झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने राज्य के विभिन्न स्कूलों में अलग- अलग विषयों के लिए 17000 से अधिक प्रशिक्षित स्नातक शिक्षकों की भर्ती की अधिसूचना जारी की है। इसके लिए आपके पास न्यूनतम 45 प्रतिशत अंकों के साथ कम से कम एक स्नातक की डिग्री होना जरूरी है। इसके अलावा, आपके पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से बी.एड. की डिग्री होना भी जरूरी है। आपका चयन लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाएगा। लिखित परीक्षा के दो प्रश्न पत्र होंगे। पहला पेपर हिंदी लैंग्वेज (भाषा) और सामान्य ज्ञान पर आधारित होगा जबकि दूसरा पेपर जिस विषय के लिए आप आवेदन कर रहे हैं, उस पर आधारित होगा।

झारखंड एसएससी टीजीटी परीक्षा 2017: विस्तृत पाठ्यक्रम

दो प्रश्न -पत्रों के लिए परीक्षा का आय़ोजन ऑफलाइन माध्यम से किया जाएगा, जिसमें से आपको केवल पहले पेपर में ही सफलता अर्जित करनी है, जबकि दूसरे पेपर (प्रश्न पत्र) के नंबरों को अंतिम चयन के दौरान कंसीडर किया जाएगा। पहले पेपर (प्रश्न पत्र) में आपको कम से कम कुल अंकों के 33 फीसदी अंक हासिल करने होंगे। वहीं दूसरे प्रश्न पत्र में अनारक्षित उम्मीदवारों के लिए अर्हक अंक 50% और आरक्षित श्रेणियों अर्थात अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के लिए 45% हैं। आपकी परीक्षा की तैयारी करने से पहले आइए एक नजर पाठयक्रम (सिलेबस) पर डालते हैं-

पहला प्रश्न पत्र

पहला प्रश्न पत्र 200 अंकों का होगा और इसमें 200 प्रश्न होंगे वहाँ 1 अंक प्रत्येक सवाल के लिए होगा। यह पेपर हिंदी और सामान्य ज्ञान में उम्मीदवार की नॉलेज का परीक्षण करता है। सामान्य ज्ञान (जनरल नॉलेज) और हिंदी लैंग्वेज (भाषा) के क्रमश: 100- 100 नंबर निर्धारित हैं। सामान्य ज्ञान के लिए आपके सामने निम्न विषयों से संबधित प्रश्न आ सकते हैं:

  • भारतीय इतिहास
  • भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
  • भूगोल
  • भारतीय राजनीति और भारतीय संविधान
  • अंतर्राष्ट्रीय सम्बन्ध
  • भारतीय संस्कृति
  • राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व के वर्तमान घटनाएं
  • पड़ोसी देशों के साथ-साथ झारखंड और अन्य पड़ोसी राज्यों की स्थिति पर ज्ञान
  • देश और उनकी राजधानियां
  • पुस्तक और लेखक
  • हाल के वर्षों में वैज्ञानिक विकास
  • झारखंड की राजनीतिक स्थिति
  • सामान्य विज्ञान
  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • झारखंड राज्य – इतिहास और भूगोल, आर्थिक स्थिति, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, राज्य सरकार की योजनाएं, स्थान, व्यक्तित्व, नदियों आदि का राज्य के विकास में योगदान।

हिंदी भाषा अनुभाग (सेक्शन) में दो सेक्शन होंगे जो इस प्रकार हैं:

  • हिंदी कॉमप्रिहेंसन – 50 अंक (50 प्रश्न)
  • हिंदी व्याकरण – 50 अंक (50 प्रश्न)

इस अनुभाग में अनसीन पैसेज के साथ-साथ हिंदी भाषा के व्याकरण (ग्रामर) संबंधी सवाल होंगे।

द्वितीय प्रश्न पत्र

इस प्रश्न पत्र में 150 प्रश्न होंगे और प्रत्येक प्रश्न 2 अंकों का होगा।  आपका चयन प्रश्न पत्र में आपके द्वारा पाए गए नंबरों के आधार पर किया जाएगा। प्रश्न पत्र में आने वाले सवाल उस विषय पर आधारित होंगे जिसके लिए आपने आवेदन किया है।।

हिन्दी भाषा

  • इस विषय में आपके सामने निम्न विषयों से संबंधित सवाल किए जाएंगे:
  • भाषा और वर्तमान स्थिति का विकास (विषय में  भाषा के वर्तमान युग से लेकर प्रारंभिक दिनों तक के विकास को शामिल किया जाएगा और इसी तरह हिंदी और उन भाषाओं के बीच आपसी संबंध को शामिल किया जाएगा)
  • हिंदी भाषा का इतिहास
  • हिंदी व्याकरण

