पटना. बिहार केरॊ दू सौ सॆं अधिक प्राइवेट अस्पतालॊ मॆं बीपीएल परिवारॊ के अबॆ मुफ्त मॆं इलाज होतै. राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत राज्य सरकार नॆ 29 जिला मॆं 374 अस्पतालॊ कॆ सूचीबद्ध करनॆ छै. जेकरा मॆं दू सौ अस्पताल प्राइवेट सेक्टर केरॊ छेकै. आरू प्राइवेट अस्पतालॊ कॆ इ दायरा मॆं लानै के प्रक्रिया चली रहलॊ छै. श्रम संसाधन मंत्री दुलालचंद गोस्वामी केरॊ मुताबिक राज्य केरॊ अन्य नौ जिला मॆं भी इ माह के आखिर तक स्मार्ट कार्ड बनाबै के काम शुरू करी देलॊ जैतै.

इ योजना मॆं राज्य केरॊ सब्भॆ सदर आरू मेडिकल कॉलेजॊ मॆं बीमित बीपीएल परिवारॊ के इलाज पर कोय शुल्क नै लेलॊ जाय रहलॊ छै. राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत राज्य सरकार केरॊ व्यवस्था के मुताबिक मात्र 30 रुपया के रजिस्ट्रेशन पर 30 हजार रुपया तक के इलाज मॆं कोय शुल्क नै लेलॊ जाय छै.hospital

बीमा कंपनी के प्रीमियम के राशि के भुगतान राज्य सरकार करै छै. रजिस्ट्रेशन के बाद बीमित व्यक्ति कॆ स्मार्ट कार्ड देलॊ जाय छै. जेकरॊ जरिया सॆं परिवार केरॊ पांच सदस्यॊ के इलाज मुफ्त करलॊ जाय छै. भर्ती केरॊ दौरान सब दवा भी फ्री मिलै छै. आउट पेशेंट केस (ओपीडी) मामला मॆं 75 सौ रुपये तक के बीमा छै. राज्य सरकार नॆ इ बार इलाज के दायरा भी बढ़ैनॆ छै. स्मार्ट कार्डधारी गर्भवती महिला केरॊ नवजात के इलाज पर अब कोनॊ पैसा नै लेलॊ जैतै. खून के जांच, एक्सरे, पैथोलॉजी आरू अल्ट्रासाउंड आदि जांचॊ के भी निःशुल्क सुविधा मिलतै.

मरीज जब तलक अस्पताल मॆं भर्ती रहतै, तब तलक ओकरा खाना खाय के खर्चा भी नै दै लॆ पड़तै. डिस्चार्ज के समय पांच दिना लेली सभ तरह के दवा भी संबंधित अस्पतालॊ सॆं देलॊ जैतै. फिलहाल प्रदेश के 10 जिला मॆं बीपीएल परिवारॊ कॆ सरकारी आरू प्राइवेट अस्पतालॊ मॆं इ सुविधा देलॊ जाय रहलॊ छै.

Comments are closed.