मुंबई :अंगिका फिल्म निर्माता-निदेशक  राजीव रंजन दास केरॊ कहना छै कि नवनिर्माणाधीन अंगिका फिल्म,”ऐलै हो मिलन के बेला” जुलाई-2014 तक रिलीज होय जैतै.[wzslider autoplay=”true”]

अंगिका फिल्म,”ऐलै हो मिलन के बेला” मॆं सात-सात मधुर आरू उत्कृष्ट गाना आरू गीत रहतै जेकरा मॆं अंग संस्कृति के विशिष्टता विशेष रूप सॆं परिलक्षित होतै.

श्री राजीव रंजन दास के अनुसार फिल्म केरॊ ट्रैक आरू रिदम केरॊ  रेकार्डिंग 20 फरवरी सॆं मुंबई मॆं आरू गाना आरू दृश्य केरॊ शूटिंग अंग क्षेत्र केरॊ विभिन्न जगहॊ पर 6 मार्च सॆं प्रारंभ करलॊ जैतै.

पूरा होला पर “ऐलै हो मिलन के बेला” कॆ  बिहार आरू झारखंड केरॊ 60-70 सिनेमा हॉल (UFO Centre) मॆं एक साथ प्रदर्शित करलॊ जैतै.

‘अंग विश्व सांई छाया’ द्वारा  चार-चार अंगिका फिल्म निर्माण के योजना छै. जेकरा मॆं प्रमुख छै – ‘ऐलै हो मिलन के बेला’, ‘जहियो नै हमरा सॆं दूर’, ‘रंगॊ मॆं तोरे रंगी गेलॊं हो’. एगॊ अन्य फिल्म केरॊ नाम अभी तय होना शेष छै.

श्री प्रकाश झा के साथ मुख्य सहायक निर्देशक केरॊ रूप मॆं काम करी चुकलॊ  श्री राजीव रंजन दास केरॊ सहनिर्देशित हिन्दी फिल्म मॆं प्रकाश झा केरॊ फिल्म- दीदी, बंदिश, मृत्युदंड,गंगाजल शामिल छै. जबकि एगॊ आरू फिल्म, ‘ मुंभाई द गैंगस्टर ‘ मॆं भी सहायक निर्देशक केरॊ रूप मॆं काम करी चुकलॊ छथिन.

ऐकरा सॆं पहिलॆ ‘अंग विश्व सांई छाया’ अन्तर्गत निर्मित  अंगिका फिल्म , ‘अंग-पुत्र’ पहलॆ ही सिनेमा घरॊ मॆं प्रदर्शित होय चुकलॊ छै.

 

 

 

 

Comments are closed.

error: Content is protected !!