अंग्रेजी भाषा

इस विषय में, निम्न विषयों पर आधारित प्रश्न होंगे:

  • 1830 से से लेकर वर्तमान तक भारत में अंग्रेजी साहित्य का विकास।
  • अंग्रेज़ी  व्याकरण।
  • विभिन्न पारंपरिक प्रकार की आधिकारिक विज्ञप्ति  और पत्र
  • कविता, गद्य और जॉन डोन्ने, विलियम शेक्सपियर, जॉर्ज हर्बर्ट, जॉन कीट्स, अर्नेस्ट, हेम्मेनिंग्वे अरुंधति रॉय, टीएस एलियट और आदि जैसे प्रसिद्ध लेखकों के नाटक

संस्कृत

इस विषय में सवाल में निम्न विषयों से किए जाएंगें:

·         संस्कृत भाषा का इतिहास

·         वर्तमान भाषा का विकास

·         भाषा का व्याकरण

·         भाषा में त्रुटि का पता लगाना

गणित और भौतिकी

भौतिकी में आपसे निम्न विषयों से संबंधित सवाल किए जाएंगे:

  • सामान्य भौतिकी
  • सापेक्षता
  • गर्मी और ऊष्मा
  • ऑप्टिक
  • करेंट  बिजली
  • विद्युत
  • परमाणु और परमाणु भौतिकी
  • इलेक्ट्रानिक्स

गणित में  आपसे निम्न विषय से सवाल पूछे जाएंगे:

  • बीजगणित
  • अंतर कलन
  • समाकलन गणित
  • त्रिकोणमिति
  • निर्देशांक ज्यामिति
  • तीन आयामों में निर्देशांक ज्यामिति

यहां भौतिकी और गणित प्रत्येक में से 75 सवाल किए जाएंगे।

जीव विज्ञान और रसायन विज्ञान: – इस प्रश्न पत्र में जीव विज्ञान, रसायन विज्ञान और वनस्पति विज्ञान में से प्रत्येक में से 50-50 सवाल पूछे जाएंगे। कुल 150 प्रश्नों में से प्रत्येक के लिए 2 अंक निर्धारित होगा। वनस्पति विज्ञान के तहत निम्न विषयों को कवर किया जाएगा

  • उदाहरण के साथ पौधों की द्विपद नामकरण
  • पौधों और सेल अंगों के कार्यों का सेल संरचना
  • संरचना और डीएनए का स्ट्रक्चर
  • संयंत्र के ऊतक, उनके कार्य और संरचना
  • पौधों में परजीवी और प्रकाश संश्लेषण पोषण
  • स्वेद
  • प्रकाश संश्लेषण और पौधों के लिए इसका महत्व
  • पौधों में पादप हार्मोन की बनावट
  • पौधों में प्रजनन
  • पर्यावरण प्रदूषण और उसके प्रकार: वायु, जल और ध्वनि प्रदूषण और नियंत्रण उपाय।

जंतु विज्ञान के लिए आपके सामने निम्न विषयों से संबंधित सवाल किए जाएंगे।

  • वर्णन  और उदाहरण के आधार पर जानवरों का वर्गीकरण
  • संरचना और जैव अणु, जैसे न्यूक्लिक एसिड, प्रोटीन, लिपिड और कार्बोहाइड्रेट की बनावट
  • पशु कोशिका विभाजन के तंत्र
  • मेंडेल का आनुवंशिकता का नियम
  • पाचन की फिजियोलॉजी
  • अंत: स्रावी ग्रंथियां और प्रजनन के संदर्भ में उनके हार्मोन
  • विकास का सिद्धांत
  • विटामिन और खनिज की कमी रोगों
  • मानव रोग
  • एक्वाकल्चर, मधुमक्खी पालन, रेशम उत्पादन और मुर्गीपालन का महत्व।

रसायन शास्त्र में आपके सामने अकार्बनिक रसायन विज्ञान, जैव रसायन विज्ञान और भौतिक रसायन विज्ञान से सवाल होंगे। पहले भाग में अकार्बनिक रसायन विज्ञान से संबंधित सवाल पूछे जाएंगे, जबकि दूसरे भाग में कार्बनिक रसायन विज्ञान और तीसरे भाग भौतिक रसायन से संबधित सवाल पूछे जाएंगे।

