बौंसी (बाँका) । अंगिका कविता कोश केरऽ दू बरस पूरा होला प॑ बौंसी म॑ अंगिका कवि सम्मेलन केरऽ आयोजन होलै । अंगिका केरऽ साहित्यकार जौरऽ होय क॑ बौंसी म॑ जश्न मनैलकै ।

अपनऽ संबोधन म॑ रत्नेश्वर चौधरी न॑ कहलकै कि ललित कुमार आरू कविता कोश न॑ अंगिका साहित्य क॑ नया आकाश प्रदान करल॑ छै । हुनी राहुल शिवाय जैसनऽ युवा क॑ अंगिका केरऽ संवाहक कहलकै ।

मुख्य अतिथि केरऽ रूप म॑ अनिरूद्ध प्रसाद विमल न॑ अंगिका कविता के पाठ करलकै । सुप्रिया सिंह वीणा न॑ गजल सुनैलकै । हीरालाल हरेंद्र न॑ अपनऽ कविता सें सबक॑ हँसी सें सराबोर करी देलकै । सुधीर कुमार प्रोग्रामर, मनीष कुमार गूँज, डॉ. ओम प्रकाश मिश्र, उमाकांत प्रेम, डॉ. प्रदीप प्रभात, प्रकाश सेन प्रीतम, नरेश जनप्रिय, उचितलाल यादव, अनिता मिश्रा आरनि कवि न॑ अपनऽ कविता सें सब कट झूमाय देलकै ।

कार्यक्रम केरऽ अध्यक्षता कवि अनूप न॑ आरू संचालन सुधीर कुमार प्रोग्रामर न॑ करलकै । कार्यकऽम केरऽ आरंभ दीप प्रज्वलित करी क॑ करलऽ गेलै ।

Comments are closed.

error: Content is protected !!