्य अकादमी, नई दिल्ली केरऽ बिहार के दरभंगा म॑ आयोजित कार्यक्रम म॑ अंगिका के कवि श्री सुधीर कुमार प्रोग्रामर क॑ अँगिका कवि पाठ करै लेली आमंत्रित करलऽ गेलऽ छै । अंगिका भाषा व साहित्य लेली ई एगो ऐतिहासिक क्षण छेकै । साथ ही बहुत बड़ऽ गौरव केरऽ बात भी । ई पहलऽ मौका छेकै जब॑ साहित्य अकादमी केरऽ कोनो कार्यक्रम म॑ अंगिका भाषा साहित्य क॑ शामिल करलऽ जाय रहलऽ छै । अंगिका.कॉम तरफऽ स॑ सुधीर कुमार प्रोग्रामर जी क॑ लाख-लाख बधाई । साहित्य अकादमी भी ई लेली बधाई केरऽ पात्र छै कि देर स॑ ही सही आखिरकार अंगिका भाषा केरऽ महत्व क॑ समझी क॑ एकरऽ वाजिब हक दै म॑ संकोच नै करलकै । साहित्य अकादमी स॑ अपेक्षा छै कि आपनऽ प्रकाशन मं॑ भी अंगिका भाषा व साहित्य क॑ प्रमुखता स॑ स्थान देतै ।

Sahitya_Akademi_sudheer_programmer_May_2017

साहित्य अकादमी केरऽ जोन कार्यक्रम म॑  सुधीर कुमार प्रोग्रामर के अंगिका कविता पाठ होतै ओकरऽ आयोजन १३-१४ मई, २०१७ क॑ ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा म॑ होतै । साहित्य अकादमी द्वारा “उत्तर पूर्व एवं उत्तरी लेखक सम्मिलन” नामक ई कार्यक्रम ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा केरऽ विश्वविद्यालय वाणिज्य एवं प्रबंधन विभाग साभागार मं॑ आयोजित होय रहलऽ छै ।

कार्यक्रम म॑ उद्घाटन सत्र के अलावा कुल पाँच सत्र होतै । १३ मई केरऽ दोसरऽ सत्र मं॑ सुधीर कुमार प्रोग्रामर के अंगिका कविता के पाठ होतै । कार्यक्रम म॑ अंगिका के अलावा तीन विभिन्न सत्र मं॑ असमिया, भोजपुरी, वोडो, डोगरी, हिंदी, कश्मीरी, मैथिली, नेपाली,पंजाबी, अंग्रेजी, मगही,बंगला, मणीपुरी, उर्दू , राजस्थानी, संथाली,  संस्कृत आदि भाषा म॑ भी कविता पाठ होतै । कविता पाठ सत्र केरऽ संचालन श्री अरूण कमल व श्री रामदेव झा करतै । एकरऽ अलावे एगो अलग सत्र म॑ असमिया, हिंदी व नेपाली म॑ कहानी के पाठ भी होतै ।

कार्यक्रम म॑ साहित्य अकादमी द्वारा प्रकाशित पुस्तक के प्रदर्शनी भी होतै ।

Comments are closed.