  • परमाण्विक संरचना
  • आवर्त सारणी
  • रासायनिक संबंध
  • समन्वय रसायन विज्ञान
  • एसिड और आधारों के विभिन्न सिद्धांत
  • ली और एस.एन के गुण, संबंध और विशेषताओं का विश्लेषण
  • यौगिकों का संकरण
  • कार्बोहाइड्रेट, एल्कोहल आदि के गुण और लक्षण
  • कार्बन टेट्रा संयोजक और अन्य तत्वों के साथ इसके संबंधों की व्याख्या
  • साबुन और सिंथेटिक डिटर्जेंट
  • ऊष्मा
  • गैसीय अवस्था के सिद्धांत
  • इलेक्ट्रो रसायन विज्ञान
  • द्विध्रुवीय मूवमेट और उसका दृढ़ संकल्प
  • उत्प्रेरक, तैयारी, शुद्धि आदि के लक्षण
  • प्रतिक्रिया की दर

इतिहास और नागरिक शास्त्र

इस प्रश्न पत्र में आपसे इतिहास और नागरिक शास्त्र दोनों में से प्रत्येक से 75 प्रश्न पूछे जाएंगे। इतिहास के पाठ्यक्रम (सिलेबस) के तहत निम्न सवाल पूछे जाएंगे

  • प्राचीन भारत का इतिहास
  • मगध और मौर्य का उदय
  • विक्रमादित्य का शासन
  • विजयनगर और बहमनी साम्राज्य का उदय
  • भारत की धरती पर अरबों के हमले
  • मुगल राज्य का उदय
  • शिवाजी और मराठा साम्राज्य का उदय
  • भारत में अंग्रेजी का शासन
  • भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन- सिपाही विद्रोह से लेकर 1947 में भारत के विभाजन तक।
  • नागरिक शास्त्र के तहत आपसे निम्न विषयों से संबधित सवाल पूछे जाएंगे:
  • राजनीति विज्ञान के सिद्धांत – व्यवहारवाद, मार्क्सवाद, गांधीवाद
  • जनतंत्र
  • राजनीतिक दल
  • जनता की राय
  • नागरिकता
  • लोक हितकारी राज्य
  • भारतीय राजनीतिक व्यवस्था और भारतीय संविधान

भूगोल

इस विषय के तहत आपसे निम्न विषयों से संबंधित सवाल पूछे जाएंगे:

  • भौतिकी भूगोल
  • भारतीय भूगोल- जलवायु से लेकर भौतिक गुण, कृषि, नदियां, खनिज,
  • झारखंड का भूगोल – वन संसाधन, भौतिक गुण
  • जापान का मत्स्य पालन
  • दुनिया की ऊर्जा संसाधन – कोयला और पनबिजली
  • दुनिया में लौह अयस्क का उत्पादन और वितरण।

अर्थशास्त्र

इस विषय पर आपसे निम्न विषयों से संबधित सवाल पूछे जाएंगे:

  • अर्थशास्त्र का सिद्धांत: जैसे- स्थूल और सूक्ष्म अर्थव्यवस्था, मांग और मूल्य-सापेक्षता, केंद्रीय बैंक के अंग, उपभोक्ता संतुलन, रिटर्न के नियम, अधिकतम सामाजिक लाभ के नियम, पैसे की अवधारणा और कार्य, कराधान और अंतरराष्ट्रीय व्यापार से तुलनात्मक रिटर्न।
  • भारतीय अर्थव्यवस्था: इसका पिछड़ेपन, वृद्धि और विकास, भारतीय कृषि, रेल कनेक्टिविटी, सार्वजनिक क्षेत्र के संगठन, एफडीआई, भारतीय जनसंख्यकीय और कल्याण कार्यक्रम, कृषि ऋण और वाणिज्यिक बैंकों, सहकारी बैंकों, नाबार्ड आदि जैसे संस्थानों की भूमिका के बीच का अंतर।

गृह विज्ञान

इस विषय में निम्न विषयों से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे

  • गृह विज्ञान का परिचय
  • बच्चों का स्वास्थ्य
  • बच्चों का पोषण
  • मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक मोर्चों पर बच्चों का विकास
  • धन और एक परिवार में इसका महत्व
  • काम का सरलीकरण
  • पोषण
  • खाद्य और भोजन की मिलावट
  • पानी
  • तैयारी भोजन की प्रक्रिया
  • खाद्य संरक्षण और संग्रह

संगीत

इस विषय में आपको निम्न विषयों से संबंधित सवालों का सामना करना होगा:

        भारतीय संगीत का इतिहास

        संगीत के विभिन्न प्रकार

        भारतीय शास्त्रीय संगीत – इसका इतिहास और विकास

        विभिन्न राग और इसकी विशेषताएं

        विभिन्न प्रसिद्ध संगीतकारों की आत्मकथाएं

        संगीत से संबंधित विभिन्न महत्वपूर्ण टर्म

व्यापार (कॉमर्स)

इस विषय पर निम्न विषयों पर आधारित सवाल होंगे:

        विभिन्न प्रकार, जैसे- स्वामित्व, साझेदारी और दूसरी प्रकार की कंपनियां।

        बैंक और उनके कार्य

        वितरण चैनल

        विभिन्न व्यवसायों से संबंधित कर

        भारत में कारखाना अधिनियम और कामगारों की मजदूरी

        व्यापार में पुस्तकों के रखरखाव

        भारत में जनसंख्या – जनसंख्या वृद्धि और इसके कारण

        भारत में धन और बेरोजगारी की समस्या

उर्दू

इस विषय में आपसे निम्न विषयों से संबंधित सवाल पूछे जाएंगे:

        भाषा में चयनित ग्रंथ- कविता, उपन्यास और नाटक

        उर्दू व्याकरण

फ़ारसी

इस विषय में  निम्न विषयों पर आधारित सवाल पूछे जाएंगे:

        भाषा का विकास और इतिहास

        भाषा का व्याकरण

        संबंधित भाषा से संबधित ग्रंथ

संथाली

इस विषय में  निम्न विषयों पर आधारित सवाल पूछे जाएंगे:

        भाषा का व्याकरण

        भाषा में चयनित ग्रंथ

        भाषा के स्थानीय साहित्य

बंगाली

इस विषय में  निम्न विषयों पर आधारित सवाल पूछे जाएंगे::

        भाषा में चयनित ग्रंथ

        भाषा का व्याकरण

उड़िया

सवाल निम्न विषयों से पूछे जाएंगे:

        चुनिंदा ग्रंथ

        भाषा का व्याकरण

हो भाषा (हो लैंग्वेज)

निम्न विषयों से संबंधित सवाल पूछे जाएंगे:

        भाषा का लोकप्रिय साहित्य

        भाषा के चयनित ग्रंथ

        भाषा का व्याकरण (ग्रामर ऑफ लैंग्वेज)

मुंदारी भाषा

इसमें निम्न विषयों पर आधारित प्रश्न पूछे जाएंगे:

        भाषा की लोकप्रिय संस्कृति

        भाषा का व्याकरण

        भाषा के चयनित ग्रंथ

कुदुख भाषा

इस विषय पर निम्न विषयों से आधारित सवाल पूछे जाएंगे-

        व्याकरण

        चुनिंदा लोकप्रिय ग्रंथ

        चुनिंदा साहित्यिक ग्रंथ

अंगिका भाषा

        लोकप्रिय साहित्य में चयनित ग्रंथ – कविता, कहानी, उपन्यास और नाटक

        साहित्यिक परंपरा में चयनित ग्रंथ

        व्याकरण – मुहावरे, कहावत इत्यादि

        लोकप्रिय संस्कृति

अन्य सभी भाषाओं के लिए, आपको सवालों का जवाब देने के लिए निम्न विषयों में तैयारी करनी चाहिए:

शारीरिक शिक्षा

इस विषय में  सवाल निम्न विषयों पर आधारित होंगे-

        अर्थ और परिभाषा

        शारीरिक पहलू

        मनोवैज्ञानिक पहलू

        शारीरिक स्वास्थ्य और स्वस्थता

        समकालीन स्वास्थ्य समस्याएं

        पारिवारिक स्वास्थ्य और मुद्दे

        सामान्य खेलों से होने वाली चोटों की रोकथाम

कृषि

इस विषय में निम्न विषयों से संबंधित सवाल पूछे जाएंगे-

        पारिस्थितिकी और इसका महत्व

        कृषि उत्पादकता

        उपज और फसल पैटर्न

        भारत में डेयरी विकास

        मृदा अपरदन

        शुष्क भूमि कृषि

        सिंचाई

        कृषि अर्थव्यवस्था में सहकारी समितियों की भूमिका

        कृषि मूल्य निर्धारण

        आनुवंशिक संसाधन

        खाद्य अनाज उत्पादकता

        भारत में खाद्यान्न का उत्पादन, खरीद और इसका वितरण

        भारत में सार्वजनिक वितरण प्रणाली और लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली

        भारत में खाद्य खपत का रुझान

इस आर्टिकल में उल्लेखित पाठ्यक्रम (सिलेबस) की प्रकृति केवल सांकेतिक है और विस्तृत पाठ्यक्रम के लिए आप सरकारी विज्ञापन का सहारा ले सकते हैं। कुछ विषयों के लिए आपको अधिसूचना में अच्छी पुस्तकों के नाम भी मिल सकते हैं। शुरूआत से ही सिलेबस की तैयारी करें क्योंकि यह काफी बड़ा है और आपको इसके लिए सर्वश्रेष्ठ तैयारी करने की आवश्यकता है।

(Main Input Reference : http://www.jagranjosh.com/articles/jssc-tgt-exam-2017-a-complete-guide-to-syllabus-1487064387-2 पर आधारित )

Comments are closed.

error: Content is protected !!